आदित्यनाथ बोले- पिछली सरकारों में मुख्यमंत्री अपना आवास बनाते थे, हमने हर वर्ग का विकास किया, बताए ये आंकड़े

दादरी में योगी : आदित्यनाथ बोले- पिछली सरकारों में मुख्यमंत्री अपना आवास बनाते थे, हमने हर वर्ग का विकास किया, बताए ये आंकड़े

आदित्यनाथ बोले- पिछली सरकारों में मुख्यमंत्री अपना आवास बनाते थे, हमने हर वर्ग का विकास किया, बताए ये आंकड़े

Social Media | CM Yogi Adityanath

आदित्यनाथ बोले- पिछली सरकारों में मुख्यमंत्री अपना आवास बनाते थे, हमने हर वर्ग का विकास किया, बताए ये आंकड़े Greater Noida : ग्रेटर नोएडा के दौरे पर बुधवार, 22 सितंबर को पहुंचे मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) ने मिहिर भोज पीजी कॉलेज दादरी में आयोजित कार्यक्रम में 12.12 करोड़़ रुपये की परियोजनाओं का लोकार्पण एवं शिलान्यास किया। सीएम ने प्रधानमंत्री जन विकास कार्यक्रम के तहत राजकीय इण्टर कॉलेज दादरी, सद्भाव मण्डप, मिहिर भोज पीजी कॉलेज में तीन साईंस लैब का निर्माण की परियोजनाओं का शिलान्यास किया। उन्होंने श्यामा प्रसाद मुखर्जी रूर्बन मिशन के तहत 14 विद्यालयों में एक-एक कम्प्यूटर लैब की स्थापना, ग्राम खटाना व आनंदपुर में सामुदायिक केन्द्र के निर्माण की परियोजनाओं का लोकार्पण कर लोगों को सुविधाओं की सौगात दी। 

साथ ही उन्होंने अनुदान योजना, दीनदयाल अन्त्योदय योजना, राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन एवं आजीविका ग्रामीण एक्सप्रेस योजना के तहत ई-रिक्शा का लाभ पात्र लाभार्थियों को दिया। सीएम ने सम्राट मिहिर भोज की प्रतिमा का विधिवत् रूप से अनावरण किया। मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर मिहिर भोज पीजी कॉलेज दादरी में आयोजित विशाल जनसभा को सम्बोधित करते हुए कहा, राज्य सरकार ने प्रदेश की तस्वीर व तकदीर बदलने का काम किया है। प्रदेश निरन्तर विकास के नये क्षितिज की ओर अग्रसर हो रहा है। राज्य सरकार ‘सबका साथ, सबका विकास, सबका विश्वास’ के साथ-साथ आत्मनिर्भर भारत की अवधारणा को अंगीकृत करते हुए उत्तर प्रदेश को स्वच्छ, स्वस्थ, समर्थ तथा सर्वोत्तम प्रदेश बनाने के लिए पूर्ण रूप प्रतिबद्ध है। 

कोरोना को हराया
सीएम ने आगे कहा, प्रदेश सरकार समाज के सभी वर्गों विशेष रूप से किसानों, गरीबों, वंचितों, शोषितों एवं उपेक्षित वर्ग के साथ-साथ प्रदेश की जनता की खुशहाली के लिए साफ नीयत सही विकास के संकल्प को साकार कर रही है। देश के सर्वाधिक विशाल आबादी वाला प्रदेश होने के बावजूद भी वैश्विक कोरोना महामारी पर नियंत्रण पाने में राज्य सरकार सफल रही है। कोविड नियंत्रण के लिए 3 टी मॉडल की सराहना पूरे देश के साथ ही विश्व स्वास्थ्य संगठन ने भी की है। प्रदेश सरकार जीवन के साथ जीविका बचाने में भी सफल रही। कोरोना नियंत्रण को प्रदेश सरकार के श्रेष्ठतम प्रयासों की सर्वत्र सराहना की जा रही है। प्रदेश सरकार के ऐतिहासिक निर्णयों एवं विकासपरक तथा जनकल्याण के लिए उठाये गये कदमों से स्पष्ट है कि वर्तमान सरकार प्रदेश के आमजन के विकास, उसकी सुरक्षा और कानून-व्यवस्था के सम्बन्ध में अत्यन्त संवेदनशील है। वर्तमान सरकार मौजूदा चुनौतियों को अवसर में बदल कर प्रदेश का तेजी से विकास कर रही है।

