एचसीएल जूनियर स्क्वैश चैंपियनशिप की घोषणा, विजेता को मिलेंगे 5 लाख रूपये

TricityToday Correspondent

मल्टीनेशनल कंपनी एचसीएल ने अपने पहले एचसीएल जूनियर स्क्वैश चैंपियनशिप की घोषणा की है। स्क्वैश के खेल को बढ़ावा देने के लिए ये टूर्नामेंट 24 से 28 दिसंबर तक ग्रेटर नोएडा की शिवनादर यूनिवर्सिटी में खेला जाएगा। देश के युवा और उभरते स्क्वैश खिलाड़ियों के लिए ये शानदार मंच होगा जहां विजेताओं को 5 लाख रूपये की पुरस्कार राशि ईनाम के रूप में दी जाएगी। इस चैंपियनशिप में कुल 268 खिलाड़ी शामिल हो रहे हैं जिनमें से 30 फीसदी खिलाड़ी नेशनल रैंक होल्डर है।

एचसीएल ने इस टूर्नामेंट को द स्क्वैश रैकेट्स फडरेशन आॅफ इंडिया और उत्तर प्रदेश स्क्वैश रैकेट्स एसोसिएशन के तहत आयोजित किया जा रहा है। दरअसल, स्क्वैश रैकेट फडरेशन आॅफ इंडिया खिलाड़ियों के प्रोफाइल और रैंकिंग का प्रबंधन करता है और यह भारत के साथ विदेशों में इस खेल को बढ़ावा दे रहा है। इस बारे में एचसीएल काॅरपोरेशन के चीफ स्ट्रेटजी आॅफिसर सुंदर महालिंगम ने बताया कि खेलों को बढ़ावा देना एचसीएल के ब्रांड का सिद्धांत है। स्क्वैश का पहला एडिशन लाॅन्च करते हुए बेहद खुशी हो रही है। इसकी मदद से खिलाड़ियों को खुद को निखारने का मौका मिलेगा।

यह चैंपियनशिप नाॅक-आउट फाॅर्मेट में खेली जाएगी। इसके बाद सभी श्रेणियों में बेस्ट-8 स्थानों के प्लेआॅफ आयोजित होंगे। इस अभियान के बारे में स्क्वैश रैकेट्स फडरेशन आॅफ इंडिया के साइरस पोंचा ने कहा कि इस खेल को बढ़ावा देने के लिए एचसीएल के साथ मिलकर काम करने के लिए उत्साहित हैं। यह खेल लगभग 175 देशों में खेला जा रहा है उम्मीद है कि एक दिन स्क्वैश भी क्रिकेट और टेनिस की तरह भारत के घर-घर में लोकप्रिय हो जाएगा।