गाजियाबाद : पति-पत्नी ने बिटकॉइन के नाम पर एडमिन एग्जीक्यूटिव से किया 26.60 लाख का फर्जीवाड़ा, थाईलैंड भी ले गए

पति-पत्नी ने बिटकॉइन के नाम पर एडमिन एग्जीक्यूटिव से किया 26.60 लाख का फर्जीवाड़ा, थाईलैंड भी ले गए

Google Image | प्रतीकात्मक फोटो

बिटकॉइन मे रकम निवेश करने पर तीन महीने में कई गुना रकम का लुभाना लालच देकर पति-पत्नी ने स्कूल के एडमिन एग्जीक्यूटिव के साथ 26,60 लाख रुपए का फ्रॉड कर दिया है। दिए गए समय पर जब रकम प्रॉफिट के साथ वापस नहीं दी गई तो रकम मांगी गई। इस पर दंपत्ति रकम मांगने पर बुरा अंजाम बहुत लेने की धमकी देने लगे। मामले की मधुबन बापूधाम थाने में दंपत्ति के खिलाफ नामजद रिपोर्ट दर्ज कराई गई है। 

पुलिस का कहना है कि जांच पड़ताल कर कार्रवाई की जा रही है। जागृति विहार सेक्टर-23 संजय नगर निवासी निकुंज शर्मा एक नामचीन स्कूल में एडमिन एग्जीक्यूटिव है। उन्होंने बताया कि उनकी पहचान मेरठ के मोदीपुरम पल्लवपुरम निवासी नवनीत सिंह और उनकी पत्नी पूजा सागवान से हुई थी। बातचीत के दौरान दंपत्ति ने उनसे कहा कि वह प्लॉट खरीदने के बाद फ्लैट बनाकर बेचते हैं। इसके लिए उन्हें एक अच्छे पार्टनर की जरूरत है। उन्होंने बताया कि इस पर उन्होंने पार्टनर बनने की इच्छा जताई। जिस पर उनसे 30 लाख रुपए की मांग की गई। 

उन्होंने बताया कि जिस पर उन्होंने 20 लाख रुपए कैश और 6, 60 लाख का चेक दे दिया। बाद में उनसे कहा गया कि फ्लैट बेचने के काम में मुनाफा नहीं आ रहा है। इसलिए वह नया व्यापार शुरू कर रहे हैं। जिसमें बिटकॉइन में रकम निवेश की जाएगी। कहां गया कि उनकी पूरी रकम बिटकॉइन में निवेश की जा रही है, जो तीन महीने में कई गुना होकर मिलेगी। 

निकुंज शर्मा ने बताया कि तीन महीने बाद जब उन्हें रकम प्रॉफिट के साथ वापस नहीं मिली तो दंपत्ति से रकम की मांग की गई। जिस पर काफी दिनों तक तो दंपत्ति उन्हें इधर उधर की बातें करते हुए टरकाते रहे। बाद में उन्हें रकम वापस मांगने पर तरह-तरह की धमकियां देने लगे। पुलिस का कहना है कि पूरे मामले की गंभीरता से जांच पड़ताल की जा रही है। इसके बाद आगामी कार्रवाई की जाएगी। धोखाधड़ी का शिकार हुए निकुंज शर्मा ने बताया कि जब उन्होंने दी गई रकम वापस मांगी तो पूजा सागवान ने उन्हें अपने खाते का 10 लाख रुपए का चेक दिया, जो बाउंस हो गया। इसके बाद उनके पति नवनीत सिंह ने साढ़े तीन लाख रुपए का दोबारा से चेक दिया। जिसे वापस ले लिया गया।

दंपत्ति अपने खर्च पर ले गया था थाईलैंड -
पीडि़त ने बताया कि बिटकॉइन में रकम निवेश करने के दौरान उन्हें बताया गया था कि एक तो रकम मुनाफे के साथ वापस मिलेगी। इसके साथ ही उन्हें विदेश अपने खर्चे पर ले जाया जाएगा। दंपत्ति उन्हें अपने खर्च पर थाईलैंड ले गया था। निकुंज शर्मा ने बताया कि उनके साथ दंपत्ति द्वारा की गई धोखाधड़ी की शिकायत उन्होंने पुलिस से की थी, लेकिन जब पुलिस ने मामले में कोई कार्यवाही नहीं की तो इसकी शिकायत वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक कलानिधि नैथानी से की गई। उनके आदेश पर अब कहीं जाकर मधुबन बापूधाम थाना पुलिस ने दंपत्ति के खिलाफ नामजद रिपोर्ट दर्ज की है।

अन्य खबरे

Copyright © 2019-2020 Tricity. All Rights Reserved.