यमुना एक्सप्रेसवे : कमजोर आंखों वाले और घिसे टायर के साथ नहीं कर पाएंगे सफर, गुरुवार से एक महीने चलेगा बड़ा अभियान

कमजोर आंखों वाले और घिसे टायर के साथ नहीं कर पाएंगे सफर, गुरुवार से एक महीने चलेगा बड़ा अभियान

Tricity Today | Dr. Arunvir Singh IAS

गुरुवार से यमुना एक्सप्रेस वे पर सफर करने वाले लोगों की आंखों की जांच की जाएगी उनके वाहनों के टायरों की भी जांच की जाएगी आईसाइट ठीक होने पर ड्राइवर को सफर करने की इजाजत मिलेगी इसी तरह अगर एक स्तर से ज्यादा टायर कैसे मिले या पुराने हुए तो वाहन को यमुना एक्सप्रेस वे पर सफर नहीं करने दिया जाएगा यह अभियान गुरुवार की सुबह शुरू होगा और अगले 1 महीने तक चलेगा उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के साथ हुई एक बैठक के बाद यमुना एक्सप्रेस वे औद्योगिक विकास प्राधिकरण के मुख्य कार्यपालक अधिकारी डॉ अरुण वीर सिंह ने यमुना एक्सप्रेस वे का संचालन करने वाली कंपनी कोई है आदेश दिया है

सुरक्षित सफर के लिए आज से चलेगा विशेष अभियान
गुरुवार से यमुना एक्सप्रेसवे पर सफर करने वाले लोगों की आंखों की जांच की जाएगी। उनके वाहनों के टायरों की भी जांच की जाएगी।  आई-साइट ठीक होने पर ड्राइवर को सफर करने की इजाजत मिलेगी।  इसी तरह अगर एक स्तर से ज्यादा टायर घिसे मिले या पुराने हुए तो वाहन को यमुना एक्सप्रेसवे पर सफर नहीं करने दिया जाएगा। यह अभियान गुरुवार की सुबह शुरू होगा और अगले एक महीने तक चलेगा। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के साथ हुई एक बैठक के बाद यमुना एक्सप्रेसवे औद्योगिक विकास प्राधिकरण के मुख्य कार्यपालक अधिकारी डॉ.अरुण वीर सिंह ने यमुना एक्सप्रेसवे का संचालन करने वाली कंपनी कोई है आदेश दिया है।

यमुना एक्सप्रेसवे पर सुरक्षित सफर के लिए गुरुवार से एक महीने तक विशेष अभियान चलेगा। यह अभियान सुबह 11.30 बजे से शुरू होगा। इसमें वाहन चालकों को जागरूक किया जाएगा। इसके बावजूद चालकों ने यातायात के नियमों का उल्लंघन किया तो उनके वाहनों का चालान भी काटा जाएगा।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की अध्यक्षता में मंगलवार को सड़क सुरक्षा पर बैठक हुई थी। इस बैठक में यमुना प्राधिकरण के सीईओ डॉ.अरुणवीर सिंह भी शामिल हुए थे। मुख्यमंत्री ने पूरे प्रदेश में विशेष अभियान चलाने के साथ-साथ नियम तोड़ने वालों के खिलाफ कार्रवाई करने के लिए कहा था। गौतमबुद्ध नगर जिले में इस अभियान की शुरुआत यमुना एक्सप्रेसवे से हो रही है। गुरुवार को जेवर टोल प्लाजा पर यातायात नियमों का पालन करने और सुरक्षित सफर के लिए पंफलेट बांटे जाएंगे। 

इसके अलावा वाहन चालकों की आंखों की जांच होगी। अभियान के तहत बिना हेलमेट वाले बाइक चालकों पर भी कार्रवाई की जाएगी। सीईओ डॉ.अरुणवीर सिंह ने बताया कि वाहनों के टायरों की जांच की जाएगी। चालकों को टायरों के रखरखाव के बारे में बताया जाएगा। यमुना एक्सप्रेसवे पर सफर करने के लिए टायर की रबर कम से कम 30 फीसदी बाकी रहनी चाहिए। टायरों में मानकों के मुताबिक हवा होनी चाहिए। अगर नाइट्रोजन हो तो इसे आदर्श माना जाता है।

अन्य खबरे

Copyright © 2019-2020 Tricity. All Rights Reserved.