यमुना एक्सप्रेसवे पर क्रैश बीम बैरियर लगाने का काम तेज, हादसे रोकने में मिलेगी मदद

अच्छी खबर : यमुना एक्सप्रेसवे पर क्रैश बीम बैरियर लगाने का काम तेज, हादसे रोकने में मिलेगी मदद

यमुना एक्सप्रेसवे पर क्रैश बीम बैरियर लगाने का काम तेज, हादसे रोकने में मिलेगी मदद

Tricity Today | यमुना एक्सप्रेसवे पर क्रैश बीम बैरियर लगाने का काम तेज

यमुना एक्सप्रेसवे पर क्रैश बीम बैरियर लगाने का काम तेज, हादसे रोकने में मिलेगी मदद Greater Noida News : यमुना एक्सप्रेसवे (Yamuna Expressway) पर हादसों को रोकने के लिए सुरक्षा उपायों पर काम शुरू हो गया है। एक्सप्रेसवे के डिवाइडर के दोनों ओर क्रैश बीम बैरियर लगाए जा रहे हैं। यह काम गुजरात की कंपनी कर रही है। इनके लग जाने से हादसा होने के बाद वाहन दूसरी लेन में नहीं जाएंगे।

ग्रेटर नोएडा से आगरा तक 165 किलोमीटर लंबे यमुना एक्सप्रेसवे पर हादसों को रोकने के लिए दिल्ली आईआईटी से सुरक्षा ऑडिट करवाया गया था। दिल्ली आईआईटी ने यह रिपोर्ट यमुना प्राधिकरण को को सौंपी थी। इस रिपोर्ट पर अब कम होना शुरू हो गया है। आईआईटी ने सुझाव दिया था कि एक्सप्रेसवे के डिवाइडर के दोनों ओर क्रैश बैरियर लगाए जाएं। इसके लगने से हादसे के बाद वाहन दूसरी लेन में नहीं जाएंगे। अक्सर हादसा होने के बाद वाहन दूसरी लें में चले जाते हैं। इससे यह हादसा और बड़ा हो जाता है। दूसरी लेन में चल रहे वाहन चालकों को नहीं पता होता है और अचानक से हादसे वाला वाहन आने से वह भी दुर्घटनाग्रस्त हो जाते हैं। क्रैश बीम बैरियर लगने से इसमें  कमी आएगी।

यमुना एक्सप्रेस वे पर क्रैश बीम बैरियर लगाने का काम तेज हो गया है। गुजरात की कंपनी यह काम कर रही है। यमुना एक्सप्रेस पर प्रबंधन ने यह काम शुरू कराया है। एक्सप्रेसवे पर सुरक्षा उपायों पर 108 करोड रुपए खर्च किए जाने हैं। कोरोना महामारी कम होते ही यह काम शुरू हो गया है। अब इस काम में तेजी आएगी। यमुना प्राधिकरण के सीईओ डॉ.अरुण वीर सिंह ने बताया कि एक्सप्रेसवे पर क्रैश बीम बैरियर लगाने का काम चल रहा है। कंपनी यह काम 18 महीने में पूरा कर लेगी। इससे काफी राहत मिलेगी।

अन्य खबरे

Copyright © 2020 - 2021 Tricity. All Rights Reserved.