महिला को गोलियों से किया छलनी, भाजपा विधायक के मामा की हत्या और बिल्डर विक्रम त्यागी अपहरण से जुड़े तार

बड़ी खबर : महिला को गोलियों से किया छलनी, भाजपा विधायक के मामा की हत्या और बिल्डर विक्रम त्यागी अपहरण से जुड़े तार

महिला को गोलियों से किया छलनी, भाजपा विधायक के मामा की हत्या और बिल्डर विक्रम त्यागी अपहरण से जुड़े तार

Tricity Today | सारिका और मिंटू

महिला को गोलियों से किया छलनी, भाजपा विधायक के मामा की हत्या और बिल्डर विक्रम त्यागी अपहरण से जुड़े तार गाजियाबाद के नंदग्राम क्षेत्र स्थित सिहानी सद्दीकनगर में मंगलवार सुबह कुलदीप उर्फ मिंटू त्यागी ने अपनी पत्नी सारिका (25) की गोलियों से भूनकर हत्या कर दी। घटना के बाद आरोपी मौके से फरार हो गया। मृतका के परिजनों ने दहेज में 50 लाख की मांग पूरी न होने पर हत्या का आरोप लगाते हुए हंगामा शुरू कर दिया। 

परिजनों का आरोप- दहेज नहीं मिलने के कारण की हत्या
परिजनों का आरोप है कि दहेज की मांग को लेकर मिंटू अपनी पत्नी सारिका को प्रताडि़त करता था। कई दिनों से वह उसके साथ मारपीट कर रहा था। मंगलवार को सारिका फोन पर अपनी मां से मिंटू की शिकायत कर रही थी। तभी उसने उस पर गोलियां बरसा दीं। परिजनों की तहरीर पर पुलिस ने मिंटू और उसके पिता मूलचंद त्यागी के खिलाफ दहेज हत्या का केस दर्ज कर उनकी तलाश शुरू कर दी है। 

फरवरी 2020 में हुई थी शादी
थाना बुढ़ाना मुजफ्फरनगर के गांव उपावली निवासी ब्रह्मपाल त्यागी ने अपनी पुत्री सारिका की शादी फरवरी 2020 में सिहानी सद्दीकनगर निवासी कुलदीप उर्फ मिंटू त्यागी के साथ की थी। ब्रह्मपाल त्यागी का कहना है कि उन्होंने अपनी बेटी का रिश्ता एक रुपए का तय किया था। इसके बावजूद उन्होंने अपनी सामर्थ्य से अधिक दान दहेज दिया। 

शादी के बाद से प्रताड़ित करना शुरू किया
आरोप है कि शादी के बाद से ही मिंटू और उसका पिता मूलचंद दहेज में 50 लाख रुपए की मांग करते हुए सारिका को प्रताडि़त करने लगे। मांग पूरी न होने पर सारिका के साथ मारपीट की जाती थी। इसको लेकर मिंटू और सारिका के बीच में विवाद भी रहता था। ब्रह्मपाल त्यागी का कहना है कि उन्होंने बेटी के ग्रस्त जीवन को देखते हुए कई बार मिंटू और उसकी पिता की प्रताडऩा को नजर अंदाज किया। कई बार पंचायतों का दौर भी चला। शुरुआत में सब ठीक रहता, लेकिन कुछ दिन बाद सारिका को फिर से प्रताडि़त करना शुरू कर दिया जाता था। 

मां को सुनाई आपबीती तो गोली मारकर मौत के घाट उतारा 
परिजनों का कहना है कि मिंटू कुछ दिनों से सारिका के साथ मारपीट कर रहा था। मंगलवार सुबह करीब 11:45 बजे सारिका मां को फोन पर आपबीती बता रही थी। इसी दौरान तैश में आए मिंटू ने उस पर गोलियां बरसा दीं। पेट और कनपटी में 4 गोलियां लगने से सारिका की मौके पर ही मौत हो गई। घटना के बाद मिंटू मौके से फरार हो गया। पड़ोसियों की सूचना पर मुजफ्फरनगर से मृतका के परिजन मौके पर पहुंच गए। वहीं, पुलिस भी आ गई। दहेज में 50 लाख रुपए न मिलने पर कुलदीप उर्फ मिंटू तथा उसके पिता मूलचंद त्यागी द्वारा सारिका की हत्या करने का आरोप लगाते हुए परिजनों ने हंगामा कर दिया। पुलिस ने समझा-बुझाकर परिजनों को शांत किया और शव पोस्टमार्टम के लिए भेजा। 

भाजपा विधायक के मामा की हत्या और बिल्डर विक्रम त्यागी अपहरण से जुड़े तार
सीओ द्वितीय अवनीश कुमार कुमार ने बताया कि कुलदीप उर्फ मिंटू अपराधिक प्रवृत्ति का व्यक्ति है। उस पर आधा दर्जन से अधिक मामले दर्ज हैं। वह पूर्व में नगर कोतवाली क्षेत्र में तुराबनगर के कारोबारी की हत्या में भी जेल जा चुका है। इसके अलावा नंद ग्राम पुलिस ने उसे अवैध असलहा के साथ हुई गिरफ्तार किया था पिछले साल भाजपा विधायक अजीत पाल त्यागी के मामा की हत्या में भी पुलिस ने उसे हिरासत में लेकर पूछताछ की थी। वहीं, अब तक रहस्य बने हुए बहुचर्चित विक्रम त्यागी अपहरण कांड में भी मिंटू त्यागी पुलिस के रडार पर आया था। परिजनों की रिपोर्ट पर मुकदमा दर्ज कर लिया गया गया है,आरोपी की गिरफ्तारी के लिए दबिश दी जा रही है, जल्द ही आरोपी को गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

 

अन्य खबरे

Copyright © 2020 - 2021 Tricity. All Rights Reserved.