ग्रेटर नोएडा : बेकाबू कैब ने स्कूटी में मारी जोरदार टक्कर, शारदा यूनिवर्सिटी की बीएड छात्रा की मौत, सहेली घायल

बेकाबू कैब ने स्कूटी में मारी जोरदार टक्कर, शारदा यूनिवर्सिटी की बीएड छात्रा की मौत, सहेली घायल

Google Image | प्रतीकात्मक फोटो

ग्रेटर नोएडा में गुरुवार को हुए एक हादसे में बीएड की एक छात्रा की मौत हो गई। जबकि, दूसरी छात्रा गंभीर रूप से घायल है। उसका नजदीक के एक अस्पताल में इलाज चल रहा है। मामला नॉलेज पार्क थाना क्षेत्र का है। गुरुवार को एक तेज रफ्तार कैब चालक ने दो छात्राओं की स्कूटी में जोरदार टक्कर मार दी। हादसे में स्कूटी सवार एक छात्रा आठ फीट ऊंची उछलकर जमीन पर गिरी। जिससे उसकी घटना स्थल पर ही मौत हो गई। हादसे में दूसरी छात्रा गंभीर रूप से घायल हो गई। उसे फौरन नजदीक के एक अस्पताल में भर्ती कराया गया। फिलहाल उसका इलाज चल रहा है। 

मौके पर पहुंची पुलिस ने छात्रा के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। ग्रेटर नोएडा के रोजा जलालपुर निवासी नगेंद्र नागर ने बताया कि उनके भाई पूर्व बीडीसी राजेंद्र नागर की बेटी मंजू और बिसरख निवासी उसकी सहेली नेहा, शारदा विश्वविद्यालय से बीएड की पढ़ाई कर रही थीं। गुरुवार को मंजू और नेहा स्कूटी पर सवार होकर विवि जा रही थी। इसी दौरान नॉलेज पार्क थाना क्षेत्र में नासा गोल चक्कर के पास सामने से आ रही तेज रफ्तार कैब ने स्कूटी में टक्कर मार दी। 

टक्कर इतनी जोरदार थी कि मंजू आठ फुट ऊंची उछलकर जमीन पर गिरी। इससे उसके सिर में गहरी चोट आई और उसकी घटनास्थल पर ही मौत हो गई। इस हादसे में नेहा गंभीर रूप से घायल हो गई है। आसपास मौजूद लोगों ने नेहा को अस्पताल में भर्ती करवाया। उसका इलाज चल रहा है। नॉलेज पार्क थाना प्रभारी वरुण पंवार ने बताया कि मृतक छात्रा के शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया गया है। पुलिस ने आरोपी कैब चालक को हिरासत में ले लिया है। उससे पूछताछ की जा रही है। पुलिस आगे की कार्रवाई की है।

परिवार में मातम का माहौल
मंजू की सड़क हादसे में मौत की खबर के बाद से परिवार में कोहराम मच गया। परिवार के लोगों का रो-रो कर बुरा हाल है। परिजनों ने बताया कि छात्रा मंजू बहुत होनहार थी। उसकी मौत की खबर ने उन्हें गहरा घाव दिया है। मंजू घर में सबकी लाड़ली थी। पड़ोस के लोग भी मंजू की तारीफ करते नहीं थकते। सबका कहना है कि मंजू बेहद मिलनसार और हंसमुख थी।

अन्य खबरे

Copyright © 2019-2020 Tricity. All Rights Reserved.