कार्रवाई : जेवर एयरपोर्ट और फिल्म सिटी का झांसा देकर भूमाफियाओं ने तीन अवैध कॉलोनियां बसाईं, प्राधिकरण का बुलडोजर चला, भारी विरोध भी हुआ

जेवर एयरपोर्ट और फिल्म सिटी का झांसा देकर भूमाफियाओं ने तीन अवैध कॉलोनियां बसाईं, प्राधिकरण का बुलडोजर चला, भारी विरोध भी हुआ

Tricity Today | प्राधिकरण का बुलडोजर चला

जेवर एयरपोर्ट और फिल्म सिटी का काम शुरू होते ही भूमाफिया ने पांव पसारने शुरू कर दिए हैं। दूसरी ओर यमुना प्राधिकरण भूमाफिया और कॉलोनाइजर्स के खिलाफ कड़ी कार्रवाई कर रहा है। इसी सिलसिले में शुक्रवार को जेवर कस्बे में यमुना प्राधिकरण की टीम ने पुलिस की मौजूदगी में अवैध कॉलोनियों को तोडा है। जिससे भूमाफियाओं में हड़कंप मच गया। प्राधिकरण की टीम जब तीसरे स्थान पर अवैध निर्माण को गिराने पहुंची तो लोगों ने विरोध किया। जिससे प्राधिकरण के दस्ते को वापस लौटना पड़ा है।

यमुना विकास प्राधिकरण के ओएसडी नवनीत गोयल और तहसीलदार राजेश श्रीवास्तव के नेतृत्व में दस्ता दयानतपुर मार्ग पर पहुंचा। जहां जेवर बांगर में अवैध रूप से वेदप्रकाश और विकास सिंह ने 4800 वर्गमीटर में अवैध कॉलोनी काटने के लिए चारदीवारी बनाई है। जेसीबी मशीन की मदद से इस निर्माण को खुर्द-बुर्द कर दिया गया है। उसके बाद टीम जेवर खादर मार्ग पर बिजली घर के समीप पहुंची। यहां अवैध तरीके से 1890 वर्ग मीटर में बनायी गयी चार दीवारी समेत दो कमरे और बाथरूम को जेसीबी मशीन ने धराशायी कर दिया गया।



यहां प्राधिकरण दस्ते को विरोध झेलना पड़ा
उसके बाद टीम जेवर के कानीगढ़ी रोड पर प्रमोद और नसरूददीन के अवैध निर्माण को गिराने पहुंची। यहां अवैध तरीके से 12580 वर्ग मीटर में काटी गयी कॉलोनी पर दस्ता पहुंचा था। प्राधिकरण की टीम को कड़े विरोध का सामना करना पड़ा। यहां से बिना ध्वस्तीकरण किए वापस लौटना पड़ा है। इसके बाद शुक्रवार को टीम बिना कोई कार्रवाई किए बैरंग ग्रेटर नोएडा लौट गयी। टीम के जाने के बाद भूमाफियाओं ने राहत की सांस ली है।

जेवर में एयरपोर्ट बनने से भूमाफिया सक्रिय
एयरपोर्ट बनने का रास्ता साफ होने से जेवर क्षेत्र में जमीनों के दामों मे भारी बढ़ोतरी हुई है। किसानों को एयरपोर्ट का मुआवजा मिलने के बाद भूमाफियाओं ने अवैध तरीके से सरकारी व गैर सरकारी जमीनों को कब्जाकर लोगों को गुमराह करके अवैध तरीके से प्लॉट काटकर बेचे जा रहे है। शिकायत के बाबजूद भी जेवर तहसील प्रशासन चुप्पी साधे हुए है। यह भी आरोप है कि भूमाफियाओं की तहसील प्रशासन के कर्मचारियों से  गहरी सांठ गांठ है।

15 दिनों में कॉलोनी खाली करने का अल्टीमेटम
इस मामले में यमुना विकास प्राधिकरण के ओएसडी नवनीत गोयल का कहना है की भूमाफियाओं के खिलाफ कार्रवाई जारी रहेगी। जेवर के कानीगढ़ी रोड पर अवैध तरीके से रह रहे लोगों को 15 दिन का अल्टीमेटम दिया है। उक्त स्थान को खाली करना होगा। अवहेलना करने पर पीएसी और पुलिस बल की मदद से अवैध रूप से रह रहे लोगों को वहां से बलपूर्वक हटाया जायेगा। नामजद भूमाफियाओं के खिलाफ कठोर कानूनी कार्रवाई की जायेगी।

अन्य खबरे

Copyright © 2019-2020 Tricity. All Rights Reserved.