BIG NEWS: यूपी के 97 हजार गांवों में पहुंचेगी स्वास्थ्य विभाग की टीमें, योगी सरकार ने बनाया प्लान

यूपी के 97 हजार गांवों में पहुंचेगी स्वास्थ्य विभाग की टीमें, योगी सरकार ने बनाया प्लान

Tricity Today | जायजा लेते मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ

कोरोना को मात देने के बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ एक बार रणक्षेत्र में कूद पड़े हैं। कोरोना की रोकथाम के लिए जरूरी सभी बैठकों की अगुवाई करने के साथ-साथ राजधानी लखनऊ के अस्पतालों का दौरा कर रहे हैं। उन्होंने कोविड की चेन को तोड़ने के लिए अधिकाधिक टेस्टिंग का आदेश दिया है। आज यूपी में टेस्ट, ट्रैक और ट्रीट पॉलिसी के तहत सर्वाधिक 2 लाख 97 हजार से अधिक कोविड टेस्ट किये गये। इनमें से 1 लाख 8 हजार से ज्यादा जांच आरटीपीसीआर के माध्यम से किया गया है।

यूपी में कोविड-19 की टेस्टिंग अन्य प्रदेशों से अधिक की जा रही है। साथ ही प्रदेश सरकार 4 मई से 8 मई, 2021 तक सूबे के ग्रामीण क्षेत्रों में एक विशेष अभियान चलाएगी। इसके तहत 97 हजार राजस्व गांवों में घर-घर जाकर कोविड लक्षण वाले लोगों से सम्पर्क किया जायेगा। उन्हें उपचार और टीकाकरण के लिए मार्गदर्शन दिया जाएगा और प्रेरित किया जाएगा। कोरोना को हराने के लिए बनी निगरानी समिति के कर्मियों के पास एन्टीजन किट भी होगी। ये सभी अब लोगों का एन्टीजन कोविड टेस्ट भी करेंगी। उन्हें मेडिसिन किट भी उपलब्ध करायेंगी।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि संक्रमित लोगों की पहचान करते हुए समय से उपचार किया जाए। इस तरह ही प्रदेश में संक्रमण को नियंत्रित किया जा सकेगा। अस्पतालों में दक्ष स्टॉफ की कमी पर योगी ने बड़ा आदेश दिया है। उन्होंने कहा है कि प्रशिक्षित मानव संसाधन के लिए एक्स सर्विस मैन, सेवानिवृत्त चिकित्सक, आर्मी के रिटायर्ड लोग, अनुभवी पैरामेडिकल स्टाफ, मेडिकल-पैरामेडिकल के अन्तिम वर्ष के छात्र-छात्राओं की सेवाएं ली जायेंगी। उन्होंने कोविड उपचार में लगे चिकित्सकों को अतिरिक्त मानदेय तय करने के लिए कहा है।

रेमेडेसीवीर इंजेक्शन की कमी का भी मुख्यमंत्री आदित्यनाथ ने संज्ञान लिया। उन्होंने कहा है कि रेमेडेसीवीर की उपलब्धता सुनिश्चित करने के लिए भारत सरकार रोजना इंजेक्शन के 50000 वॉयल यूपी भेजेगी। रेमेडेसीवीर को सरकारी अस्पताल के अलावा प्राइवेट अस्पतालों में भी उपलब्ध कराने के लिए जनपदों के जिलाधिकारी तथा मुख्य चिकित्साधिकारी को कहा गया है। जिससे कि लोगों को रेमेडेसीवीर सरकारी दर पर मिल सके। योगी ने सीएम हेल्पलाइन से प्रतिदिन 50 हजार लोगों को कॉल करने का लक्ष्य दिया है।
p;

अन्य खबरे

Copyright © 2020 - 2021 Tricity. All Rights Reserved.