पुलिस आयुक्त बनते ही प्रीतिंदर सिंह के सामने आई पहली फरियाद, एक्शन को देख लोग बोले- ऐसा पहली बार देखा

आगरा : पुलिस आयुक्त बनते ही प्रीतिंदर सिंह के सामने आई पहली फरियाद, एक्शन को देख लोग बोले- ऐसा पहली बार देखा

पुलिस आयुक्त बनते ही प्रीतिंदर सिंह के सामने आई पहली फरियाद, एक्शन को देख लोग बोले- ऐसा पहली बार देखा

Google Image | प्रीतिंदर सिंह

Agra : उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद, आगरा और प्रयागराज में कमिश्नर सिस्टम लागू होने के बाद तीनों जिलों में नवनियुक्त कमिश्नर ने अपना पद ग्रहण कर लिया है। बुधवार को सभी अधिकारियों ने कमिश्नर पद ग्रहण किया। आगरा के पुलिस कमिश्नर डॉ.प्रीतिंदर सिंह के सामने पहली फरियाद आ गई। बुधवार को जो वह अपने दफ्तर में बैठे तो प्रयागराज की रहने वाली एक लड़की ने अपनी आपबीती कमिश्नर के सामने सुनाई। जिसके बाद कमिश्नर ने सख्त एक्शन लेते हुए तत्काल जांच के आदेश दिए हैं।

प्रयागराज की रहने वाली है पीड़िता
पीड़ित युवती ने आगरा के पुलिस आयुक्त को बताया कि वह मूलरूप से प्रयागराज में स्थित नैनी इलाके की रहने वाली हैं। वर्ष 2013 में आगरा में रहने वाले एक युवक उसके संपर्क में आया। दोनों अच्छी तरीके से परिचित हुए और बाद में युवक ने शादी का वादा करके उसके साथ शारीरिक शोषण किया। इस मामले में पुलिस ने कमिश्नर के आदेश पर तत्काल एक्शन लिया और रिपोर्ट दर्ज की है।

आगरा की जनता ने पहली बार देखा ऐसा एक्शन
बताया जा रहा है कि इस दौरान आगरा के काफी लोग पुलिस कमिश्नर के सामने मौजूद थे। पुलिस कमिश्नरेट के एक्शन को देखकर लोगों का कहना है कि हमने ऐसा पहली बार देखा है। अब हमको पता चला कि कमिश्नर सिस्टम लागू होने से क्या होता है। लोगों का कहना है कि उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रदेश की जनता के लिए यह बहुत बड़ा फैसला लिया है।

"अब समझ आया कमीशन सिस्टम का मतलब"
आपको बता दें कि आगरा में भी कानून व्यवस्था को सुधारने की काफी आवश्यकता है। इसलिए योगी सरकार ने आगरा, प्रयागराज और गाजियाबाद में भी कमीशन सिस्टम लागू किया है। अब उत्तर प्रदेश के 7 जनपदों में कमिश्नर सिस्टम लागू है। प्रदेश की जनता का कहना है कि कमिश्नर सिस्टम लागू होने के बाद जिस तरीके से नोएडा और लखनऊ में व्यवस्था सुधरी है, उसी तरीके से पूरे उत्तर प्रदेश में कमिश्नर सिस्टम लागू होना चाहिए।

आगरा के पहले कमिश्नर डॉ.प्रीतिंदर सिंह
डॉ. प्रीतिंदर सिंह वर्ष 2004 बैच के आईपीएस हैं। पंजाब के रहने वाले हैं। उन्होंने पटियाला गवर्नमेंट कॉलेज से एमबीबीएस किया है। वह आईपीएस बनने के बाद सबसे पहले आगरा में ही एएसपी रहे थे। इसके बाद लखनऊ, सोनभद्र, ललितपुर, बागपत, सीतापुर और गौतमबुद्ध नगर समेत कई जिलों में एसपी और एसएसपी रहे। उन्होंने आगरा एसएसपी का चार्ज 22 सितंबर 2015 को लिया था। इससे पहले वो नोएडा एसएसपी थे।

Copyright © 2022 - 2023 Tricity. All Rights Reserved.