चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी आपत्तिजनक वीडियो मामले में एक और बड़ा खुलासा, चौथा आरोपी है सेना का जवान

Chandigarh University MMS Case : चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी आपत्तिजनक वीडियो मामले में एक और बड़ा खुलासा, चौथा आरोपी है सेना का जवान

 चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी आपत्तिजनक वीडियो मामले में एक और बड़ा खुलासा, चौथा आरोपी है सेना का जवान

Google Image | चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी आपत्तिजनक वीडियो मामले का चौथा आरोपी

 चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी आपत्तिजनक वीडियो मामले में एक और बड़ा खुलासा, चौथा आरोपी है सेना का जवान Chandigarh : चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी से लड़की द्वारा आपत्तिजनक वीडियो बनाने का मामला हर रोज एक नया मोड़ ले रहा है। फिलहाल इस मामले में एक नई सूचना मिली है। चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी आपत्तिजनक वीडियो मामले का चौथा आरोपी गिरफ्तार हो चुका है। इस मामले का चौथा आरोपी सेना का जवान है। सेना के जवान की गिरफ्तारी अरुणांचल प्रदेश में हुई है। बीते रविवार को पंजाब पुलिस ने उसे दो दिन के ट्रांजिट रिमांड पर मोहाली लेकर पहुंची है। रविवार शाम करीब 4 बजे पुलिस ने आरोपी को खरड़ कोर्ट में ड्यूटी मजिस्ट्रेट के सामने पेश किया।

भारतीय थल सेना ने जारी किए बयान
इस मामले में सेना के जवान को आरोपी पाए जाने और उसकी गिरफ्तारी होने के बाद भारतीय थल सेना की तरफ से बयान जारी किया गया है। सेना की तरफ से जारी बयान में कहा गया कि पंजाब पुलिस द्वारा एक संवेदनशील मामले में चल रही जांच के दौरान यह पता चला है कि एक सेवारत सेना के जवान पर आइपीसी और आइटी अधिनियम की धाराओं के तहत अपराधिक कृत्यों में शामिल होने की संभावना जताई गई है। पुलिस अधिकारियों से सूचना मिलने के तुरंत बाद पंजाब और अरुणांचल प्रदेश पुलिस ने उक्त सैनिक को गिरफ्तार किया है। वहीं आगामी जांच के लिए उसे हिरासत में सौंप दिया गया है। सेना द्वारा जारी किए गए बयान में यह भी कहा गया है कि भारतीय सेना इस तरह के कृत्यों को बिल्कुल बर्दाश्त नहीं करती है और जांच के जल्द निष्कर्ष के लिए हर संभव सहायता जारी रखी जाएगी।

आरोपी छात्रा को ब्लैकमेल करता था जवान
आपको बता दें कि पुलिस को जिस चौथे आरोपी की तलाश थी वह कोई और नहीं बल्कि यह सेना का जवान था। आरोपी पहले से गिरफ्तार आरोपी रंकज वर्मा की फोटो लगाकर आरोपी छात्रा से चैट करता था और उसे वीडियो बनाने के लिए ब्लैकमेल करता था। आरोपी रंकज के भाई पंकज ने मामले की जांच कर रही एसआइटी को सूचित किया कि जिस नंबर से आरोपी छात्रा को ब्लैकमेल किया जा रहा था वह रंकज का नहीं था। शिमला के ढली में रंकज ने इस बारे में शिकायत दी थी और पुलिस थाने में डीडीआर भी दर्ज है।

सेना के जवान से मिले हैं दो मोबाइल
चौथे आरोपी को गिरफ्तार करने के बाद पुलिस ने आरोपी की तलाशी ली। जांच के दौरान मिली सूचना के अनुसार आरोपी जवान से पुलिस ने दो मोबाइल फोन रिकवर किए हैं। पुलिस को शक है कि सेना के जवान ने भी आपत्तिजनक वीडियो डिलिट की है। मोहाली पुलिस दोनों मोबाइल फोन का डाटा रिकवर करने के लिए उन्हें फारेंसिक लैब भेजेगी।

Copyright © 2021 - 2022 Tricity. All Rights Reserved.