अमेरिका, ब्रिटेन, इटली और जापान समेत 8 राष्ट्राध्यक्षों को यूपी से भेजे गए खास उपहार, पीएम मोदी ने सौंपे

G7 Summit में छा गया उत्तर प्रदेश : अमेरिका, ब्रिटेन, इटली और जापान समेत 8 राष्ट्राध्यक्षों को यूपी से भेजे गए खास उपहार, पीएम मोदी ने सौंपे

अमेरिका, ब्रिटेन, इटली और जापान समेत 8 राष्ट्राध्यक्षों को यूपी से भेजे गए खास उपहार, पीएम मोदी ने सौंपे

Tricity Today | पीएम नरेंद्र मोदी

अमेरिका, ब्रिटेन, इटली और जापान समेत 8 राष्ट्राध्यक्षों को यूपी से भेजे गए खास उपहार, पीएम मोदी ने सौंपे Uttar Pradesh News : जर्मनी में आयोजित 48वें G7 Summit में ना केवल प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बल्कि उत्तर प्रदेश भी छा गया। दरअसल, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने 'वन डिस्टिक वन प्रोडक्ट' स्कीम (ODOP Scheme) के तहत बनाए जा रहे खास उपहार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) के साथ जर्मनी भेजे थे। पीएम ने यह उपहार अमेरिका के राष्ट्रपति जोए बिडेन, ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन, जापान के प्रधानमंत्री फूमियो किशिदा, फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों, जर्मनी के चांसलर ओलाफ स्कॉलज और इटली के प्राइम मिनिस्टर मारियो ड्रेगी समेत दुनिया के आठ राष्ट्राध्यक्षों को दिए हैं। मंगलवार की शाम यह जानकारी उत्तर प्रदेश सरकार की ओर से साझा की गई है।

Image
खुर्जा की पॉटरी ब्रिटिश पीएम को बतौर उपहार दी
उत्तर प्रदेश सरकार की ओर से साझा की गई जानकारी के मुताबिक प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बॉरिस जॉनसन को बुलंदशहर का ओडीओपी उत्पाद पॉटरी का प्लेटिनम कोटेड टी-सेट भेंट किया है। जनपद में सिरेमिक उत्पाद बनाने का यह काम मध्यकाल से हो रहा है। लखनऊ में आयोजित हुए कार्यक्रम के दौरान मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने खुर्जा के पॉटरी निर्माताओं को यह जिम्मेदारी सौंपी थी। यह खूबसूरत पॉटरी खुर्जा के 5 कारीगरों ने मिलकर तैयार की। जिसे प्लेटिनम धातु से कोटेड किया गया। दरअसल, ब्रिटेन की महारानी एलिजाबेथ प्रशासन का 75वां वर्ष चल रहा है। प्लेटिनम जुबली के मौके पर यह पॉटरी ब्रिटिश पीएम को भेंट की गई है।

Image
जापानी प्रधानमंत्री को दिया गया आजमगढ़ का बना उपहार
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जापान के प्रधानमंत्री फुमियो किशिदा को उपहार स्वरूप आजमगढ़ जनपद का जीआई टैग वाला ओडीओपी उत्पाद भेंट किया है। यह ब्लैक पॉटरी है। इन उत्पादों को काले रंग के धुएं से विशेष तकनीक का उपयोग करते हुए तैयार किया जाता हैं। आजमगढ़ जिले में निजामाबाद की काली मिट्टी के के बर्तन अद्वितीय प्रकार के मिट्टी के बर्तन हैं, जो उत्कीर्ण चांदी के पैटर्न के साथ अपने गहरे चमकदार शरीर के लिए जाने जाते हैं। इसे दिसंबर 2015 में भौगोलिक संकेत टैग (GI Tag) के लिए पंजीकृत किया गया था।
Image
कन्नौज का इत्र फ्रांस के राष्ट्रपति को भेंट किया गया
उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री कार्यालय की ओर से दी गई सूचना के मुताबिक प्रधानमंत्री ने फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों को ज़री ज़रदोज़ी के आकर्षक बॉक्स में पैक कन्नौज के मशहूर इत्र भेंट किए गए हैं। उपहार बॉक्स में कई नायाब खुशबुओं के इत्र को शामिल किया गया है। आपको बता दें कि सैकड़ों वर्षों से कन्नौज में खुशबूदार द्रव्यों का निर्माण किया जा रहा है। कन्नौज में बनने वाले इत्र का जिक्र चीनी यात्री ह्वेनसांग के यात्रा वृतांत से लेकर अकबर के दरबार में आए पुर्तगाली यात्रियों की किताबों में शामिल है। दूसरी ओर फ्रांस में भी इत्र बनाने के महारथी मौजूद हैं। ऐसे में राज्य सरकार की ओर से सोच समझकर राष्ट्राध्यक्षों को एक से बढ़कर एक नायाब तोहफे भेजे गए हैं।