42 लाख लोगों को आवास दिए गए
उन्होंने आगे कहा, अच्छी सरकार सबके विकास के लिए काम करती है। पिछले साढे चार साल के अन्दर प्रदेश की तस्वीर बदली है। गांव हो या शहर सभी जगह बिजली की समान रूप से आपूर्ति की जा रही है। सभी योजनाओं का लाभ बिना भेदभाव के समान रूप से जनता को मिल रहा है। प्रदेश की कानून-व्यवस्था सुदृढ़ हुई है। महिलाओं की सुरक्षा के लिए सरकार ने एण्टी रोमियो स्क्वायड के साथ ही बेटियों की सुरक्षा के लिए 30 हजार महिला सिपाही की भर्ती की है। बेटियों की सुरक्षा के लिए हेल्पलाइन सेवा को भी संचालित किया गया है। मिशन शक्ति के अन्तर्गत महिलाओं के सुरक्षा, सम्मान व स्वावलंबन का कार्य किया जा रहा है। सरकार ने 42 लाख लोगों को प्रदेश में आवास उपलब्ध कराये हैं। बुजुर्गों एवं निराश्रित महिलाओं को सरकार पेंशन का लाभ दे रही है। आज सरकारी भर्तियां पूरी पारदर्शिता के साथ की जा रही हैं। प्रदेश सरकार ने साढ़े चार लाख सरकारी नौकरियां राज्य के युवाओं को देकर कीर्तिमान स्थापित किया है। प्रदेश के प्रत्येक जनपद में उद्योग से जुडे़ लोगों के कल्याण के लिए ‘एक जनपद-एक उत्पाद’ योजना बनाई गयी है। इस योजना के तहत प्रत्येक जनपद के उत्पाद को चिन्हित करते हुये उसे विश्व प्रसिद्ध बनाने के साथ-साथ जनपद के औद्योगिक विकास को मूर्त रूप प्रदान किया जा रहा है। 

गन्ना किसानों को मिली राहत
सीएम ने किसानों और उनकी योजनाओं का भी जिक्र किया। योगी ने कहा, प्रदेश के 86 लाख किसानों का वर्ष 2017 में कर्ज माफ किया गया था। गन्ने का अवशेष बकाया भुगतान भी कराया गया है। वर्तमान पेराई सत्र शुरू होने से पहले ही किसानों को उनके गन्ना बकाया का भुगतान सुनिश्चित किया जायेगा। सरकार किसान सम्मान निधि के अन्तर्गत किसानों को लाभान्वित कर रही है। सरकार नौकरी व रोजगार की संभावनाओं को लेकर प्रत्येक क्षेत्र में निरन्तर कार्य कर रही है। उत्तर प्रदेश में कोरोना का प्रभावी नियंत्रण एवं प्रबन्धन किया गया है। इस कार्य में अपना सक्रिय सहयोग प्रदान करने के लिए उन्होंने जनप्रतिनिधियों, स्वास्थ्यकर्मियों, कोरोना वॉरियर्स, मीडिया कर्मियों व शासन-प्रशासन की प्रशंसा की है। उन्होंने कहा कि कोरोना अभी समाप्त नहीं हुआ है। कोरोना के प्रति हम सभी को सावधानी रखनी होगी।

तकनीक के इस्तेमाल से खत्म हुआ भ्रष्टाचार
सीएम ने आगे कहा, प्रदेश सरकार मजबूत कानून-व्यवस्था के साथ विकास को निरन्तर गति प्रदान कर रही है। माफियाओं पर सख्त कार्यवाही करते हुए उनकी अवैध सम्पत्ति के जब्तीकरण की कार्यवाही की गई है। इससे प्रदेश में गरीब और व्यापारी अपने आपको सुरक्षित महसूस कर रहे हैं। महिला पुलिस को मिशन शक्ति से जोड़कर सभी थानों व तहसीलों में महिला शिकायत बूथ स्थापित किए गए हैं। जहां महिलाओं की समस्याओं का संवेदना के साथ समाधान महिला पुलिसकर्मी कर रही हैं। लाभार्थियों को सरकारी योजनाओं का लाभ पहुंचाने में तकनीक का व्यापक प्रयोग किया जा रहा है। सरकार ने सत्ता में आने पर राशन कार्डों का सत्यापन कराया। फर्जी राशन कार्डों को निरस्त कराकर वास्तविक पात्र लोगों को राशन कार्ड उपलब्ध कराये गये। 80 हजार राशन दुकानों को पीओएस से जोड़ा गया। आज हर गरीब अपने गांव में अथवा देश के किसी भी कोने में राशन प्राप्त कर सकता है। तकनीक के प्रयोग से गरीब को राशन मिलने के साथ ही सरकार को 1200 करोड़ रुपये की सालाना बचत हो रही है। प्रदेश सरकार ने कृषि क्षेत्र में तकनीक का उपयोग करते हुए किसानों के लिए विभिन्न प्रकार की सहूलियतें विकसित की हैं। एमएसपी के तहत किसानों से उनकी उपज की खरीद में ई-पॉप सिस्टम के उपयोग से भ्रष्टाचार पर रोक लगी है।

