मोदी ने विपक्ष पर हमला बोला, कहा- अटकाने, लटकाने और भटकाने वाले दिन लद गए

जेवर एयरपोर्ट शिलान्यास : मोदी ने विपक्ष पर हमला बोला, कहा- अटकाने, लटकाने और भटकाने वाले दिन लद गए

मोदी ने विपक्ष पर हमला बोला, कहा- अटकाने, लटकाने और भटकाने वाले दिन लद गए

Tricity Today | मोदी ने विपक्ष पर हमला बोला

मोदी ने विपक्ष पर हमला बोला, कहा- अटकाने, लटकाने और भटकाने वाले दिन लद गए Jewar Airport News : आम आदमी के करीब 20 वर्ष लंबे सपने को मूर्त रूप देने के लिए गुरुवार की दोपहर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) और यूपी के चीफ मिनिस्टर योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) ने नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट (Noida International Airport) की नींव रख दी। इस दौरान प्रधानमंत्री ने जनसभा को संबोधित करते हुए विपक्षी दलों पर जमकर हमला बोला। प्रधानमंत्री अपनी सरकारों की उपलब्धियां गिनाते गए और साथ ही साथ पूर्वर्ती केंद्र व राज्य सरकारों की कमियां भी उजागर करते रहे। नरेंद्र मोदी ने कहा, "अब अटकाने, लटकाने और भटकाने की नीति के दिन लद गए हैं। अब राष्ट्र सर्वोपरि है।"

यूपी में अंतरराष्ट्रीय हेल्थ और एजुकेशन इंस्टिट्यूट  बन रहे
नरेंद्र मोदी ने मंच से दावा किया कि अब उत्तर प्रदेश की सीरत और सूरत बदल गई है। उन्होंने कहा, "आज यूपी में अंतरराष्ट्रीय स्तर के मेडिकल संस्थान बन रहे हैं। आज यूपी में अंतरराष्ट्रीय स्तर पर शिक्षण संस्थान बन रहे हैं। अंतरराष्ट्रीय स्तर के हाईवे और एक्सप्रेसवे बन रहे हैं। अंतरराष्ट्रीय स्तर की रेल कनेक्टिविटी मिल रही है। यूपी मल्टीनेशनल कंपनियों के निवेश का सेंटर बन गया है। यह सबकुछ आज हमारे यूपी में हो रहा है। इसलिए आज देश और दुनिया के निवेशक कहते हैं कि उत्तर प्रदेश यानी उत्तम प्रदेश, उत्तम सुविधा और निरंतर निवेश। आने वाले दो-तीन सालों में जब एयरपोर्ट काम करना शुरू करेगा तो यूपी 5 इंटरनेशनल एयरपोर्ट वाला राज्य बन जाएगा।"

'दो दशक में पूरा हो रहा है सपना, कौन जिम्मेदार'
नरेंद्र मोदी ने पूर्ववर्ती सरकारों पर हमला बोलते हुए कहा, "यूपी और केंद्र में पहले जो सरकार रहीं, उन्होंने कैसे पश्चिम उत्तर प्रदेश के विकास को नजरअंदाज किया। उनका एक उदाहरण यह जेवर एयरपोर्ट भी है। दो दशक पहले यूपी की भाजपा सरकार ने इस प्रोजेक्ट का सपना देखा था, लेकिन बाद में यह एयरपोर्ट अनेक साल तक लंबित होता रहा। दिल्ली और लखनऊ में पहले जो सरकारी रहीं, उनकी खींचतान में उलझा रहा। यूपी में पहले जो सरकार थी, उसने तो बकायदा चिट्ठी लिखकर आपकी केंद्र सरकार को कह दिया था कि इस एयरपोर्ट प्रोजेक्ट को बंद कर दिया जाए। हमारी डबल इंजन की सरकार के प्रयासों से आज हम उसी एयरपोर्ट के लिए भूमि पूजन के साक्षी बन रहे हैं।"

बोले- क्यों 2017 में एयरपोर्ट का शिलान्यास नहीं किया
नरेंद्र मोदी ने अपनी सरकार की कार्य संस्कृति आम आदमी को समझाते हुए कहा, "मैं आज एक बात और कहूंगा, मोदी-योगी भी अगर चाहते तो 2017 में सरकार बनते ही यहां भूमि पूजन कर देते। अखबारों में खबर भी छप जातीं। अगर ऐसा हम करते तो पहले की सरकारों की तरह गलत करते। सभी लोगों को नहीं लगता कि पहले राजनीतिक लाभ के लिए आनन-फानन में रेडियो की तरह इंफ्रास्ट्रक्चर की घोषणा होती थी। कागजों पर लकीरें खींच दी जाती थीं, लेकिन प्रोजेक्ट जमीन पर कैसे उतरेंगे? अड़चनों को दूर कैसे करेंगे? धन का प्रबंध कहां से करेंगे? इस पर विचार ही नहीं होता था। इस कारण प्रोजेक्ट दशकों तक तैयार नहीं होते थे। घोषणा हो जाती थी। प्रोजेक्ट की लागत कई गुना बढ़ जाती थी। फिर बहानेबाजी शुरू होती थी। देरी का ठीकरा दूसरों पर फोड़ने की कसरत होती थी। हमने ऐसा नहीं किया। क्योंकि इंफ्रास्ट्रक्चर हमारे लिए राजनीति का नहीं बल्कि राष्ट्रीय नीति का हिस्सा है।"

