मिट्टी खुदाई का फर्जी पत्र जारी होने के मामले में मुकदमा दर्ज, पुलिस ने कहा- जल्द पकड़ा जाएगा आरोपी

जेवर एयरपोर्ट : मिट्टी खुदाई का फर्जी पत्र जारी होने के मामले में मुकदमा दर्ज, पुलिस ने कहा- जल्द पकड़ा जाएगा आरोपी

मिट्टी खुदाई का फर्जी पत्र जारी होने के मामले में मुकदमा दर्ज, पुलिस ने कहा- जल्द पकड़ा जाएगा आरोपी

Tricity Today | सीईओ डॉ.अरुण वीर सिंह

मिट्टी खुदाई का फर्जी पत्र जारी होने के मामले में मुकदमा दर्ज, पुलिस ने कहा- जल्द पकड़ा जाएगा आरोपी जेवर एयरपोर्ट में नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट लिमिटेड (नियाल) के नाम से 500 करोड़ रुपये मिट्टी खुदाई का ठेका जारी करने में मामले में पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर लिया है। केस दर्ज करने के बाद पुलिस ने जांच भी शुरू कर दी है। शुक्रवार को पुलिस के एक अधिकारी यमुना प्राधिकरण पहुंचे और संबंधित अफसरों से जानकारी एकत्र की। 

जेवर एयरपोर्ट को लेकर ठेका लेने और दिलाने का फर्जी गिरोह सक्रिय है। नियाल के अफसरों को एक पत्र मिला, जो 20 मार्च को जारी हुआ बताया गया है।  इसमें जेवर एयरपोर्ट की मिट्टी खुदाई व भराई के लिए का ठेका किसी कंपनी को आवंटित किए जाने की बात कही गई है। उस कंपनी के लिए एक स्वागत पत्र जारी हुआ है। जिस कंपनी को ठेका दिया गया है, उसका नाम नहीं लिखा था। पत्र में मध्य प्रदेश के अनूपपुर स्थित एक ऑफिस का पता लिखा हुआ है। इसमें दी गई जानकारी भी गलत है। इसमें बताया गया है कि 5 हजार एकड़ की जमीन का ठेका मिला है। जबकि पहले चरण में 3200 एकड़ जमीन है, जिस पर काम किया जाना है। 

नियाल के अफसरों ने इस पूरे मामले को फर्जी बताया है साथ ही मुकदमा दर्ज कराने के लिए बीटा टू थाने को इसकी तहरीर भेज दी थी। शुक्रवार को पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर लिया है। पुलिस इसकी जांच शुरू कर दी है। आखिर यह पत्र कहां से आया और किसने इस पत्र को बनाया है। पुलिस ने अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है। 
वहीं,  नियाल के सीईओ डॉ. अरुणवीर सिंह पहले ही इसे पूरी तरह फर्जी बता चुके हैं। उन्होंने कहा कि एयरपोर्ट बनाने की जिम्मेदारी ज्यूरिख इंटरनेशनल एयरपोर्ट एजी और उसकी स्पेशल परपज व्हीकल (एसपीवी) यमुना इंटरनेशनल एयरपोर्ट प्राइवेट लिमिटेड की है।

अन्य खबरे

Copyright © 2020 - 2021 Tricity. All Rights Reserved.