ताले बनाने वाले जिले में बनेंगे आधुनिक हथियार, सीएम योगी की अगुवाई में यूपी निवेशकों की पहली पसंद बना

अलीगढ़ में बोले पीएम नरेंद्र मोदी: ताले बनाने वाले जिले में बनेंगे आधुनिक हथियार, सीएम योगी की अगुवाई में यूपी निवेशकों की पहली पसंद बना

ताले बनाने वाले जिले में बनेंगे आधुनिक हथियार, सीएम योगी की अगुवाई में यूपी निवेशकों की पहली पसंद बना

Google Image | पीएम नरेंद्र मोदी

ताले बनाने वाले जिले में बनेंगे आधुनिक हथियार, सीएम योगी की अगुवाई में यूपी निवेशकों की पहली पसंद बना
  • अलीगढ़ में रक्षा उत्पादन से जुड़ी डेढ़ दर्जन कंपनियां सैकड़ों करोड़ रुपये के निवेश से हजारों नए रोजगार बनाने वाली हैं
  • कल तक जो अलीगढ़ तालों के जरिए घरों, दुकानों की रक्षा करता था, वो 21वीं सदी में हिंदुस्तान की सीमाओं की रक्षा करने का काम करेगा
  • भारत की आजादी में राजा महेन्द्र प्रताप सिंह को नमन करने का यह पावन अवसर है
  • योगी जी की सरकार पूरी ईमानदारी से यूपी के विकास में जुटी हुई है
  • यूपी में बीते चार सालों में एमएसपी पर अनाज की रिकॉर्ड खरीदारी हुई है
Uttar Pradesh: उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ में महाराजा महेंद्र प्रताप सिंह विश्वविद्यालय और यूपी डिफेंस इंडस्ट्रियल कॉरिडोर के अलीगढ़ नोढ की नींव रखने पहुंचे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राज्य सरकार की जमकर सराहना की। उन्होंने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की मजबूत इच्छाशक्ति की तारीफ करते हुए कहा कि उनके नेतृत्व में प्रदेश विकास के नए आयाम रच रहा है। यहां रोजगार और निवेश के नए अवसर पैदा हो रहे हैं। व्यवसायियों के साथ-साथ जनता का भी विश्वास सरकार में लौटा है। सूबे में कानून-व्यवस्था दुरुस्त है। प्रदेश तरक्की की राह पर अग्रसर है। प्रधानमंत्री अलीगढ़ में यूनिवर्सिटी शिलान्यास कार्यक्रम के संबोधन के दौरान यह बातें कह रहे थे। 

इस मौके पर उनके साथ राज्यपाल आनंदीबेन पटेल, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ समेत पार्टी के सभी वरिष्ठ नेता मौजूद रहे। प्रधानमंत्री ने कहा, आज उत्तर प्रदेश देश-दुनिया के हर छोटे-बड़े निवेशक के लिए बहुत आकर्षक स्थान बनता जा रहा है। यह तब होता है जब निवेश के लिए ज़रूरी माहौल बनता है और ज़रूरी सुविधाएं मिलती हैं। आज उत्तर प्रदेश डबल इंजन सरकार के डबल लाभ का एक बहुत बड़ा उदाहरण बन रहा है। देश ही नहीं, दुनिया भी देख रही है कि आधुनिक ग्रेनेड और राइफल से लेकर लड़ाकू विमान, ड्रोन, युद्धपोत भारत में निर्मित हो रहे हैं। भारत दुनिया के एक बड़े रक्षा आयातक की छवि से बाहर निकलकर दुनिया के एक अहम रक्षा निर्यातक की छवि बनाने की तरफ़ बढ़ रहा है।

सुरक्षा उपकरण अलीगढ़ में बनेंगे
अलीगढ़ की महत्ता का उल्लेख करते हुए पीएम ने कहा, अलीगढ़ में ही रक्षा उत्पादन से जुड़ी डेढ़ दर्जन कंपनियां सैकड़ों करोड़ रुपये के निवेश से हजारों नए रोजगार बनाने वाली हैं। अलीगढ़ नोड में छोटे हथियार, आयुध, ड्रोन, एयरोस्पेस, मैटर कंपोनेंट्स, एंटी ड्रोन सिस्टम जैसे उत्पाद बन सकें, इसके लिए नए उद्योग लगाए जा रहे हैं। कल तक जो अलीगढ़ तालों के जरिए घरों, दुकानों की रक्षा करता था, वो 21वीं सदी में हिंदुस्तान की सीमाओं की रक्षा करने का काम करेगा। वन डिस्ट्रिक, वन प्रोडक्ट के माध्यम से यूपी सरकार ने अलीगढ़ के तालों और हार्डवेयर को एक नई पहचान दिलाने का काम किया है।

नमन करने का यह पावन अवसर है
प्रधानमंत्री ने आगे कहा, आज जिस विश्वविद्यालय का शिलान्यास हुआ है, वो आधुनिक शिक्षा का एक बड़ा केंद्र तो बनेगा ही, साथ ही देश में रक्षा से जुड़ी पढ़ाई, रक्षा उत्पादन से जुड़ी तकनीक और मैनपावर बनाने वाला सेंटर भी बनेगा। मेरे जीवन का सौभाग्य है कि मुझे राजा महेन्द्र प्रताप सिंह जी के नाम से इस विश्वविद्यालय के शिलान्यास करने का मौका मिला। युवाओं से मेरी अपील है कि जब भी जीवन में परेशानी आए तो राजा महेन्द्र प्रताप सिंह को याद करें। आपका हौसला बुलंद हो जाएगा। भारत की आजादी में राजा महेन्द्र प्रताप सिंह को नमन करने का यह पावन अवसर है। आज देश के हर युवा को राजा महेन्द्र प्रताप सिंह के बारे में पढ़ना चाहिए। आज अलीगढ़ और पश्चिमी यूपी के लिए बहुत बड़ा दिन है। ब्रज भूमि के कण-कण में राधा ही राधा हैं। मैं आप सभी को राधा अष्टमी की हार्दिक बधाई देता हूं।