अब अटकाने, लटकाने और भटकाने की रवायत खत्म हुई
नरेंद्र मोदी सरकार ने ब्यूरोक्रेसी की कार्य नीति में बड़ा बदलाव किया है। इस और इशारा करते हुए उन्होंने कहा, "भारत के उज्जवल भविष्य की एक जिम्मेवारी है। हमें सुनिश्चित कर रहे हैं कि प्रोजेक्ट अटके नहीं, प्रोजेक्ट लटके नहीं, भटके नहीं। हम सुनिश्चित करने का प्रयास करते हैं कि तय समय के भीतर इंफ्रास्ट्रक्चर का काम पूरा किया जाए। देरी होने पर हमने जुर्माने का भी प्रावधान किया है। पहले किसानों की जमीनों को लेकर जिस तरह की गड़बड़ी होती थी, वह भी प्रोजेक्ट की देरी में बहुत बड़ा रोड़ा बन जाती थी। अनेक ऐसे प्रोजेक्ट हैं, जिनके लिए किसानों से जमीन तो ली गई लेकिन फिर सालोंसाल जमीन बेकार पड़ी रही। हमने किसान हित में इन अड़चनों को दूर किया है। हमने सुनिश्चित किया कि प्रशासन किसानों से समय पर पूरी पारदर्शिता के साथ भूमि खरीदें। तब जाकर 30,000 करोड रुपए की परियोजना का भूमि पूजन करने के लिए आगे बढ़े हैं।"

'आम आदमी कर रहा है हवाई जहाज का सफर'
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सरकार ने सिविल एविएशन के क्षेत्र में आमूलचूल बदलाव किया है। इस पर प्रधानमंत्री ने कहा, "आज हर सामान्य देशवासी के लिए क्वालिटी इंफ्रास्ट्रक्चर और क्वालिटी सुविधा सुनिश्चित की जा रही है। देश का आम नागरिक हवाई सफर कर सके, यह सपना भी आज उड़ान योजना ने सच कर दिखाया है। आज लोग खुश होकर कहते हैं कि उन्होंने अपने घर के पास के हवाईअड्डे से उसने अपने माता-पिता के साथ पहली बार हवाई यात्रा की है। जब वह लोग अपने फोटो सोशल मीडिया साझा करता है, तब मुझे लगता है कि हमारे प्रयास सफल रहे हैं। मुझे खुशी है कि अकेले यूपी में बीते वर्षों में आठ एयरपोर्ट से फ्लाइट शुरू हो चुकी हैं। अभी भी काम चल रहा है।"

'कुछ राजनीतिक दल तो परिवार से ऊपर नहीं उठ पाए'
प्रधानमंत्री अपनी सरकारों की उपलब्धियां गिनाते गए और विपक्षी दलों पर हमला बोलते गए। बिना नाम लिए कांग्रेस और समाजवादी पार्टी की ओर इशारा करते हुए कहा, "हमारे देश में कुछ राजनीतिक दलों ने हमेशा अपने स्वार्थों को सर्वोपरि रखा है। इन लोगों की सोच रही है कि अपना स्वार्थ सिर्फ अपना खुद का परिवार है। हम राष्ट्र प्रथम, नेशन फर्स्ट टीम भावना पर चलते हैं। सबका साथ, सबका विकास, सबका विश्वास, सब का प्रयास, यही हमारा मंत्र है। यूपी के लोग गवाह हैं और देश के लोग गवाह हैं। कुछ समय पहले ही भारत ने 100 करोड़ वैक्सीन डोज लगाने के कठिन पड़ाव को पार किया है। इसी महीने की शुरुआत में वर्ष 2070 तक जीरो कार्बन इमिशन का ऐलान किया है। कुछ समय पहले ही कुशीनगर में इंटरनेशनल एयरपोर्ट का लोकार्पण किया गया। यूपी में एकसाथ 9 मेडिकल कॉलेज की शुरुआत करके देश के हेल्थ इंफ्रास्ट्रक्चर को मजबूत किया गया है।"

यूपी में कुछ हफ्तों के दौरान बड़े विकास कार्य हुए
पिछले एक महीने के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उत्तर प्रदेश में ताबड़तोड़ दौरे किए हैं। इस दौरान कई बड़ी परियोजनाओं का लोकार्पण व शिलान्यास किया है। इनके बारे में जानकारी देते हुए बोले, "महोबा में सिंचाई परियोजना और नए डैम का लोकार्पण हुआ है। झांसी में डिफेंस कॉरिडोर के काम ने गति पकड़ी है। पिछले हफ्ते पूर्वांचल एक्सप्रेसवे यूपी वासियों को समर्पित किया है। उससे एक दिन पहले ही हमने जनजातीय गौरव दिवस बनाया। मध्यप्रदेश में एक बहुत भव्य और आधुनिक रेलवे स्टेशन का लोकार्पण किया गया। इसी महीने महाराष्ट्र में बंदरगाहों, रेलवे स्टेशन, हाईवे का लोकार्पण किया गया। आज नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट का भूमि पूजन हुआ है। हमारी राष्ट्रभक्ति और राष्ट्र सेवा के सामने कुछ राजनीतिक दलों की स्वार्थ नीति कभी टिक नहीं सकती। आज देश में 21वीं सदी की आवश्यकताओं को ध्यान में रखते हुए अनेक आधुनिक प्रोजेक्ट पर तेजी से काम चल रहा है। यही गति, यही प्रगति एक सक्षम और सशक्त भारत की पहचान है। यही प्रगति सुविधा सुगमता से लेकर सामान्य भारतीय की समृद्धि को सुनिश्चित करने वाली है। आप सभी के आशीर्वाद से डबल इंजन सरकार की प्रतिबद्धता से यूपी में इस पर अग्रणी भूमिका निभाएंगे। हम मिलकर आगे बढ़ेंगे। निस्वार्थ भाव के साथ मिलकर आगे बढ़ेंगे।"

अन्य खबरे

Copyright © 2020 - 2021 Tricity. All Rights Reserved.