Image
इंडोनेशिया के राष्ट्रपति को दिया वाराणसी में बना राम दरबार
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इंडोनेशिया के राष्ट्रपति जोको वीडोडो को वाराणसी जनपद का हस्तनिर्मित लाख और लकड़ी से बनाया गया राम दरबार भेंट किया है। जनपद में लाख से निर्मित होने वाले उत्पादों को जीआई टैग हासिल है। आपको बता दें कि इंडोनेशिया और भारत का मौलिक सांस्कृतिक संबंध है। इंडोनेशिया में आज भी भगवान राम को पूजा जाता है। वहां की रामलीला विश्व प्रसिद्ध है। इंडोनेशिया के महत्वपूर्ण द्वीपों जावा और सुमात्रा पर भारतीय मूल के राजाओं का शासन रह चुका है। एक वक्त में इंडोनेशिया पहले हिंदू और फिर बौद्ध राष्ट्र हुआ करता था। तेरहवीं शताब्दी से वहां इस्लामीकरण की शुरुआत हुई थी। आज इंडोनेशिया की बहुसंख्यक आबादी मुस्लिम है।Image
सेनेगल के राष्ट्रपति को सीतापुर की दरी और मूंज का सामान
सेनेगल के राष्ट्रपति मैकी साल को उपहार स्वरूप उत्तर प्रदेश के अनूठे मूंज के हस्तनिर्मित उत्पाद और सीतापुर की हाथ से बुनी हुई दरी भेंट की हैं। आपको बता दें कि सेनेगल आधिकारिक तौर पर सेनेगल गणराज्य पश्चिम अफ्रीका में एक देश है। सेनेगल की सीमा उत्तर में मॉरिटानिया, पूर्व में माली, दक्षिण-पूर्व में गिनी और दक्षिण-पश्चिम में गिनी-बिसाऊ से लगती हैं। सेनेगल की आर्थिक और राजनीतिक राजधानी डकार है।
Image
मुरादाबाद में बना पीतल का सामान जर्मन चांसलर को भेंट किया
जर्मनी के चांसलर ओलाफ स्कोल्ज़ को पीतल नगरी मुरादाबाद का धातु शिल्प उत्पाद भेंट किया गया है। इस उपहार पर खास मरोड़ी नक्काशी हाथों से की गई है। भारत और जर्मनी के कूटनीतिक, राजनीतिक और सांस्कृतिक संबंध बेहद पुराने हैं। जर्मनी को यूरोप में भारत का सबसे बेहतर सहयोगी माना जाता है। धातु विज्ञान और आधुनिक तकनीक में जर्मन कारीगरों का बड़ा नाम है।

Image
इटली के पीएम को ताज नगरी से भेजा गया उपहार
इटली के प्रधानमंत्री मारियो ड्रैगी को ताज नगरी आगरा से तैयार करवाया गया उपहार भेजा गया है। यह संगमरमर पत्थर पर नायाब रंगीन पत्थरों से जड़े इनले वर्क का टेबल टॉप है। यह टेबल टॉप प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भेंट किया है। आगरा में संगमरमर पत्थर पर जड़ाई का कार्य आज भी परंपरागत तरीके से हाथों से ही किया जाता है। इसी तरह की जड़ाई दुनिया के अजूबों में शुमार ताजमहल की दीवारों और छत पर भी देखी जा सकती है। आगरा में दस्तकारी का यह काम मध्यकाल से होता आ रहा है।

Image
अमेरिकन प्रेसिडेंट और फर्स्ट लेडी को दिए गए खास तोहफे
G7 Summit के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और अमेरिकन राष्ट्रपति जोए बिडेन की मुलाकात लोगों ने टीवी पर देखी है। खुद जोए बिडेन ने आगे बढ़कर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से हाथ मिलाया और बातचीत की थी। हालांकि, जोए बिडेन को अचानक पीछे से कंधे पर हाथ रखता देखकर नरेंद्र मोदी एकबारगी हैरान हो गए थे। नरेंद्र मोदी ने अमेरिका के राष्ट्रपति को अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी का जीआई टैग ओडीओपी उत्पाद भेंट किया है। यह गुलाबी मीनाकारी का ब्रोच और कफ़लिंक सेट है। यूपी के मुख्यमंत्री कार्यालय की ओर से दी गई जानकारी के मुताबिक कफ़लिंक यूएस राष्ट्रपति के लिए और ब्रोच फर्स्ट लेडी के लिए भेजे गए हैं। राज्य सरकार की ओर से जारी किए गए आधिकारिक बयान में कहा गया है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जर्मनी में जी-7 समिट में राष्ट्राध्यक्षों को यूपी के हस्तनिर्मित नायाब, अनूठे और लाजवाब ओडीओपी उत्पाद भेंट करके प्रदेश की पारंपरिक कला को वैश्विक पटल पर नई पहचान दिलाई है। सभी उत्पादों को खासतौर पर राष्ट्राध्यक्षों के लिए बनाया गया है।

Copyright © 2021 - 2022 Tricity. All Rights Reserved.