सिरमौर बन रहा यूपी
उन्होंने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के सबका साथ-सबका विकास की नीति पर आगे बढ़ने की सराहना की। पीएम ने कहा, समाज में विकास के अवसरों से जिन्हें दूर रखा गया, ऐसे हर समाज को शिक्षा और सरकारी नौकरियों में अवसर दिए जा रहे हैं। आज उत्तर प्रदेश की चर्चा बड़े इंफ्रास्ट्रक्चर प्रोजेक्ट और बड़े फैसलों के लिए होती है। मुझे आज ये देखकर बहुत खुशी होती है कि जिस यूपी को देश के विकास में एक रुकावट के रूप में देखा जाता था, वही यूपी आज देश के बड़े अभियानों का नेतृत्व कर रहा है। यूपी के लोग भूल नहीं सकते कि पहले यहां किस तरह के घोटाले होते थे, किस तरह राज-काज को भ्रष्टाचारियों के हवाले कर दिया गया था। आज योगी जी की सरकार पूरी ईमानदारी से यूपी के विकास में जुटी हुई है।

सरकार किसानों के साथ है
पीएम मोदी ने विपक्षी सरकारों पर हमला बोलते हुए कहा, एक दौर था जब यहां शासन-प्रशासन, गुंडों और माफियाओं की मनमानी से चलता था। लेकिन अब वसूली करने वाले, माफियाराज चलाने वाले सलाखों के पीछे हैं। देश के जिन छोटे किसानों की चिंता चौधरी चरण सिंह को थी, उनके साथ सरकार एक साथी की तरह खड़ी रहे, ये बहुत जरूरी है। इसलिए केंद्र सरकार का निरंतर प्रयास है कि छोटी जोत वाले किसानों को ताकत दी जाए। डेढ़ गुणा MSP हो, किसान क्रेडिट कार्ड का विस्तार हो, बीमा योजना में सुधार हो, 3 हज़ार रुपए की पेंशन की व्यवस्था हो, ऐसे अनेक फैसले छोटे किसानों को सशक्त कर रहे हैं।

सीएम योगी ने यूपी को नई पहचान दिलाई
उन्होंने प्रसन्नता जाहिर करते हुए कहा, मुझे इस बात की खुशी है कि यूपी में बीते चार सालों में एमएसपी पर अनाज की रिकॉर्ड खरीदारी हुई है। यूपी के गन्ना किसानों को 1.43 लाख करोड़ रुपए का भुगतान हुआ है। इंटीग्रेटेड इंडस्ट्रियल टाउनशिप का निर्माण, मल्टीमॉडल लॉजिस्टिक हब, जेवर इंटरनेशनल एयरपोर्ट, दिल्ली-मेरठ रीजनल रैपिड ट्रांजिट सिस्टम, मेट्रो कनेक्टिविटी, आधुनिक हाईवे और एक्सप्रेस-वे जैसे अनेक काम आज यूपी में हो रहे हैं। 'सबका साथ, सबका विकास और सबका विश्वास' के मंत्र के साथ उत्तर प्रदेश को योगी जी ने नई भूमिका के लिए तैयार किया है।

6 नोड बनाए गए हैं
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 21 फरवरी, 2018 को लखनऊ में उप्र इन्वेस्टर्स समिट का शुभारम्भ करते हुए उत्तर प्रदेश में एक डिफेंस इण्डस्ट्रियल काॅरिडोर स्थापित किये जाने की घोषणा की थी। उत्तर प्रदेश डिफेंस इण्डस्ट्रियल काॅरिडोर के सम्यक विकास के लिए कुल 6 नोड-अलीगढ़, आगरा, कानपुर, चित्रकूट, झांसी एवं लखनऊ बनाए गए हैं। डिफेंस इण्डस्ट्रियल काॅरिडोर में निवेश प्रोत्साहित करने के लिए राज्य सरकार ने ‘उत्तर प्रदेश रक्षा तथा एयरोस्पेस इकाई एवं रोजगार प्रोत्साहन (प्रथम संशोधन) नीति-2019’ लागू की है।

19 कंपनियां करेंगी निवेश
अलीगढ़ नोड के लिए भूमि आवंटन प्रक्रिया पूरी कर ली गई है। 19 कम्पनियों को भूमि का आवंटन सुनिश्चित किया जा चुका है। ये कम्पनियां 1245 करोड़ रुपए का निवेश करेंगी। प्रदेश सरकार ने अलीगढ़ में तीव्र गति से अवस्थापना एवं विकास के कार्य किए हैं। अलीगढ़ नोड में छोटे हथियार, आयुध, ड्रोन, एयरोस्पेस मेटल कम्पोनेण्ट्स, एण्टी ड्रोन सिस्टम, डिफेंस पैकेजिंग एवं अन्य इण्डस्ट्रीज प्रस्तावित हैं। उत्तर प्रदेश के डिफेंस इण्डस्ट्रियल काॅरिडोर से देश को रक्षा उत्पादन क्षेत्र में आत्मनिर्भर बनाने और ‘मेक इन इण्डिया’ को बढ़ावा देने में मदद मिलेगी।

अन्य खबरे

Copyright © 2020 - 2021 Tricity. All Rights Reserved.