BIG BREAKING : जेवर एयरपोर्ट से जुड़ी बड़ी खबर, मार्च में मिलने वाला है बड़ा तोहफा, जानिए क्या

जेवर एयरपोर्ट से जुड़ी बड़ी खबर, मार्च में मिलने वाला है बड़ा तोहफा, जानिए क्या

Tricity Today | प्रतीकात्मक फोटो

नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट जेवर का निर्माण कार्य शुरू होने की दिशा में एक कदम और बढ़ गया है। अब विकासकर्ता कंपनी और सरकार के बीच स्टेट सपोर्ट एग्रीमेंट होगा। यह अनुबंध पहली मार्च को लखनऊ में किया जाएगा। इस अनुबंध के बाद सरकार विकासकर्ता कंपनी को हर तरह सहयोग करेगी। वहीं, एयरपोर्ट के मास्टर प्लान पर जल्द ही केंद्र सरकार की मुहर लग सकती है।

जेवर एयरपोर्ट को लेकर बुधवार को समीक्षा बैठक हुई थी। बैठक में एयरपोर्ट से जुड़े हर बिंदु पर चर्चा हुई। जेवर एयरपोर्ट का निर्माण विकासकर्ता कंपनी यमुना इंटरनेशनल एयरपोर्ट प्राइवेट लिमिटेड करेगी। बैठक में तय हुआ कि इस कंपनी और सरकार के बीच स्टेट सपोर्ट एग्रीमेंट पहली मार्च को किया जाएगा। नियाल के सीईओ डॉ. अरुणवीर सिंह ने बताया कि यह अनुबंध लखनऊ में किया जाएगा। इस अनुबंध से विकासकर्ता कंपनी को तमाम तरह के लाइसेंस, कनेक्टिविटी के संसाधन, टैक्स आदि सभी तरह के कामों में सरकार सहयोग करेगी।

इन पर भी हुई चर्चा, कामों से कंपनी संतुष्ट
बैठक में पुर्नस्थापन एवं व्यवस्थापन के कामों को लेकर चर्चा हुई। एयरपोर्ट परियोजना से प्रभावित परिवारों को जेवर बांगर के पास बसाया जा रहा है। यहां पर विकास कार्य तीव्र गति से कराए जा रहे हैं। इन कामों को लेकर यमुना इंटरनेशनल एयरपोर्ट प्राइवेट लिमिटेड ने संतुष्टि जताई है। कंपनी ने जमीन सौंपने को लेकर अब तक हुई कार्रवाई के बारे में भी जानकारी ली।

मास्टर प्लान की सारी प्रक्रिया 15 तक पूरी होंगी
बैठक में कंपनी की ओर से बताया गया कि केंद्र सरकार से मास्टर प्लान आने के बाद वह 15 दिन में मास्टर प्लान में संशोधन कर लेंगे। नियाल के सीईओ डॉ. अरुणवीर सिंह ने बताया कि केंद्र सरकार के पास मास्टर प्लान है। जल्द ही वह पास हो जाएगा। 15 मार्च तक मास्टर प्लान की सारी प्रक्रियाएं पूरी कर ली जाएंगी।

प्राइमरी स्कूल में 19 और जूनियर स्कूल में 8 कमरे बनेंगे
जेवर एयरपोर्ट परियोजना में आने वाले स्कूलों-आंगनबाड़ी केंद्रों को शिक्षा विभाग के बजाय यमुना प्राधिकरण शिफ्ट करेगा। शासन के निर्देश पर यह काम यमुना प्राधिकरण करेगा। इस परियोजना में 4 सरकारी स्कूल और 4 आंगनबाड़ी केंद्र आ रहे हैं। जेवर बांगर में 4 के बजाय दो बड़े स्कूल बनाए जाएंगे। इसमें प्राइमरी स्कूल में 19 कमरे और जूनियर हाईस्कूल में 8 कमरे बनाए जाएंगे। साथ ही एक बड़ा आंगनबाड़ी केंद्र बनाया जाएगा। साथ ही 5 हजार वर्ग मीटर में खेल का मैदान मनाया जाएगा। इसकी तैयारी पूरी हो गई है।

नियाल के सीईओ डॉ. अरुणवीर सिंह ने बताया कि प्रदेश सरकार और जेवर एयरपोर्ट की विकासकर्ता कंपनी के बीच पहली मार्च को स्टेट सपोर्ट एग्रीमेंट किया जाएगा। अनुबंध पर सरकार और कंपनी के प्रतिनिधि दस्तखत करेंगे।

अन्य खबरे

Copyright © 2020 - 2021 Tricity. All Rights Reserved.