नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट को लेकर शासन सख्त, प्रक्रिया में तेजी लाने का आदेश

बड़ी खबर : नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट को लेकर शासन सख्त, प्रक्रिया में तेजी लाने का आदेश

नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट को लेकर शासन सख्त, प्रक्रिया में तेजी लाने का आदेश

Tricity Today | Symbolic Photo

नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट को लेकर शासन सख्त, प्रक्रिया में तेजी लाने का आदेश मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के बहुप्रतीक्षित नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट (Noida International Airport) के निर्माण कार्य को लेकर प्रक्रिया तेज हो गई है। उत्तर प्रदेश के मुख्य सचिव राजेंद्र कुमार तिवारी ने सोमवार को जेवर एयरपोर्ट से संबंधित प्रोजेक्ट मॉनिटरिंग और इंप्लीमेंटेशन कमेटी की महत्वपूर्ण बैठक की। इस दौरान जेवर एयरपोर्ट के निर्माण से जुड़ी समस्याओं और विस्तारीकरण में आ रही बाधाओं से पार पाने के बारे में चर्चा की गई। मुख्य सचिव ने नोएडा, ग्रेटर नोएडा और यमुना प्राधिकरण को महत्वपूर्ण आदेश जारी करते हुए उस पर फौरन अमल करने के लिए कहा है। 

मुख्य सचिव ने बैठक की
उम्मीद जताई जा रही है कि शीघ्र ही नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट का उद्घाटन किया जाएगा। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ स्वयं इस प्रोजेक्ट को लेकर उत्साहित हैं। यमुना प्राधिकरण (Yamuna Expressway Authority) के सीईओ डॉ अरुण वीर सिंह (CEO Dr. Arun Vir Singh) लगातार एयरपोर्ट की प्रगति रिपोर्ट से मुख्यमंत्री को अवगत करा रहे हैं। इसी क्रम में सोमवार को एक महत्वपूर्ण बैठक हुई। इसमें मुख्य सचिव राजेंद्र कुमार तिवारी ने प्रोजेक्ट मॉनिटरिंग और इंप्लीमेंटेशन कमेटी के साथ जेवर एयरपोर्ट (Jewar Airport) के विस्तारीकरण से जुड़ी जमीन के अधिग्रहण में आ रही चुनौतियों के बारे में चर्चा की। 

राज्य सरकार ने 1084 करोड़ रुपये दिए हैं
इस दौरान यमुना प्राधिकरण के मुख्य कार्यपालक अधिकारी डॉ अरुण वीर सिंह ने कमेटी के समक्ष अपना एजेंडा प्रस्तुत किया। उन्होंने बताया कि एयरपोर्ट के विस्तारीकरण के संबंध में कार्रवाई की जा रही है। इसके लिए 1185 हेक्टेयर भूमि का अधिग्रहण किया जाएगा। इसमें करीब 2890 करोड़ रुपये का खर्च आएगा। इस पर मुख्य सचिव ने कहा कि राज्य सरकार ने 1084 करोड रुपए का अपना अंशदान पहले ही गौतमबुद्ध नगर जिलाधिकारी को उपलब्ध करा दिया है।

तीनों प्राधिकरण जिलाधिकारी को जमा कराएं अंशदान 
नोएडा, ग्रेटर नोएडा और यमुना प्राधिकरण को अपने हिस्से की रकम कलेक्टर को जमा करानी है। उन्होंने कहा कि इसमें किसी तरह की देरी न हो। आज की बैठक में औद्योगिक विकास आयुक्त, अपर मुख्य सचिव वित्त, अपर मुख्य सचिव नागरिक उड्डयन, संयुक्त सचिव नागर विमानन मंत्रालय, सीईओ ग्रेटर नोएडा, सीईओ नोएडा, निदेशक नागरिक उड्डयन और नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट लिमिटेड (नायल) के नोडल ऑफिसर शैलेंद्र भाटिया ने शिरकत की। तीनों प्राधिकरणों ने अविलंब पूरी राशि जिलाधिकारी को देने पर सहमति दी है।

 

अन्य खबरे

Copyright © 2020 - 2021 Tricity. All Rights Reserved.