जेवर एयरपोर्ट 2 सालों के भीतर दुनिया के सबसे बड़े एक्सप्रेसवे से जुड़ेगा, रोजाना लाखों लोगों को मिलेगा फायदा

आज की बड़ी खबर : जेवर एयरपोर्ट 2 सालों के भीतर दुनिया के सबसे बड़े एक्सप्रेसवे से जुड़ेगा, रोजाना लाखों लोगों को मिलेगा फायदा

जेवर एयरपोर्ट 2 सालों के भीतर दुनिया के सबसे बड़े एक्सप्रेसवे से जुड़ेगा, रोजाना लाखों लोगों को मिलेगा फायदा

Tricity Today | Symbolic Photo

जेवर एयरपोर्ट 2 सालों के भीतर दुनिया के सबसे बड़े एक्सप्रेसवे से जुड़ेगा, रोजाना लाखों लोगों को मिलेगा फायदा Jewar Airport News : जेवर इंटरनेशनल एयरपोर्ट (Jewar International Airport) को दिल्ली-मुम्बई एक्सप्रेसवे (Delhi-Mumbai Expressway) से जोड़ने का काम इसी साल से शुरू हो जाएगा। मार्च 2024 तक जेवर एयरपोर्ट और दिल्ली-मुम्बई एक्सप्रेसवे से जोड़ा जाएगा। इसके लिए इसी साल 3 मार्च को ऑनलाइन टेंडर जमा किए जाएंगे और 4 मार्च को तकनीकी बिड खोली जाएगी। इस परियोजना के लिए वित्तीय बिड खुलने के बाद न्यूनतम कीमत पर सड़क बनाने वाली कंपनी को टेंडर दिया जाएगा। जेवर इंटरनेशनल एयरपोर्ट दुनिया के सबसे बड़े दिल्ली-मुम्बई एक्सप्रेसवे से जोड़ा जाएगा।

2,100 करोड़ की लागत आएगी
जेवर एयरपोर्ट को दिल्ली-मुंबई एक्सप्रेसवे से जोड़ा जाएगा। इसके लिए हरियाणा और यूपी में 31 किमी लंबा 6 लेन का ग्रीनफील्ड कनेक्टिंग मार्ग बनाया जाएगा, जो जेवर एयरपोर्ट को फरीदाबाद जिले में इस एक्सप्रेसवे से जोड़ेगा। इस प्रोजेक्ट पर करीब 2,100 करोड़ रुपए की लागत आएगी। इस महत्वपूर्ण मार्ग के लिए भूमि अधिग्रहण की स्वीकृति केंद्र मंत्रालय ने दे दी है। यह परियोजना इसी साल शुरू हो जाएगी। केंद्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने हरियाणा के सोहना में इसकी घोषणा की थी। मार्च 2024 में जेवर इंटरनेशनल एयरपोर्ट दिल्ली-मुंबई एक्सप्रेसवे से जुड़ जाएगा।

24 महीने में होगा तैयार
छह लेन की कनेक्टिंग रोड के निर्माण को लेकर मार्च के अंत तक वर्क ऑर्डर जारी कर दिया जाएगा। इसके बाद 24 महीने (यानी मार्च 2024 तक) में निर्माण एजेंसी को प्रोजेक्ट तैयार करना होगा। 1533.34 करोड़ की लागत से बनने वाली छह लेन की रोड को भविष्य के लिहाज से काफी अहम माना जा रहा है। यह रोड यमुना एक्सप्रेसवे पर जेवर इंटरनेशनल एयरपोर्ट के सामने से शुरू होगी, जो पलवल में दिल्ली-मुंबई कनेक्टर रोड यानी डीएनडी से जुड़ेगी। जहां से दिल्ली-मुंबई एक्सप्रेसवे, फरीदाबाद, पलवल और गुरुग्राम जाना काफी आसान होगा। 

अक्षरधाम कनेक्टर रोड का टेंडर जारी
गुरुग्राम में सोहना से दिल्ली के अक्षरधाम तक पहले से ही छह लेन की दिल्ली-मुंबई कनेक्टर रोड का निर्माण कार्य चल रहा है। जेवर और अक्षरधाम तक कनेक्टिंग रोड एक ही प्रोजेक्ट का हिस्सा है। कुल प्रोजेक्ट की लंबाई 92 किलोमीटर है, जिसमें सोहना से अक्षरधाम की रोड 59.50 किलोमीटर की है जबकि 31.750 किलोमीटर लंबी है। अक्षरधाम कनेक्टर रोड का टेंडर पहले से जारी हो चुका है और उस पर काम चल रहा है। जबकि जेवर इंटरनेशनल एयरपोर्ट कनेक्टर को लेकर अब टेंडर मांग लिए गए हैं।

दुनिया का सबसे बड़ा एक्सप्रेसवे होगा
इस प्रोजेक्ट पर करीब 2,100 करोड़ रुपए की लागत आएगी। दिल्ली-मुंबई एक्सप्रेसवे दुनिया का अपनी तरह का सबसे बड़ा एक्सप्रेसवे हाईवे है। यह देश के लिए अभिमान का विषय है। इस एक्सप्रेसवे का ज्यादा काम पूरा हो चुका है। इसके तैयार होने के बाद महज 12-13 घंटे में दिल्ली-मुंबई के बीच की दूरी तय हो जाएगी।

अन्य खबरे

Copyright © 2021 - 2022 Tricity. All Rights Reserved.