एडेड जूनियर हाईस्कूल शिक्षक भर्ती परीक्षा में पेपर लीक के आरोपी प्रिंसिपल समेत तीन होंगे निलंबित

प्रयागराज : एडेड जूनियर हाईस्कूल शिक्षक भर्ती परीक्षा में पेपर लीक के आरोपी प्रिंसिपल समेत तीन होंगे निलंबित

एडेड जूनियर हाईस्कूल शिक्षक भर्ती परीक्षा में पेपर लीक के आरोपी प्रिंसिपल समेत तीन होंगे निलंबित

Tricity Today | शिक्षक अशोक तिवारी को गिरफ्तार कर लिया गया

एडेड जूनियर हाईस्कूल शिक्षक भर्ती परीक्षा में पेपर लीक के आरोपी प्रिंसिपल समेत तीन होंगे निलंबित प्रयागराज : प्रदेश के ऐडेड जूनियर हाईस्कूलों में सहायक अध्यापक और प्रधानाध्यापकों की भर्ती के लिए रविवार को आयोजित परीक्षा के दौरान व्हाट्सएप पर बेटी और बेटे को प्रश्नपत्र भेजने के आरोप में गिरफ्तार केएन काटजू इंटर कॉलेज कीडगंज के प्रधानाचार्य और शिक्षक के साथ ही फरार चल रहे उप प्रधानाचार्य निलंबित होंगे। पेपर आउट करने के आरोप में एसटीएफ ने प्रधानाचार्य राम नयन द्विवेदी और शिक्षक अशोक तिवारी को गिरफ्तार कर लिया था। जिला विद्यालय निरीक्षक आरएन विश्वकर्मा का कहना है कि अपराधिक कृत्य के लिए प्रधानाचार्य, उप प्रधानाचार्य और शिक्षक को निलंबित करने के लिए कॉलेज के प्रबंधक को पत्र लिखा जा रहा है।

सहायता प्राप्त जूनियर हाई स्कूल  शिक्षक भर्ती पेपर लीक में आरोपी शिक्षक अशोक तिवारी ने एसटीएफ को बताया कि 9 बजकर 37 मिनट पर पेपर क्लास में पहुंचा। तो प्रधानाचार्य राम नयन द्विवेदी के कहने पर उसकी फोटो खींच ली। एसटीएफ ने जब उनका मोबाइल चेक किया तो उसमें 39 बार पेपर की फोटो क्लिक मिली। इसके बाद प्रिंसिपल के कहने पर अध्यापक अशोक तिवारी ने व्हाट्सएप से कॉलेज के वाइस प्रिंसिपल आकाश खरे और उनके बेटे अनुग्रह द्विवेदी को पेपर भेज दी। जिससे वह सॉल्वर की मदद से प्रिंसिपल की बेटी आकांक्षा द्विवेदी का पेपर हल करा सकें। आकांक्षा का सेंटर भारत स्काउट एंड गाइड इंटर कॉलेज में था। 

प्रयागराज में डॉ केएन काटजू इंटर कॉलेज के प्रिंसिपल राम नयन द्विवेदी और शिक्षक अशोक तिवारी ने पर्चा आउट कर दिया था। इसकी भनक यूपी एसटीएफ को लग गई। एसटीएफ ने दोनों को गिरफ्तार कर लिया है। एसटीएफ के सीईओ नवेंन्दु सिंह ने बताया कि प्रिंसिपल ने बेटी को पास कराने के लिए पेपर आउट कराया था। कॉलेज के वाइस प्रिंसिपल आकाश खरे प्रिंसिपल का बेटा अनुग्रह उर्फ छोटू बेटी आकांक्षा द्विवेदी और सॉल्वर वीरेंद्र कुमार फरार है। उनकी तलाश की जा रही है।


रविवार को शिक्षक चयन परीक्षा में पेपर आउट होने की आशंका को देखते हुए एसटीएफ को लगाया गया था। सर्विलांस से पता चला कि डॉ. केएन काटजू के प्रधानाचार्य राम नयन द्विवेदी ने अपने व्हाट्सएप से पेपर आउट कराया है। एसटीएफ और मजिस्ट्रेट तुरंत काटजू कॉलेज पहुंच गए। प्रधानाचार्य राम नयन द्विवेदी और साथ में मौजूद अध्यापक अशोक तिवारी के व्हाट्सएप चेक किए गए। अशोक तिवारी के व्हाटसएप में पेपर 9 बजकर 37 मिनट पर सेंड किया गया था। जबकि परीक्षा 10 बजे से होनी थी। शिक्षक भर्ती में पेपर आउट होने को शासन ने गंभीरता से लिया है। ऐसे में अब तीनों का निलंबन होना तय है।

पेपर आउट होने की सूचना पर यूपी एसटीएफ की टीम डॉ केएन काटजू इंटर कॉलेज कीडगंज परीक्षा केन्द्र पर मजिस्ट्रेट और सेंटर आब्जर्वर के साथ पहुंची। तो सबसे पहले प्रिंसिपल राम नयन द्विवेदी और अध्यापक अशोक तिवारी के मोबाइल चेक किए गए। प्रिंसिपल ने अपने व्हाट्सएप से कन्वर्सेशन डिलीट कर दिया था। लेकिन एसटीएफ ने तुरंत रिकवरी एप से पेपर के फोटो ढूंढ़ निकाले। बाद में मोबाइल की गैलरी से भी पेपर की फोटो मिल गई। 

अन्य खबरे

Copyright © 2020 - 2021 Tricity. All Rights Reserved.