आरोपी को पब्लिक ने पीटा, छुड़ाने के पहुंची 4 थानों की पुलिस

गाजियाबाद में डॉक्टर की बेटी के किडनैप का प्रयास : आरोपी को पब्लिक ने पीटा, छुड़ाने के पहुंची 4 थानों की पुलिस

आरोपी को पब्लिक ने पीटा, छुड़ाने के पहुंची 4 थानों की पुलिस

Google Image | पुलिस फोर्स मौके पर पहुंची

Ghaziabad : राजनगर एक्सटेंशन स्थित चार्म्स कैसल हाउसिंग सोसाइटी में सोमवार रात हंगामा हुआ। सोसाइटी के पार्क में खेल रही डॉक्टर की मासूम बेटी को एक शख्स उठाकर ले जा रहा था। अपहरण के शक में भीड़ ने उसको पकड़ लिया और बच्ची को छुड़ाया। फिर आरोपी की पिटाई कर दी। पुलिस ने बमुश्किल आरोपी को लोगों से छुड़ाया और अपनी कस्टडी में ले लिया। इसके बाद भी हंगामा करते लोगों का गुस्सा शांत नहीं हुआ। एक बार फिर आरोपी को पुलिस कस्टडी से छुड़ा लिया और पिटाई कर दी। इसके बाद चार थानों की फोर्स को बुलाना पड़ा। तब हालात संभाले जा सके। फिलहाल हिरासत में लिया गया युवक अपने ऊपर लगे आरोपों से इनकार करता रहा। उसकी पहचान बदायूं के रतन के रूप में हुई है। 

लोगों ने कहा- बच्चा चोर आ गया 
सोसाइटी में रहने वाले डॉक्टर भावेश चौधरी की डेढ़ साल बेटी अद्विका सोमवार रात करीब 9 बजे अन्य बच्चों के साथ पार्क में खेल रही थी। इस दौरान एक अज्ञात व्यक्ति ने उसे कुछ खाने का लालच देकर गोद में उठा लिया और चलने लगा। सोसाइटी में घूम रहे अन्य लोगों ने उसे ऐसा करते देख लिया और बच्चा चोरी का शोर मचा दिया। आस-पास के लोग इकट्ठा हो गए। उन्होंने संदिग्ध आरोपी को पकड़ लिया और मासूम बच्ची को कब्जे में ले लिया। इतने में सोसाइटी के वॉट्सऐप ग्रुप पर मैसेज वायरल हो गया कि बच्चा चोर गैंग घुस आया है, सभी अपने-अपने बच्चों को देख लें। बस फिर क्या था, सोसाइटी में रहने वाले रेजिडेंट्स अपने-अपने फ्लैट से बाहर सोसाइटी के कॉमन एरिया में इकट्ठा हो गए। उन्होंने आरोपी को मारना शुरू कर दिया। सबसे पहले नंदग्राम थाना क्षेत्र स्थित मोरटा चौकी के प्रभारी पहुंचे। उन्होंने भीड़ के कब्जे से संदिग्ध आरोपी को छुड़ाया। 

माहौल को शांत करने के लिए 4 थानों की पुलिस पहुंची
पूछताछ में संदिग्ध व्यक्ति ने बताया कि वो बच्चा चोरी नहीं कर रहा था, बल्कि उसको गोद में खिला रहा था। सोसाइटी में ही रहने वाले तीन लोग उसके साथ थे। वो किसी गलत इरादे से सोसाइटी में नहीं आया था। इसी दौरान भीड़ ने आरोपी को पुलिस के कब्जे से छुड़ा लिया और पिटाई शुरू कर दी। हंगामा बढ़ने की सूचना पर नंदग्राम, कोतवाली, सिहानी गेट और कोतवाली थाने के एसएचओ पुलिस फोर्स लेकर पहुंच गए। इधर, डिजिटल वालंटियर फोर्स के रामकुमार पवार, अंकित गुप्ता, सौरभ चौधरी, राजीव झा और विजय नारायण भी आ गए। इन्होंने जैसे-तैसे भीड़ को समझाया। फिर पुलिस, आरोपी को लेकर नंदग्राम थाने पर गई। 

आरोपी की पहचान हुई
नंदग्राम थाना प्रभारी प्रदीप कुमार त्रिपाठी ने बताया कि पकड़ा गया व्यक्ति रतन है। वो मूल रूप से बदायूं का रहने वाला है। डॉक्टर भावेश चौधरी ने उसके खिलाफ बेटी के किडनैप का प्रयास करने की एफआईआर कराई है। आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है और कोर्ट में पेश किया जाएगा। पूछताछ से आरोपी मानसिक रूप से विक्षिप्त जैसा लग रहा है। इसलिए वो बार-बार अपने बयान बदल रहा है और कोई ठोस बात नहीं बता पा रहा। ऐसा भी लग रहा है, जैसे वो नशे की हालत में हो। इसलिए पुलिस उसका मेडिकल कराएगी।

Copyright © 2022 - 2023 Tricity. All Rights Reserved.