इसी साल शुरू हो सकता है ग्रेटर नोएडा वेस्ट मेट्रो का काम, केंद्रीय मंत्रालय पहुंचे एनएमआरसी के अफसर

खुशखबरी : इसी साल शुरू हो सकता है ग्रेटर नोएडा वेस्ट मेट्रो का काम, केंद्रीय मंत्रालय पहुंचे एनएमआरसी के अफसर

इसी साल शुरू हो सकता है ग्रेटर नोएडा वेस्ट मेट्रो का काम, केंद्रीय मंत्रालय पहुंचे एनएमआरसी के अफसर

Tricity Today | प्रतीकात्मक फोटो

इसी साल शुरू हो सकता है ग्रेटर नोएडा वेस्ट मेट्रो का काम, केंद्रीय मंत्रालय पहुंचे एनएमआरसी के अफसर Greater Noida West : ग्रेटर नोएडा वेस्ट वासियों के लिए खुशखबरी है। उम्मीद है कि इसी साल के अंतिम तक केंद्र सरकार ग्रेटर नोएडा वेस्ट प्रोजेक्ट को मंजूरी दे सकती है। दरअसल, नोएडा और ग्रेटर नोएडा वेस्ट के बीच चलने वाली मेट्रो लाइन का प्रोजेक्ट एक कदम आगे बढ़ गया है। केंद्रीय वित्त मंत्रालय में इस प्रोजेक्ट को लेकर प्रस्तुतीकरण हुआ है। नोएडा मेट्रो रेल कारपोरेशन के अधिकारियों की ओर से यह प्रस्तुतीकरण दिया गया है। इस रूट के चलने से ग्रेनो वेस्ट की 100 से अधिक सोसाइटी के करीब 5 लाख लोगों को फायदा होगा। यहां के लोगों को जाम से मुक्ति मिलेगी। साथ ही मेट्रो की सुविधा के बाद यात्रियों को दिल्ली आने-जाने में काफी राहत मिलेगी।

इसी साल मिल सकती है हरी झंडी
वित्त मंत्रालय के अधिकारियों ने ग्रेटर नोएडा वेस्ट मेट्रो प्रोजेक्ट की रूपरेखा और इसकी आर्थिक रूप से इसकी उपयोगिता के बारे में जाना है। अब वित्त मंत्रालय इस परियोजना को लेकर अपनी रिपोर्ट देगा। संबधित विभाग ग्रेटर नोएडा वेस्ट मेट्रो के प्रोजेक्ट को लेकर बातचीत करेगा। ऐसे में उम्मीद जताई जा रही है कि इसी साल के अमित तक केंद्र सरकार की तरफ से भी नोएडा-ग्रेटर नोएडा वेस्ट मेट्रो प्रोजेक्ट को मंजूरी मिल जाएगी।

पहले चरण में 5 स्टेशन
नोएडा-ग्रेनो वेस्ट के बीच चलने वाली मेट्रो की यह लाइन सेक्टर-51 से शुरू होकर नॉलेज पार्क-5 तक जाएगी, लेकिन पहले चरण में सेक्टर-51 से शुरू होकर सेक्टर-2 ग्रेनो वेस्ट तक मेट्रो चलेगी। इसमें 5 स्टेशन होंगे। इनमें सेक्टर-122, 123, सेक्टर-4 ग्रेटर नोएडा वेस्ट, सेक्टर-12 ईकोटेक और सेक्टर-2 ग्रेटर नोएडा वेस्ट के स्टेशन हैं।

गौतमबुद्ध नगर में बनेगा देश का पहला 4 मंजिला मेट्रो स्टेशन
एक बड़ी बात हम आपको बताते है कि एक्वा लाइन मेट्रो के विस्तारीकरण के तहत नोएडा के सेक्टर-51 मेट्रो स्टेशन से ग्रेटर नोएडा एक्सटेंशन तक मेट्रो चलाई जाएगी। इनके बीच कुल 9 स्टेशनों का निर्माण होना है। इस बीच नोएडा मेट्रो रेल कॉरपोरेशन ने तीन नए रूट पर मेट्रो के डिजाइन में बदलाव किया है। अफसरों के मुताबिक इस रूट पर 4 मंजिला मेट्रो स्टेशन बनाए जाएंगे। यह उपलब्धि हासिल करने वाला गौतमबुद्ध नगर देश का पहला शहर होगा। अब तक देश के किसी भी मेट्रो रूट पर चार मंजिला स्टेशन नहीं है। पहले मेट्रो स्टेशन दो मंजिल बनने थे। लेकिन इसे चेंज कर एनएमआरसी ने दो मंजिल और बढ़ाने का फैसला किया।

योगी आदित्यनाथ ने शुरुआत में दी थी मंजूरी
आपको बता दें कि ग्रेटर नोएडा वेस्ट मेट्रो प्रोजेक्ट के पहले चरण में 9.15 किलोमीटर लंबा एलिवेटेड ट्रैक बनाया जाएगा। इस पर 5 स्टेशन बनाए जाएंगे। प्रोजेक्ट पर उत्तर प्रदेश सरकार, केंद्र सरकार, नोएडा अथॉरिटी और ग्रेटर नोएडा अथॉरिटी मिलकर करीब 1,100 करोड रुपए खर्च करेंगे। सिविल वर्क पर करीब 500 करोड रुपए खर्च किए जाएंगे। करीब एक दशक से ग्रेटर नोएडा वेस्ट में रहने वाले लोगों को इस परियोजना पर काम शुरू होने का इंतजार था। खास बात यह है कि योगी आदित्यनाथ सरकार ने शुरुआती वर्ष में ही इस परियोजना को मंजूरी दे दी थी।

Copyright © 2021 - 2022 Tricity. All Rights Reserved.