गाजियाबाद : वैशाली के अपार्टमेंट में लगी भीषण आग, फायर ब्रिगेड के दस्ते ने जान पर खेलकर बचाई डॉक्टर दम्पति और बेटी की जान

वैशाली के अपार्टमेंट में लगी भीषण आग, फायर ब्रिगेड के दस्ते ने जान पर खेलकर बचाई डॉक्टर दम्पति और बेटी की जान

Tricity Today | लीला हाउस अपार्टमेंट में आग लगी

गाजियाबाद के वैशाली में बुधवार की सुबह एक बड़ा हादसा फायर ब्रिगेड के बहादुर दस्ते ने टाल दिया। यहां के एक अपार्टमेंट में छठी मंजिल पर भीषण आग लग गई। जिसमें एक डॉक्टर दंपत्ति और उनकी बेटी फंस गए। तीनों अपनी जान बचाने के लिए फ्लैट की बालकनी पर आ गए। आनन-फानन में फायर ब्रिगेड को सूचना दी गई। फायर ब्रिगेड का दस्ता मौके पर पहुंचा और तीनों को बचाकर बाहर निकाला। फ्लैट में आग बुझाने के लिए फायर ब्रिगेड को कड़ी मशक्कत करनी पड़ी। कर्मचारियों की बहादुरी देखकर सोसाइटी के लोगों ने बड़ी प्रशंसा की है। डॉक्टर और उनके परिवार ने भी फायर ब्रिगेड के दस्ते को धन्यवाद ज्ञापित किया।

गाजियाबाद के चीफ फायर ऑफिसर ने बताया कि बुधवार की सुबह करीब सात बजे वैशाली में महागुन माल के पास लीला हाउस अपार्टमेंट में आग लगने की सूचना मिली थी। तुरंत फायर ब्रिगेड की तीन गाड़ियां घटनास्थल के लिए रवाना की गईं। आग अपार्टमेंट के छठे फ्लोर पर लगी थी। वहां डॉ.पुनीत कालरा के फ्लैट के ड्राइंग रूम में भीषण आग लगी थी। समस्या यह थी कि डॉ.पुनीत कालरा अपनी पत्नी सुजाता कालरा और बेटी विशारदा कालरा के साथ बेड रूम में थे। उनके घर से बाहर निकलने का रास्ता आग और धुंए से भर गया था। तीनों जाना बचाने के लिए बालकनी में आ गए थे। फायर ब्रिगेड की टीम ने सूझबूझ का परिचय दिया। एक पाइप और सीढ़ियों के रास्ते से आग को बुझाने का काम शुरू किया गया। दूसरी तरफ फायर टेंडर का मॉनीटर आग बुझाने के लिए इस्तेमाल किया गया।

सीएफओ ने बताया कि अग्निशमन यूनिट ने अपनी जान को जोखिम में डालते हुए आग बुझाने की कार्यवाही जारी रखी। सबसे महत्वपूर्ण उद्देश्य बालकनी में फंसे कालरा दम्पति और उनकी बेटी को दूसरे फ्लैट की बालकनी में सुरक्षित पहुंचाना था। फायर ब्रिगेड के दस्ते ने तीनों को फ्लैट के पिछले हिस्से से ही पड़ोसी फ्लैट की बालकनी में पहुंचा दिया। तीनों पूरी तरह सुरक्षित है। फ्लैट में लगी आपको भी बुझा लिया गया है। हालांकि, घर में बड़ा नुकसान हुआ है। आग लगने की वजह अभी पता नहीं चली है। जांच की जा रही है।

दूसरी ओर हादसे के चलते पूरी सोसाइटी में चिंता व्याप्त हो गई। भारी भीड़ डॉक्टर दंपत्ति के फ्लैट के नीचे एकत्र हो गई। लोग चीख चिल्ला रहे थे। जिसकी वजह से डॉक्टर दंपत्ति ज्यादा परेशान हो रहे थे। अग्निशमन दस्ते ने लोगों को समझाया कि शांत रहें और बचाव कार्य करने दें। सोसाइटी के सिक्योरिटी स्टाफ ने अग्निशमन दस्ते को मदद की फायर ब्रिगेड के कर्मचारियों की बहादुरी और तत्परता को देखकर सोसाइटी के लोग गदगद हैं। सोसाइटी ने फायर डिपार्टमेंट को धन्यवाद ज्ञापित किया है।

अन्य खबरे

Copyright © 2020 - 2021 Tricity. All Rights Reserved.