हत्या के 5 साल बाद विवाहिता को मिला इंसाफ, सास-ससुर और पति जीवनभर भुगतेंगे यह सजा

ग्रेटर नोएडा : हत्या के 5 साल बाद विवाहिता को मिला इंसाफ, सास-ससुर और पति जीवनभर भुगतेंगे यह सजा

हत्या के 5 साल बाद विवाहिता को मिला इंसाफ, सास-ससुर और पति जीवनभर भुगतेंगे यह सजा

Tricity Today | Gautam Buddha Nagar Court

हत्या के 5 साल बाद विवाहिता को मिला इंसाफ, सास-ससुर और पति जीवनभर भुगतेंगे यह सजा Greater Noida : कहते हैं कि कोर्ट में न्याय बेशक देरी से मिले, लेकिन मिलता जरूर है। ऐसा ही एक मामला ग्रेटर नोएडा से आया है। जहां पर करीब 5 साल पहले एक विवाहिता की बड़ी बेरहमी से हत्या कर दी गई थी। इस मामले में गौतमबुद्ध नगर जिला न्यायालय ने 5 साल बाद विवाहिता को न्याय दिया है। जिला न्यायालय ने इस मामले में विवाहिता के पति, उसकी सास और ससुर को आजीवन कारावास की सजा सुनाई है। 

27 जुलाई 2017 को हुई थी हत्या
सरकारी वकील ब्रह्मजीत भाटी ने बताया कि जेवर की चारोली गांव में बीते 27 जुलाई 2017 को एक विवाहिता की बड़ी बेरहमी से हत्या कर दी गई थी। विवाहिता अंशु की पहले गला दबाकर हत्या की गई और फिर उसके शव के ऊपर केरोसिन का तेल डालकर आग के हवाले कर दिया गया।

हत्या के बाद शव को जलाया
उन्होंने बताया कि इस मामले के बाद अंशु के पति देवेंद्र ने उसके मायके वालों को सूचना दी कि उनकी बेटी ने आत्महत्या कर ली है। सूचना मिलने के बाद अंशु के मायके वाले और पुलिस टीम मौके पर पहुंची। पुलिस ने अंशु के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया और जांच शुरू कर दी। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में सामने आया कि पहले अंशु की गला दबाकर की गई है और उसके ऊपर केरोसिन का तेल डालकर आग के हवाले कर दिया गया था।

तीनों पर 50-50 हजार रुपए का जुर्माना लगा
इस मामले में पुलिस ने अंशु के पिता की शिकायत के आधार पर उसके पति देवेंद्र, सास विजयवती और ससुर चेतराम के खिलाफ हत्या और अन्य संगीन धाराओं में मुकदमा दर्ज किया। पुलिस ने सभी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था। अब इस मामले में जिला न्यायालय ने अपना अंतिम फैसला सुनाते हुए तीनों को आजीवन कारावास की सजा सुनाई है। इसके अलावा तीनों पर 50-50 हजार रुपए का जुर्माना भी लगाया है। अदालत का फैसला सुनते ही अंशु का पति देवेंद्र जज के सामने जमीन पर बैठ गया और रोने लगा था।

Copyright © 2021 - 2022 Tricity. All Rights Reserved.