प्रॉपर्टी के फर्जी दस्तावेजों के जरिए बैकों और खरीदार को 7 करोड़ का चूना लगाने वाला दंपत्ति गिरफ्तार, 6 महीने से थे फरार

गाजियाबाद : प्रॉपर्टी के फर्जी दस्तावेजों के जरिए बैकों और खरीदार को 7 करोड़ का चूना लगाने वाला दंपत्ति गिरफ्तार, 6 महीने से थे फरार

प्रॉपर्टी के फर्जी दस्तावेजों के जरिए बैकों और खरीदार को 7 करोड़ का चूना लगाने वाला दंपत्ति गिरफ्तार, 6 महीने से थे फरार

Tricity Today | प्रॉपर्टी के फर्जी दस्तावेजों के जरिए बैकों और खरीदार को 7 करोड़ का चूना लगाने वाला दंपत्ति गिरफ्तार

प्रॉपर्टी के फर्जी दस्तावेजों के जरिए बैकों और खरीदार को 7 करोड़ का चूना लगाने वाला दंपत्ति गिरफ्तार, 6 महीने से थे फरार गाजियाबाद में हैरान कर देने वाली जालसाजी का खुलासा हुआ है। जनपद की मसूरी पुलिस ने एक ऐसे दंपति को गिरफ्तार किया है, जो एक ही प्रॉपर्टी पर दो बैंकों से लोन लेने के बाद उसे बेच कर फरार हो जाते थे। ये दोनों प्रॉपर्टी के असली दस्तावेज एक बैंक में जमा कर करोड़ों का लोन लेते थे। बाद में दूसरे बैंक से फर्जी दस्तावेज के आधार पर लोन हासिल करते थे। उसके बाद प्रॉपर्टी को फर्जी तरीके से बेचकर फरार हो जाते थे। इन पर 7 करोड़ रुपये की ठगी का आरोप है। ये पिछले 6 माह से फरार चल रहे थे। 

दो बैकों से करोड़ों का लोन लिया
पकड़े गये दंपत्ति इतने शातिर हैं कि पहले प्रॉपर्टी के असली दस्तावेज पंजाब नेशनल बैंक में गिरवी रखकर करीब साढे तीन करोड़ रुपये का लोन ले लिया। फिर प्रॉपट्री के फर्जी दस्तावेज तैयार कर दूसरे प्राइवेट बैंक से भी करीब डेढ करोड़ का लोन लिया। उसके बाद फर्जी दस्तावेज के आधार पर उसी प्रॉपर्टी को 2 करोड़ में बेचकर चंपत हो गये। ठगी का पता चलने पर पीड़ित ने मसूरी थाने में मुकद्मा दर्ज कराया। उसके बाद से ही पुलिस मामले की छानबीन कर रही थी।

नवंबर 2020 में दर्ज कराया मुकदमा
एसपी ग्रामीण डॉ ईरज राजा ने बताया कि इंदिरापुरम निवासी संजू पत्नी ओपी सिंह ने नवंबर 2020 में एक दंपत्ति के खिलाफ मुकद्मा दर्ज कराया था। जांच करने पर पता चला कि दंपत्ति ने दो बैंकों से लोन लेने के बाद प्रॉपर्टी को इंदिरापुरम निवासी संजू पत्नी ओपी सिंह को दो करोड़ रुपये में बेच दिया। रुपये वापस मांगने पर आरोपी पीड़ित को जान से मारने की धमकी दे रहे थे। मसूरी थाना प्रभारी शैलेन्द्र प्रताप सिंह की टीम ने 6 माह से फरार चल रहे इन्द्रजीत पुत्र महेंन्द्र सिंह निवासी केडब्लू सृष्टि अपार्टमेंट राजनगर एक्सटेंशन को पत्नी समेत घर से गिरफ्तार कर लिया। 

आपराधिक इतिहास खंगाल रही है पुलिस
एसपी ग्रामीण ने बताया कि आरोपी इन्द्रजीत शातिर किस्म का है। इसने पहले आकाश नगर में अपनी प्रॉपर्टी के कागजात पंजाब नेशनल बैंक में रखकर करीब 3 करोड़ 52 लाख 63 हजार रुपये का लोन ले लिया। उसके बाद फर्जी कागजात तैयार कर दूसरे बैंक से भी करीब डेढ़ करोड़ रूपए का लोन लिया। इसके बाद उक्त प्रॉपर्टी को फर्जी कागजात के आधार पर संजू पत्नी ओपी सिंह को बेचकर फरार हो गये। संजू अपने परिवार के साथ यहां रहने लगी। किस्त जमा न होने पर बैंक के नोटिस आए, तो ठगी का पता चला। पीड़ित ने घटना की शिकातय थाने में दर्ज कराई। पुलिस आरोपियों का आपराधिक इतिहास भी खंगाल रही है। उनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई कर रही है।

अन्य खबरे

Copyright © 2020 - 2021 Tricity. All Rights Reserved.