जेवर एयरपोर्ट के लिए 11510 पेड़ों की मैपिंग शुरू, 195 वृक्ष शिफ्ट होंगे, जानें पूरा प्लान

बड़ी खबर: जेवर एयरपोर्ट के लिए 11510 पेड़ों की मैपिंग शुरू, 195 वृक्ष शिफ्ट होंगे, जानें पूरा प्लान

जेवर एयरपोर्ट के लिए 11510 पेड़ों की मैपिंग शुरू, 195 वृक्ष शिफ्ट होंगे, जानें पूरा प्लान

Tricity Today | एयरपोर्ट साइट पर पूजन करते मजदूर

जेवर एयरपोर्ट के लिए 11510 पेड़ों की मैपिंग शुरू, 195 वृक्ष शिफ्ट होंगे, जानें पूरा प्लान Gautam Buddh Nagar: नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट (Noida International Airport) के लिए पेड़ों को कई चरणों में हटाया जाएगा। इन पेड़ों की मैपिंग का काम शुरू हो गया है। इसके बाद इन्हें हटाने का अभियान शुरू किया जाएगा। गौतमबुद्ध नगर वन विभाग पहले ही एयरपोर्ट की अधिग्रहित जमीन से 11510 पेड़ों को हटाने की अनुमति दे चुका है। हालांकि पहले चरण में सिर्फ उन्हीं वृक्षों को हटाया जाएगा, जो निर्माण कार्य के लिहाज से जरूरी होंगे या जिन से उड़ानों पर असर पड़ेगा। अन्य पेड़ों को चरणबद्ध तरीके से बाद में हटाया जाएगा।

बताते चलें कि इन पेड़ों की भरपाई के लिए वन विभाग ने 10 गुना पौधे लगाने की शर्त रखी थी। इस पर एयरपोर्ट प्रशासन और प्राधिकरणों ने स्वीकृति दी। इनकी भरपाई के लिए यमुना प्राधिकरण और वन विभाग की जमीन पर 1.11 लाख पौधे लगाए जायेंगे। खास इलाकों में पौधारोपण शुरू कर दिया है। प्रतीक्षित जेवर एयरपोर्ट के लिए अधिग्रहित 1334 हेक्टेयर जमीन पर कुल 11510 पेड़ हैं। इनका मुआवजा देकर इसे नागरिक उड्डयन विभाग के नाम दर्ज करा दिया गया है। एयरपोर्ट साइट पर निर्माण कार्य शुरू करने के लिए नियाल ने इन सभी पेड़ों को हटाने की मंजूरी वन विभाग से मांगी थी। 10 गुना पौधे लगाने की शर्त पर वन विभाग ने इनको हटाने की मंजूरी दी।

यूकेलिप्टस के करीब 8000 पेड़ हटेंगे
एयरपोर्ट निर्माण से जुड़े अफसरों का मानना है कि सभी पेड़ों को एक साथ हटाने से पर्यावरणीय संतुलन बिगड़ेगा। वैसे भी जेवर एयरपोर्ट से साल 2024 से उड़ाने शुरू होंगी। इसलिए अफसर इसके पहले चरण 2030 तक कुछ पौधों को ही हटाने के पक्ष में हैं। अधिकारियों के मुताबिक एयरपोर्ट साइट पर सबसे ज्यादा यूकेलिप्टस के करीब 8000 पेड़ हैं। पर्यावरण संरक्षण के लिहाज से यूकेलिप्टस के पेड़ ज्यादा फायदेमंद नहीं माने जाते। इसलिए इनको हटाया जाना लगभग तय है। जबकि जेवर झाझर मार्ग पर करीब 636 पेड़ों को हटाया जाएगा।

195 पेड़ शिफ्ट होंगे
पर्यावरण के लिहाज से बेहद महत्वपूर्ण और ज्यादा ऑक्सीजन देने वाले पेड़ों को नहीं काटा जाएगा। इन्हें हाइड्रोलिक मशीन के जरिए अन्यत्र शिफ्ट किया जाएगा। विभाग ने ऐसे 195 पेड़ों की पहचान की है। छोटे पौधों को भी नहीं काटा जाएगा।बल्कि उन्हें दूसरी जगहों पर लगाया जाएगा। बताते चलें कि जेवर एयरपोर्ट का निर्माण कार्य शुरू हो चुका है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जल्द ही इसका शिलान्यास करने जेवर आएंगे।

अन्य खबरे

Copyright © 2020 - 2021 Tricity. All Rights Reserved.