मस्ती करने के लिए मां-बेटी ने देश की रक्षा करने वाले को लगाया 15 लाख का चूना, ऐसे हुआ खुलासा

गाजियाबाद : मस्ती करने के लिए मां-बेटी ने देश की रक्षा करने वाले को लगाया 15 लाख का चूना, ऐसे हुआ खुलासा

मस्ती करने के लिए मां-बेटी ने देश की रक्षा करने वाले को लगाया 15 लाख का चूना, ऐसे हुआ खुलासा

Google Image | मस्ती करने के लिए मां-बेटी ने देश की रक्षा करने वाले को लगाया 15 लाख का चूना

Ghaziabad : आज हम आपको गाजियाबाद की एक ऐसी मां-बेटी से मिलवा आते हैं, जिन्होंने रिटायर आर्मी ऑफिसर के बेटे को निशाना बनाया। इन्होंने पीड़ित को नौकरी दिलवाने का झांसा दिया और लाखों रुपए ऐंठ लिए थे। उसके बाद दोनों मौज-मस्ती करने के लिए गाजियाबाद छोड़कर भाग गईं। पुलिस ने दोनों मां-बेटी को गिरफ्तार कर लिया है।

इंडियन आर्मी से रिटायर अधिकारी को लगाया चुना
दरअसल, गाजियाबाद के शास्त्रीनगर में स्थित महेंद्रा एंक्लेव में होरीलाल रहते हैं। होरीलाल इंडियन आर्मी से रिटायर अधिकारी हैं। चिरंजीव विहार में उनकी एक दुकान है। इस दुकान के पास ही काजल भारद्वाज और उसकी बेटी इशिका भारद्वाज काफी समय से किराए पर रह रही थीं।

नौकरी के नाम पर 20 लाख रुपए मांगे थे
होरीलाल ने पुलिस को शिकायत देते हुए बताया कि दोनों महिलाओं ने उनकी पत्नी ममता को झांसे में लेकर बेटे की सरकारी नौकरी लगवाने का झांसा दिया। नौकरी के नाम पर मां-बेटी ने 20 लाख रुपए मांगे। अपने बेटे को नौकरी दिलवाने के लिए ममता ने काजल भारद्वाज और इशिका भारद्वाज को 15 लाख रुपए दे दिए थे, लेकिन उसके बावजूद भी उन्होंने कोई नौकरी नहीं लगवाई। फिर कुछ दिनों बाद दोनों मां-बेटी वहां से चली गई।

बागपत में भी मुकदमे दर्ज
मिली जानकारी के मुताबिक पीड़ित व्यक्ति को जब ठगी का अहसास हुआ तो उसने कोतवाली में मुकदमा पंजीकृत करवाया। जिसके बाद पुलिस ने मंगलवार को काजल और इशिता को गिरफ्तार किया है। पुलिस को जांच के दौरान पता चला है कि दोनों मूलरूप से बिजनौर की रहने वाली हैं। इन दोनों मां-बेटी ने ठगी की रकम से आभूषण खरीदे थे। पुलिस ने इनके कब्जे से 15 लाख रुपए की ज्वेलरी बरामद की है। जांच में यह भी पता चला है कि इन मां-बेटी के खिलाफ बागपत में मारपीट और धमकी देने का भी मुकदमे दर्ज है।

Copyright © 2022 - 2023 Tricity. All Rights Reserved.