एटीएम कार्ड बदलकर ठगी करने वाले शातिर गिरफ्तार, सीनियर सिटीजन की मदद के बहाने करते थे ठगी

बुलंदशहर : एटीएम कार्ड बदलकर ठगी करने वाले शातिर गिरफ्तार, सीनियर सिटीजन की मदद के बहाने करते थे ठगी

एटीएम कार्ड बदलकर ठगी करने वाले शातिर गिरफ्तार, सीनियर सिटीजन की मदद के बहाने करते थे ठगी

Google Image | Symbolic Photo

एटीएम कार्ड बदलकर ठगी करने वाले शातिर गिरफ्तार, सीनियर सिटीजन की मदद के बहाने करते थे ठगी Bulandshahr : यूपी के बुलंदशहर जिले की सिकंदराबाद पुलिस ने कई प्रदेशों में एटीएम कार्ड बदलकर ठगी करने वाले आरोपियों को गिरफ्तार किया है। एटीएम कार्ड बदलकर लाखों की ठगी करने वाले आरोपी आम जनता का मेहनत से कमाया हुआ पैसा हड़प लेते थे। गिरफ्तार किए गए आरोपियों के कब्जे से 1,12,800 रुपए, 3 मोबाइल, एक स्विफ्ट डिजायर गाड़ी, 35 एटीएम कार्ड बरामद हुए हैं। पूछताछ में पता चला कि गिरफ्तार आरोपी कई घटनाओं को अंजाम दे चुके हैं। सिकंदराबाद थाना क्षेत्र में भी उन्होंने कई घटनाओं को अंजाम दिया है। इस गिरोह के सदस्य देश के अलग-अलग हिस्सों में जाकर एटीएम कार्ड बदलकर ठगी करते हैं।

पुलिस ने तीनों आरोपियों को किया गिरफ्तार
इस गिरोह के बारे में पुलिस को सूचना मिली थी। सूचना मिलने के बाद पुलिस की टीम ने गुलावठी तिराहे पर बैरियर लगाकर चेकिंग अभियान शुरू कर दिया। बस स्टैंड के गेट के पास से एक गाड़ी आकर रुकी जिसमें तीन आरोपी सवार थे। पुलिस के पास पहले से सूचना होने पर पुलिस ने उन आरोपियों की घेराबंदी शुरू कर दी। दबिश में तीनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया। पकड़े गए आरोपियों में यूनुस, परवेज आलम बुलंदशहर जनपद के निवासी और अंकुर उर्फ सागर जेवर जनपद नोएडा का निवासी शामिल है। गिरफ्तार आरोपियों से सख्ती से पूछताछ करने के बाद पता चला कि आरोपियों ने देश के कई प्रदेशों में एटीएम कार्ड बदलकर ठगी की वारदात को अंजाम दिया है।

आरोपियों पर एक दर्जन से ज्यादा मुकदमे है दर्ज
सभी आरोपियों के पहले से क्रिमिनल रिकॉर्ड है। अंकुर उर्फ सागर पर एक दर्जन से ज्यादा मुकदमे बुलंदशहर और नोएडा में दर्ज है। परवेज आलम और यूनुस पर भी 1 दर्जन से अधिक मुकदमे बुलंदशहर में दर्ज है। पुलिस अब अन्य राज्यों में हुई घटनाओ से इन आरोपियों के तार खोजने में लगी है। एसएसपी श्लोक कुमार ने बताया कि शातिर सीनियर सिटीजन की मदद करने के बहाने उनका एटीएम कार्ड बदल देते थे और उनके अकाउंट से पैसे निकाल लेते थे। पुलिस अब इस गिरोह के अन्य सदस्यों को गिरफ्तार करने के लिए आगे की कार्यवाही में जुट गई है।

अन्य खबरे

Copyright © 2021 - 2022 Tricity. All Rights Reserved.