गाजियाबाद की वैक्सीन ग्रेटर नोएडा में लगाने वाले मामले में बड़ा सवाल, जिले में कहीं भी वैक्सीन कम नहीं, फिर कहां से आई?

बड़ी खबर : गाजियाबाद की वैक्सीन ग्रेटर नोएडा में लगाने वाले मामले में बड़ा सवाल, जिले में कहीं भी वैक्सीन कम नहीं, फिर कहां से आई?

गाजियाबाद की वैक्सीन ग्रेटर नोएडा में लगाने वाले मामले में बड़ा सवाल, जिले में कहीं भी वैक्सीन कम नहीं, फिर कहां से आई?

Tricity Today | ग्रेटर नोएडा में वैक्सीन लगाने वाले आरोपी

गाजियाबाद की वैक्सीन ग्रेटर नोएडा में लगाने वाले मामले में बड़ा सवाल, जिले में कहीं भी वैक्सीन कम नहीं, फिर कहां से आई? Ghaziabad News : गाजियाबाद से कोविड वैक्सीन (Covid Vaccine) चोरी कर ग्रेटर नोएडा (Greater Noida) में लोगों को लगाने वाले मामले में स्वास्थ्य विभाग (Health Department) ने अपनी जांच पूरी कर ली है। इस मामले में जीबी नगर (Gautam Buddh Nagar) में पकड़े गए स्वास्थ्यकर्मी और एक एएनएम को बर्खास्त किया जा चुका है। इसके अलावा 2 सदस्सीय जांच कमेटी ने 8 लोगों को नोटिस जारी किया था। 

ग्रेटर नोएडा के गांवों में वैक्सीन लगवाते मिले थे
अधिकारियों का कहना है कि न्यू पीएचसी बुद्ध विहार पर वैक्सीन का मिलान किया गया था। जिसमें कोई गड़बड़ी नहीं मिली है। फिर सवाल यह उठता है कि आखिर जो वैक्सीन जीबी नगर में आरोपितों के पास से मिली वो कहां से आई थी। जीबी नगर के इकोटेक-3 थाना पुलिस ने 27 सितंबर को यूपीएचसी बुद्ध विहार पर कार्यरत एक संविदाकर्मी सुशील और उसके साथी रवि को खेड़ा के चौगानपुर क्षेत्र से घर-घर जाकर लोगों को वैक्सीन लगाते दबोचा था। उनके पास से वैक्सीन की 19 वॉयल और 155 सीरींज बरामद हुई थीं। जिनमें से 4 वॉयल खाली थीं और 30 सीरींज प्रयोग की जा चुकी थीं। 

एएनएम रीना के खिलाफ जांच शुरु हुई
इस मामले में गाजियाबाद स्वास्थ्य विभाग ने संविदाकर्मी को तुरंत बर्खास्त कर दिया था और बुद्ध विहार पीएचसी पर तैनात एएनएम रीना के खिलाफ जांच शुरु कर दी थी। जांच अधिकारी डॉ.आरके गुप्ता के अनुसार पीएचसी पर तीन एएनएम और एक स्टाफ नर्स की नियुक्ति थी। लेकिन घटना के 10 दिन पहले से दो एएनएम और स्टाफ नर्स को दूसरी जगह ड्यूटी पर भेजा गया था। जिसके कारण वहां केवल रीना की ड्यूटी थी और वैक्सीन की पूरी जिम्मेदारी भी उसी पर थी। 

गाजियाबाद में कहीं भी वैक्सीन कम नहीं
जीबी नगर में दर्ज रिपोर्ट के अनुसार पकड़े गए आरोपितों ने रीना से वैक्सीन लेने की बात कही है। जिसके आधार पर रीना को नोटिस जारी किया गया था। लेकिन उसकी ओर से ना तो कई जवाब आया और ना ही वह घर पर मिली। उसके घर पर ताला लगा था। पीएचसी पर वैक्सीन मिस मैच नहीं होने पर आरोपितों के पास वैक्सीन कहां से आई। इस पर स्वास्थ्य अधिकारियों का कहना है कि यह पुलिस जांच का विषय है। जिले में कहीं भी वैक्सीन कम या ज्यादा नहीं पाई गई है।

अन्य खबरे

Copyright © 2020 - 2021 Tricity. All Rights Reserved.