पूर्व के सीएम अपने आवास बनवाते थे
सीएम ने हमला बोलते हुए कहा, पूर्व की सरकारों के मुख्यमंत्रियों में स्वयं के आवास बनाने के लिए होड़ लगती थी। उनमें एक प्रतिस्पर्धा चलती थी। लेकिन सुशासन को समर्पित विगत साढ़े चार वर्षों में हमने अपने आवास नहीं बल्कि प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत ग्रामीण एवं शहरी क्षेत्रों को मिलाकर 42 लाख से अधिक आवास गरीबों के लिए निर्मित करवाए। इसी प्रकार स्वच्छ भारत मिशन के तहत 2.61 करोड़ व्यक्तिगत शौचालयों का निर्माण कराया गया है। उज्जवला योजना में 1.56 करोड़ निःशुल्क गैस कनेक्शन दिए गए। वहीं सौभाग्य योजना में 1 करोड़ 38 लाख से अधिक निःशुल्क विद्युत कनेक्शन प्रदान किए गए हैं। आयुष्मान भारत के तहत 06 करोड़ लाभार्थियों को स्वास्थ्य बीमा कवर तथा 03 करोड़ प्रवासी श्रमिकों को 02 लाख रुपये सामाजिक सुरक्षा गारण्टी दी गई है। इसके अलावा, प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के प्रारम्भ से अब तक 02 करोड़ 53 लाख 98 हजार किसानों को 37,521 करोड़ रुपए हस्तान्तरित किया गया है। प्रधानमंत्री स्वनिधि योजना के माध्यम से 08 लाख 80 हजार स्ट्रीट वेण्डर्स लाभान्वित हुए हैं।

एकजुट होकर लड़ना होगा
उन्होंने विशाल जनसभा को सबोधित करते हुये उपस्थित जनसमूह का यह भी आहवान किया कि प्रदेश और देश के विकास को ओर अधिक गतिशीलता के साथ आगे बढाने के लिए राष्ट्रधर्म को सर्वोपरि बनाना होगा। जाति, धर्म, सम्प्रदाय तथा मन्तव्य से उपर उठकर सभी को राष्ट्रधर्म सर्वोपरि मानते हुये अपने दायित्व एवं कर्तव्यों को निर्वहन करना होगा। उन्होंने कहा कि अगर देश की सुरक्षा पर कोई आंच आई तो हम सब सुरक्षित नही होंगें। इसलिए हम सभी को राष्ट्रधर्म सर्वोपरि रखना होगा। उन्होंने इस अवसर पर समाज की विकृतियों को समाप्त करने के उद्देश्य से सामाजिक संगठनों का आहवान करते हुये कहा कि किसी भी कालखण्ड की विकृति को समाप्त करने के लिए उन्हें आगे आना होगा। जिससे समाज की विभिन्न विकृतियों को समाप्त किया जा सके। उन्होंने कहा, महान सम्राट मिहिर भोज को मैं कोटि-कोटि नमन करता हूं। जिन्होंने नौंवी सदी में धर्मरक्षा के लिए ऐतिहासिक कार्य किया। इस अवसर पर उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के अमृत महोत्सव कार्यक्रम का जिक्र करते हुये कहा, देश को आजादी दिलाने में हजारों शहीदों का बहुत महत्वपूर्ण योगदान रहा है। मगर भारत के इतिहास में उनका जिक्र नही हैं। भावी पीढ़ी को ऐसे शहीदों एवं बलिदानियों की जानकारी उपलब्ध कराने के उद्देश्य से पूरे देश में अमृत महोत्सव का वर्ष आयोजित किया जा रहा है।

सभी जनप्रतिनिधि और अफसर रहे मौजूद
इस अवसर पर पूर्व केन्द्रीय मंत्री एवं सांसद डॉ महेश शर्मा, राज्यसभा सांसद सुरेन्द्र नागर, प्रभारी परिवहन मंत्री अशोक कटारिया, विधायक नोएडा पंकज सिंह, दादरी विधायक तेजपाल नागर, जेवर के विधायक धीरेन्द्र सिंह, एमएलसी श्रीचन्द शर्मा, वेस्ट यूपी के क्षेत्रीय अध्यक्ष मोहित बैनीवाल, जिलाध्यक्ष विजय भाटी, महानगर अध्यक्ष मनोज गुप्ता, सांसद प्रतिनिधि संजय बाली समेत तमाम दूसरे प्रतिनिधि मौजूद रहे। पुलिस कमिश्नर आलोक सिंह, जिलाधिकारी सुहास एलवाई, मुख्य विकास अधिकारी अनिल कुमार सिंह, अपर जिलाधिकारी प्रशासन दिवाकर सिंह और पुलिस विभाग के अन्य वरिष्ठ अफसर भी उपस्थित रहे।

अन्य खबरे

Copyright © 2020 - 2021 Tricity. All Rights Reserved.