BIG NEWS: यमुना प्राधिकरण ने कमाए 2200 करोड़ रुपये, स्थापना के बाद पहली बार मिला इतना निवेश

यमुना प्राधिकरण ने कमाए 2200 करोड़ रुपये, स्थापना के बाद पहली बार मिला इतना निवेश

Tricity Today | यमुना प्राधिकरण ने कमाए 2200 करोड़ रुपये

  • प्राधिकरण ने करीब 2200 करोड़ रुपये का राजस्व हासिल किया है
  • गत वर्ष अथॉरिटी को करीब 1200 करोड़ रुपये की आय हुई थी
  • क़रीब 2600-2700 करोड़ रुपये खर्च हुए हैं
  • अथॉरिटी ने 300 करोड़ का ऋण नाइल को चुकाया है
यमुना एक्सप्रेसवे औद्योगिक विकास प्राधिकरण (Yamuna Authority) से बड़ी खबर आई है। चालू वित्त वर्ष (1 अप्रैल 2020 से 31 मार्च 2021) में प्राधिकरण ने करीब 2200 करोड़ रुपये का राजस्व हासिल किया है। यमुना एक्सप्रेसवे औद्योगिक विकास प्राधिकरण के मुख्य कार्यपालक अधिकारी डॉ अरुणवीर सिंह गत वित्त वर्ष में प्राधिकरण की आय ढाई हजार करोड़ रुपए करने के लक्ष्य पर आगे बढ़ रहे थे। फिर भी यमुना प्राधिकरण ने पिछले साल के मुकाबले दोगुना राजस्व प्राप्त किया है। गत वर्ष अथॉरिटी को करीब 1200 करोड़ रुपये की आय हुई थी।

पिछले वित्त वर्ष में ये हासिल किया
यमुना विकास प्राधिकरण के सीईओ अरुण वीर सिंह का कहना है कि फ़िल्म सिटी और जेवर एयरपोर्ट की वजह से इस साल राजस्व में अभुतपूर्व इजाफा हुआ है। पिछले साल के मुकाबले इस बार दोगुनी आय हुई है। इसके चलते प्राधिकरण नई-नई स्कीम ला रहा है। गत वित्त वर्ष में यमुना प्राधिकरण को करीब 3 हजार करोड़ रुपये की आय हुई है। इसमें से क़रीब 2600-2700 करोड़ रुपये खर्च हुए हैं। सीईओ ने बताया कि 1072 करोड़ रुपये बैंक को चुकाया गया है। बड़ी बात ये है कि 1072 करोड़ में 872 करोड़ का वह कर्ज एडजस्ट कराया गया है, जो ज्यादा ब्याज दर पर था। इसके बाद बैंक को कर्ज वापसी के तौर पर प्राधिकरण ने 272 करोड़ जमा कराए हैं। इसके अलावा अथॉरिटी ने 300 करोड़ का ऋण नाइल को चुकाया है।

लाकडॉऊन के बावजूद किया कमाल
इस वित्त वर्ष की शुरुआत कोरोना वायरस संक्रमण के कारण लॉकडाउन पीरियड में हुई थी। 22 मार्च 2020 को राष्ट्रव्यापी तालाबंदी लागू हो गई थी। जिसके बावजूद यमुना एक्सप्रेसवे औद्योगिक विकास प्राधिकरण ने बड़ी उपलब्धि हासिल की है। प्राधिकरण को स्थापना के बाद से लेकर अब तक किसी एक फाइनेंशियल ईयर में सबसे ज्यादा रेवेन्यू मिला है। दरअसल, लॉकडाउन पीरियड में भी यमुना प्राधिकरण आवासीय, औद्योगिक, संस्थागत और तमाम दूसरी भूखंड योजनाएं लांच करता रहा। प्राधिकरण ने भूखंडों का आवंटन करने के लिए ऑनलाइन मोड का इस्तेमाल किया। जिसका खासा लाभ मिला है। इस युक्ति की बदौलत प्राधिकरण इस फाइनेंशियल ईयर में 2200 करोड़ रुपए अर्जित करने में कामयाब रहा है। 

7500 करोड रुपये का निवेश मिला
इन निवेश परियोजनाओं में से 7,500 करोड़ रुपये के निवेश मिले हैं। इन औद्योगिक इकाइयों में करीब 2 लाख लोगों को रोजगार मिलेंगे। इस वित्त वर्ष में यमुना प्राधिकरण ने 566 एकड़ क्षेत्रफल में 871 भूखंडों का आवंटन किया है। इनमें सेक्टर-29 और सेक्टर-33 में अपैरल पार्क (124 भूखण्ड), हस्तशिल्प पार्क (76 भूखण्ड), एमएसएमई पार्क (516 भूखण्ड) और खिलौना (टॉय) पार्क (111 भूखण्ड) के लिए किए गए आवंटन किया गया है। इस वित्त वर्ष के दौरान प्राधिकरण अलग-अलग तरह की 10 भूखंड आवंटन योजनाएं लॉन्च की हैं।

जेवर एयरपोर्ट और फिल्म सिटी ने बड़ा लाभ पहुंचाया
इसी वित्त वर्ष के दौरान मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने यमुना एक्सप्रेसवे के किनारे फिल्म सिटी प्रोजेक्ट की घोषणा की। जिसके लिए यमुना अथॉरिटी ने 1000 एकड़ जमीन आरक्षित की है। फिल्म सिटी के लिए डीपीआर और मास्टर प्लान पर तेजी के साथ काम चल रहा है। पिछले दिनों डॉक्टर अरुणवीर सिंह ने लखनऊ में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को प्रेजेंटेशन दिया था। पिछले एक वर्ष के दौरान कोरोना काल के बावजूद प्रदेश सरकार, यमुना प्राधिकरण और जूरिक इंटरनेशनल एयरपोर्ट एजी ने मिलकर तमाम कानूनी, प्रशासनिक और कॉरपोरेट औपचारिकताएं पूरी की हैं। इन दोनों परियोजनाओं की वजह से यमुना प्राधिकरण को बड़ा फायदा मिला है।

यमुना प्राधिकरण ने 1000 करोड रुपए कर्ज कम किया
करोना काल के बावजूद यमुना एक्सप्रेसवे औद्योगिक विकास प्राधिकरण ने कई महत्वपूर्ण उपलब्धियां हासिल की हैं। आमदनी बढ़ाने और महत्वकांक्षी परियोजनाओं को परवान चढ़ाने के साथ-साथ प्राधिकरण पर चल रहे कर्ज को घटाया है। करीब एक साल पहले तक यमुना प्राधिकरण पर ढाई हजार करोड़ रुपए का कर्ज था। चालू वित्त वर्ष के दौरान वित्तीय संस्थाओं, बैंकों और नोएडा अथॉरिटी को प्राधिकरण ने 1072 करोड़ रुपए लौटाए हैं। हालांकि, अभी यमुना प्राधिकरण पर करीब डेढ़ हजार करोड़ रुपए का कर्ज बाकी है। प्राधिकरण के मुख्य कार्यपालक अधिकारी डॉ. अरुणवीर सिंह का कहना है कि अगले 2 वर्षों में प्राधिकरण कर्ज मुक्त हो जाएगा।

अन्य खबरे

Copyright © 2020 - 2021 Tricity. All Rights Reserved.