UP Budget 2021: आरआरटीएस कॉरिडोर के निर्माण को मिलेगा बल, लाखों यात्रियों को मेरठ पहुंचने में मिलेगी सहूलियत

आरआरटीएस कॉरिडोर के निर्माण को मिलेगा बल, लाखों यात्रियों को मेरठ पहुंचने में मिलेगी सहूलियत

Google Image | बजट में रेल कॉरिडोर के लिए राशि आवंटित

उत्तर प्रदेश सरकार ने दिल्ली-गाजियाबाद-मेरठ आरआरटीएस कॉरिडोर के निर्माण के लिए बजट में 1326 करोड़ रुपए का प्रावधान किया है। इससे इस कॉरिडोर के निर्माण कार्य में तेजी आएगी। गाजियाबाद-मेरठ के बीच बनने वाला आरआरटीएस कॉरिडोर उत्तर प्रदेश सरकार की महत्वाकांक्षी परियोजनाओं में से एक है। इसका निर्माण कार्य पूरा होने के बाद दिल्ली से गाजियाबाद होते हुए मेरठ तक आसानी से पहुंचा जा सकेगा। पहले इसे बनाने की जिम्मेदारी चीन की एक कंपनी को सौंपी गई थी। पर बाद में गलवान घाटी में हुए संघर्ष के बाद चीनी कंपनी से करार खत्म कर दिया गया था। 

बजट में राशि आवंटित होने से इस कॉरिडोर के निर्माण कार्य को बल मिलेगा। इसके साथ ही सरकार ने आगरा, कानपुर और गोरखपुर मेट्रो रेल परियोजनाओं के लिए भी फंड प्रस्तावित किया है। बजट में विभिन्न मेट्रो रेल परियोजनाओं के लिए कुल 1,175 करोड़ रुपए की राशि आवंटित की गई है। आगरा में पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए राज्य सरकार मेट्रो रेल के विकास को प्राथमिकता दे रही है।

शहर में मेट्रो रेल परियोजना के लिए बजट में 478 करोड़ रुपए की राशि प्रस्तावित है। प्रोजेक्ट के पहले चरण के तहत ताज ईस्ट गेट से जामा मस्जिद के बीच ट्रायल रन आगामी 31 जुलाई को शुरू करने का लक्ष्य है। साथ ही इसे आम यात्रियों के लिए 30 नवंबर तक पूरा किया जाएगा। इससे आगरा में पर्यटन को बढ़ावा मिलेगा। साथ ही व्यापार और उद्योग को बल मिलेगा। सोमवार को पेश बजट में कानपुर मेट्रो रेल परियोजना के लिए 597 करोड़ रुपए की व्यवस्था की गई है। 

बताते चलें कि कानपुर मेट्रो का निर्माण कार्य पूरी रफ्तार से जारी है। राज्य सरकार पहले चरण मंड प्राथमिक सेक्शन आईआईटी कानपुर से मोतीझील के बीच ट्रायल रन करेगी। इसके लिए आगामी 31 जुलाई की तिथि तय की गई है। आगामी 30 नवंबर तक इस मेट्रो रेल को आम लोगों के लिए शुरू किया जाएगा। बजट में वाराणसी, गोरखपुर और अन्य शहरों में मेट्रो रेल परियोजना के लिए 100 करोड़ रुपए की राशि आवंटित की गई है।

अन्य खबरे

Copyright © 2019-2020 Tricity. All Rights Reserved.