योगी आदित्यनाथ ने यमुना फिल्म सिटी प्रोजेक्ट की प्रेजेंटेशन देखी, कहा- विश्वस्तरीय सुविधाएं दें

BIG BREAKING: योगी आदित्यनाथ ने यमुना फिल्म सिटी प्रोजेक्ट की प्रेजेंटेशन देखी, कहा- विश्वस्तरीय सुविधाएं दें

योगी आदित्यनाथ ने यमुना फिल्म सिटी प्रोजेक्ट की प्रेजेंटेशन देखी, कहा- विश्वस्तरीय सुविधाएं दें

Tricity Today | प्रजेंटेशन के बाद चर्चा करते मु्ख्यमंत्री

योगी आदित्यनाथ ने यमुना फिल्म सिटी प्रोजेक्ट की प्रेजेंटेशन देखी, कहा- विश्वस्तरीय सुविधाएं दें Greater Noida Film City: ग्रेटर नोएडा में यमुना एक्सप्रेसवे के किनारे प्रस्तावित फिल्म सिटी (Yamuna Film City) को लेकर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) ने उच्च स्तरीय बैठक की है। यह बैठक सोमवार को लखनऊ में आयोजित की गई। योगी आदित्यनाथ ने राज्य सरकार और यमुना एक्सप्रेसवे औद्योगिक विकास प्राधिकरण (Yamuna Authority) के अफसरों को आदेश दिया है कि यमुना फिल्म सिटी में विश्वस्तरीय सुविधाएं विकसित की जाएं। यह ऐसी फिल्म सिटी बने जिसमें फिल्म निर्माण से जुड़ी हर सुविधा उपलब्ध होनी चाहिए। इस बैठक के दौरान यमुना प्राधिकरण के मुख्य कार्यपालक अधिकारी डॉ.अरुणवीर सिंह ने परियोजना का प्रेजेंटेशन भी मुख्यमंत्री के सामने पेश किया है। जिस पर योगी आदित्यनाथ ने कुछ सुझाव दिए हैं।



दुनिया की अत्याधुनिक तकनीक यहां उपलब्ध हो
उत्तर प्रदेश सरकार ग्रेटर नोएडा में यमुना एक्सप्रेसवे के किनारे एक विश्वस्तरीय फिल्म सिटी का निर्माण करवा रही है। जिसके लिए 1000 एकड़ जमीन यमुना एक्सप्रेसवे औद्योगिक विकास प्राधिकरण आरक्षित कर चुका है। यह मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का ड्रीम प्रोजेक्ट है। इसके लिए मुख्यमंत्री ने खुद मुंबई जाकर फिल्म निर्माण से जुड़ी दिग्गज हस्तियों के साथ बैठक की थी। कई दौर की ऑनलाइन बैठक भी आयोजित की जा चुकी हैं। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ यमुना प्राधिकरण क्षेत्र में एक ऐसी फ़िल्म सिटी का निर्माण करना चाहते हैं, जो इंटरटेनमेंट, इंफॉर्मेशन, डिजिटल वर्ल्ड और फिल्म प्रोडक्शन के क्षेत्र में माइलस्टोन बन जाए। इसके लिए यमुना एक्सप्रेसवे औद्योगिक विकास प्राधिकरण और राज्य सरकार हर संभव काम कर रहे हैं।



योगी आदित्यनाथ को पसंद आई प्रोजेक्ट प्रेजेंटेशन
आपको बता दें कि यमुना प्राधिकरण ने फिल्म सिटी परियोजना के लिए दुनिया की जानी मानी कंसलटेंट फर्म सीबीआरई को हायर किया है। पिछले साल 14 दिसंबर को सीबीआरई को यह जिम्मेदारी सौंपी गई थी। अब कंसलटेंट की ओर से एक प्रेजेंटेशन यमुना प्राधिकरण को सौंपी गई है। यह प्रेजेंटेशन सोमवार को प्राधिकरण के सीईओ अरुणवीर सिंह की अगुवाई में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के सामने पेश की गई है। इस दौरान राज्य के अपर मुख्य सचिव नवनीत सहगल और सूचना निदेशक शिशिर सिंह भी मौजूद थे। प्रेजेंटेशन पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने संतोष जाहिर किया है। उन्होंने कुछ सुझाव यमुना प्राधिकरण और कंसलटिंग फर्म को दिए हैं, जिन्हें जल्दी ही समाहित कर लिया जाएगा। 



पूरी फिल्म बनकर रिलीज होने के लिए बाहर जाए
बैठक के दौरान मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अफसरों को आदेश दिया है कि तकनीकी सुविधाओं और आधारभूत ढांचे के मामले में यह फिल्म सिटी किसी भी तरह कमतर नहीं होनी चाहिए। दुनिया की अत्याधुनिक तकनीक का इस्तेमाल यहां किया जाना चाहिए। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि फिल्म शूटिंग, एडिटिंग, प्रोडक्शन, एनिमेशन, ग्रैफिक्स जैसी सुविधाएं यहां उपलब्ध हों। मुख्यमंत्री ने कहा कि फिल्म निर्माता इस जगह से रिलीज करने के लिए फिल्म लेकर जाएं। उसे किसी काम के लिए किसी दूसरी जगह जाने की जरूरत ना पड़े। इस बात को ध्यान में रखकर परियोजना का विकास किया जाना चाहिए।

यमुना प्राधिकरण के मुख्य कार्यपालक अधिकारी डॉ.अरुणवीर सिंह ने कहा, "मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को फिल्म सिटी की प्रेजेंटेशन पसंद आई है। उन्होंने कुछ सुझाव दिए हैं। उन्हें भी जल्दी ही समाहित कर लिया जाएगा। यह फिल्म सिटी विश्वस्तरीय होगी। इसके लिए कंसलटेंट ने हॉलीवुड और बॉलीवुड की तमाम फिल्म सिटी का अध्ययन किया है।
 

अन्य खबरे

Copyright © 2020 - 2021 Tricity. All Rights Reserved.