रिटायर ब्रांच मैनेजर के खाते से साइबर ठगों ने निकाले 6 लाख रुपए, शिकायत दर्ज कराने के लिए पीड़ित बुजुर्ग परेशान

ग्रेटर नोएडा वेस्ट : रिटायर ब्रांच मैनेजर के खाते से साइबर ठगों ने निकाले 6 लाख रुपए, शिकायत दर्ज कराने के लिए पीड़ित बुजुर्ग परेशान

रिटायर ब्रांच मैनेजर के खाते से साइबर ठगों ने निकाले 6 लाख रुपए, शिकायत दर्ज कराने के लिए पीड़ित बुजुर्ग परेशान

Tricity Today | Symbolic photo

रिटायर ब्रांच मैनेजर के खाते से साइबर ठगों ने निकाले 6 लाख रुपए, शिकायत दर्ज कराने के लिए पीड़ित बुजुर्ग परेशान ग्रेटर नोएडा वेस्ट की एक सोसाइटी में रहने वाले रिटायर ब्रांच मैनेजर के खाते से साइबर ठगों ने 6 लाख रुपये निकाल लिए। पीड़ित शिकायत दर्ज कराने के लिए कोतवाली बिसरख पुलिस के चक्कर काट रहा है लेकिन पुलिस ने अभी तक पीड़ित की शिकायत दर्ज नहीं की है। 

जानकारी के मुताबिक सुधीर कुमार शर्मा (65) वर्ष न्यू इंडिया इंश्योरेंस कंपनी में ब्रांच मैनेजर के पद से वर्ष 2015 में रिटायर हुए थे। सुधीर वर्तमान में ग्रेनो वेस्ट की गौर सिटी-2 में रहते हैं। उन्होंने बताया कि उनका बैंक एकाउंट इंडसइंड बैंक में है। 15 जुलाई की दोपहर उनके मोबाइल पर एक कॉल आई जिसमें कॉल करने वाले ने खुद को इंडसइंड बैंक का शाखा प्रबंधक बताते हुए उनके खाते के संबंधित जानकारी देते हुए खाता वेरीफाई करने की बात कहते हुए मोबाइल नंबर पर OTP भेजते हुए बताने को कहा। जानकारी न देने पर कॉल करने वाले ने पीड़ित को खाता बंद करने की चेतावनी भी दी। 

करीब तीन-चार बार कॉल करने पर सुधीर ने खाता बंद हो जाने के डर से कॉल करने वाले को मोबाइल पर आया OTP( One Time Password) बता दिया। ओटीपी बताने के बाद वो खाना खाने लगे और करीब 1 घंटे बाद जब उन्होंने मोबाइल देखा तो उस पर उसे खाते से 6 लाख रुपये निकल जाने के कई मैसेज आए हुए थे। इसको देखकर उनके होश उड़ गए। तुरंत ही उन्होंने इसकी जानकारी नोएडा के साइबर थाने को और कोतवाली बिसरख पुलिस को दी। उनका आरोप है कि उन्होंने पुलिस को ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों तरफ से शिकायत दे दी है, इसके बावजूद अब तक कोतवाली बिसरख पुलिस ने मामले में कोई कार्रवाई नहीं की है।

इस बारे में जब ट्राईसिटी टुडे ने एसीपी-2 सेंट्रल नोएडा योगेंद्र सिंह से बात की तो उन्होंने बताया कि जल्द ही मामला दर्ज कर कार्यवाई की जाएगी।

अन्य खबरे

Copyright © 2020 - 2021 Tricity. All Rights Reserved.