फिल्म सिटी पर बुधवार को यमुना प्राधिकरण में होगा महामंथन, जुटेंगी बड़ी हस्तियां

बड़ी खबरः फिल्म सिटी पर बुधवार को यमुना प्राधिकरण में होगा महामंथन, जुटेंगी बड़ी हस्तियां

फिल्म सिटी पर बुधवार को यमुना प्राधिकरण में होगा महामंथन, जुटेंगी बड़ी हस्तियां

Tricity Today | प्रतीकात्मक फोटो

फिल्म सिटी पर बुधवार को यमुना प्राधिकरण में होगा महामंथन, जुटेंगी बड़ी हस्तियां यमुना सिटी क्षेत्र में विकसित की जाने वाली फिल्म सिटी परियोजना के संबंध में 10 फरवरी को एक बजे अहम बैठक की जाएगी। फ़िल्म बंधु की एक टीम प्राधिकरण के कार्यालय में मुख्य कार्यपालक अधिकारी तथा अन्य अफसरों के साथ इसमें शामिल होंगे। इसमें फ़िल्म सिटी प्रोजेक्ट में प्राधिकरण द्वारा किये जा रहे कार्यों की प्रगति पर विचार-विमर्श किया जाएगा। टीम फ़िल्म सिटी की प्रस्तावित जगह सेक्टर-21, यमुना एक्सप्रेस वे का भी दौरा करेगी। यमुना विकास प्राधिकरण के मुख्य कार्यपालन अधिकारी अरुण वीर सिंह ने इस बारे में जानकारी दी। 

उन्होंने बताया कि राजू श्रीवास्तव (अध्यक्ष, उत्तर प्रदेश फ़िल्म विकास परिषद) और बंधु की टीम फिल्म सिटी से जुड़े कार्यों की जानकारी के संबंध में प्राधिकरण कार्यालय पर बैठक करेंगे। इसमें अब तक हुए निर्माण और प्रगति का विश्लेषण किया जाएगा। ताकि यह तय किया जा सके कि यहां कब से फिल्मों से जुड़े कार्य किए जा सकेंगे। प्रदेश में बनने जा रही फिल्म सिटी हॉलीवुड की तरह विकसित की जाएगी। यहां डिजिटल स्टूडियो से लेकर वीएफएक्स स्टूडियो और फिल्म अकादमी बनाई जाएंगी। अमेरिका की सबसे बड़ी कंसल्टिंग फर्म सीबीआरआई एशिया इसके लिए दुनिया भर के फिल्म स्टूडियो और थीम पार्क का अध्ययन कर रही है। 

विदेशी कंपनियां देंगी सुझाव
इसमें हॉलीवुड और डेविड वॉर्नर ग्रुप की फ़िल्म सिटी भी शामिल हैं। अमेरिका के अलावा चीन और जापान की फ़िल्म सिटी में तकनीक व सुविधाओं का आंकलन कम्पनी करेगी। सीबीआरआई कंपनी ने बतौर सलाहकार यमुना एक्सप्रेसवे औद्योगिक विकास प्राधिकरण को विचार पत्र दिया है। उसके मुताबिक पहले चरण में 12 क्षेत्रों पर खास फोकस किया जाएगा। इसमें स्टेट ऑफ आर्ट स्टूडियो, आउटडोर सेट और शूटिंग विलेज शामिल हैं। पोस्ट प्रोडक्शन के क्षेत्र में वीएफएक्स स्टूडियो बनाए जाएंगे। एडिटिंग स्टूडियो होंगे। म्यूजिक डबिंग स्टूडियो भी विश्वस्तरीय होंगे। फिल्म प्रीमियर और फिल्म फेस्टीवल के लिए विशेष आयोजन स्थल होंगे। फिल्म अकादमी भी इस परिसर में अलग से बनेगी।

अत्याधुनिक सुविधाएं मिलेंगी
इसके अलावा फ़िल्म सिटी में पंचतारा होटल, डारमेट्री, रिटेल शॉप, रेस्टोरेंट और मनोरंजन पार्क भी बनेंगे। इसके अलावा फिल्म निर्माण से जुड़ी वस्तुओं और उनका इतिहास संजोता म्यूजियम भी स्थापित किया जाएगा। सलाहकार कंपनी का अथॉरिटी के साथ एमओयू हो चुका है। कम्पनी अगले महीने अपनी विस्तृत कार्य योजना रिपोर्ट पेश करेगी। इसमें फंड कैसे एकत्र किया जाए, इस बिंदु से लेकर इसके मॉडल जैसे मुद्दों पर अपनी सलाह देगी। अभी यह तय होना है कि सरकार इसके निर्माण का खर्च उठाएगी या फिर पीपीपी मॉडल पर इसे विकसित किया जाए। इंटरनेशनल कंसलटेंट कंपनी मुंबई, हैदराबाद, चैन्नई और विदेशों के तमाम फिल्म स्टूडियो संचालकों से बात कर रही है। फिल्म सिटी को लेकर दुनिया भर में चल रही बेस्ट प्रैक्टिसेस के बारे में बताया जाएगा।

अन्य खबरे

Copyright © 2020 - 2021 Tricity. All Rights Reserved.