जानिए भगवान शंकर से क्या मांगा

योगी ने महायोगी का गन्ने के रस से रुद्राभिषेक किया जानिए भगवान शंकर से क्या मांगा

जानिए भगवान शंकर से क्या मांगा

Tricity Today | योगी ने महायोगी का गन्ने के रस से रुद्राभिषेक किया

- इसके बाद जनता से मुलाकात की, आम आदमी की समस्याएं सुनीं
-हर समस्या के त्वरित और संतुष्टिपरक हल का दिया भरोसा

Gorakhpur News : उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) ने सोमवार को महायोगी भगवान शंकर का रुद्राभिषेक किया। योगी आदित्यनाथ ने रुद्राभिषेक के साथ भगवान भोलेनाथ से लोक कल्याण की कामना की है। इसके बाद जनता दर्शन में लोगों की समस्याएं सुनीं। उन्होंने लोगों को आश्वस्त किया कि किसी को भी परेशान होने की आवश्यकता नहीं है। हर समस्या का त्वरित और संतुष्टिपरक समाधान कराया जाएगा। 

मकर संक्रांति पर गन्ने के रस से किया रुद्राभिषेक
रविवार को मकर संक्रांति पर गुरु गोरखनाथ को आस्था की पवित्र खिचड़ी चढ़ाकर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने लोकमंगल की कामना की थी। सोमवार को भी उनकी दिनचर्या प्रदेशवासियों के सुख-समृद्धि की मंगलकामना से शुरू हुई। इस निमित उन्होंने गन्ने के रस से रुद्राभिषेक कर देवाधिदेव महादेव से जनकल्याण की प्रार्थना की। रुद्राभिषेक का अनुष्ठान मठ के प्रथम तल पर स्थित शक्ति मंदिर में सम्पन्न हुआ।

दबंगई करने वालों को सबक सिखाया जाएगा : सीएम
रुद्राभिषेक अनुष्ठान के बाद मुख्यमंत्री गोरखनाथ मंदिर परिसर महंत दिग्विजयनाथ स्मृति सभागार में आयोजित जनता दर्शन कार्यक्रम में पहुंचे और करीब 300 लोगों से मुलाकात कर उनकी समस्याएं सुनीं। कुर्सियों पर बैठाए गए लोगों तक वह खुद गए और बड़े इत्मीनान से एक-एक करके सबकी बात सुनी। सबको आश्वस्त किया कि किसी के साथ अन्याय नहीं होने दिया जाएगा। हर समस्या का जल्द से जल्द गुणवत्तापूर्ण समाधान होगा। कई लोग गंभीर बीमारियों के इलाज में आर्थिक सहायता की गुहार लेकर पहुंचे थे। सीएम योगी ने कहा, "इस्टीमेट उपलब्ध होते ही भरपूर मदद की जाएगी। पैसे के अभाव में किसी का इलाज बाधित नहीं होने दिया जाएगा। जमीन कब्जाने की कुछ शिकायतों पर उन्होंने कहा कि सरकार हर गरीब के साथ खड़ी है। जमीन कब्जा करने या दबंगई करने वालों को करारा कानूनी सबक सिखाया जाएगा।" सीएम से मिली आश्वस्ति के बाद सभी लोग संतुष्ट नजर आए।

Copyright © 2022 - 2023 Tricity. All Rights Reserved.