जनसभा स्थल में कीचड़-पानी से बेहाल हो गए लोग, बारिश ने ध्वस्त किए इंतजाम

दादरी में योगी : जनसभा स्थल में कीचड़-पानी से बेहाल हो गए लोग, बारिश ने ध्वस्त किए इंतजाम

जनसभा स्थल में कीचड़-पानी से बेहाल हो गए लोग, बारिश ने ध्वस्त किए इंतजाम

Tricity Today | जनसभा स्थल का बुरा हाल

जनसभा स्थल में कीचड़-पानी से बेहाल हो गए लोग, बारिश ने ध्वस्त किए इंतजाम Greater Noida News : मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) बुधवार को पहली बार दादरी में आए। उन्होंने यहां के ऐतिहासिक डिग्री कॉलेज में सम्राट मिहिर भोज की प्रतिमा का अनावरण किया। सुबह से मौसम खराब था। तेज बारिश हो रही थी। जिससे हर तरफ कीचड़ और बारिश का पानी भर गया। जनसभा के पार्किंग स्थल का हाल भी बुरा हो गया। कई कारें कीचड़ में फंस गईं। हालांकि, बारिश का मौसम होने के कारण वाटरप्रूफ पंडाल का इंतजाम किया गया था।

बारिश ने बिगाड़ दी व्यवस्थाएं, पुलिस को करनी पड़ी मशक्कत
मुख्यमंत्री को ग्रेटर नोएडा के इंडिया एक्सपोमार्ट सेंटर से दादरी के मिहिरभोज कॉलेज तक कार से जाना था। मुख्यमंत्री गाजियाबाद के सीआईएसएफ कैंप से इंडिया एक्सपोमार्ट हेलीकॉप्टर के जरिए पहुंचे। इंडिया एक्सपोमार्ट में सीएम का कार्यक्रम खत्म हुआ तो मौसम बिगड़ गया। करीब आधा घंटे तक लगातार बारिश होती रही। जिसकी वजह से मुख्यमंत्री सड़क मार्ग से दादरी के लिए रवाना नहीं हो पाए। करीब 12:45 मौसम साफ हुआ और मुख्यमंत्री हेलीकॉप्टर से ही दादरी पहुंचे। मुख्यमंत्री ने फटाफट सम्राट मिहिर भोज की प्रतिमा का अनावरण किया। उनके पहुंचने तक ज्यादातर नेता अपनी बात जनता के सामने रख चुके थे। जब सीएम मंच पर थे तो केवल गौतमबुद्ध नगर के सांसद डॉ.महेश शर्मा और राज्यसभा सांसद सुरेंद्र सिंह नागर ने भाषण दिया। सुरेंद्र सिंह नागर कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे थे।

भाषण के पूरे वक्त युवा करते रहे नारेबाजी
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने करीब 24 मिनट तक भाषण दिया। इस दौरान जनसभा में मौजूद भीड़ का जोश चरम पर नजर आया। पूरे समय "योगी, योगी, योगी", "भारत माता की जय" और "जय श्रीराम" के नारे लगते रहे। योगी आदित्यनाथ जब भी कोई महत्वपूर्ण बात कहते तो जनता नारेबाजी करके उनका पुरजोर समर्थन करती थी। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का दादरी में पूरा भाषण जाति और बिरादरी से ऊपर उठकर राष्ट्रीय और सांस्कृतिक एकता पर केंद्रित रहा। दरअसल, दादरी के कार्यक्रम को लेकर ठाकुर और गुर्जर बिरादरी के बीच मतभेद पैदा हो गए थे। पिछले 15 दिनों से विरोध और प्रदर्शन चल रहे हैं।

विवाद के चलते गौतमबुद्ध नगर पुलिस चौकन्नी रही
ठाकुर और गुर्जर समुदाय के बीच सम्राट मिहिर भोज को लेकर पैदा हुए विवाद के बीच गौतमबुद्ध नगर पुलिस को कड़ी मशक्कत करनी पड़ी। जनसभा स्थल पर अच्छा खासा फोर्स तैनात किया गया था। दादरी में कोतवाली के सामने ही सड़क को ब्लॉक कर दिया गया था। लोगों को सभा स्थल तक केवल पैदल जाने की इजाजत दी गई। उन्हीं लोगों को सभा स्थल पर वाहन ले जाने की इजाजत थी, जिनके पास पार्किंग पास थे। बारिश ने पुलिस की मुसीबतों को और बढ़ाया। पूरा पुलिस फोर्स कई घंटे बारिश में भीगते हुए ड्यूटी निभाता दिखा। बड़ी बात यह कि गौतमबुद्ध नगर के पुलिस कमिश्नर आलोक कुमार सिंह पूरे वक्त खुद मंच पर मौजूद रहे। दूसरी ओर प्रशासनिक व्यवस्थाएं संभालने के लिए जिलाधिकारी सुहास एलवाई भी मंच पर ही मौजूद थे। एडिशनल पुलिस कमिश्नर, डिप्टी पुलिस कमिश्नर, एडिशनल डीसीपी, एसीपी और इंस्पेक्टर रैंक के तमाम पुलिस अधिकारी पूरे वक्त निगरानी करते नजर आए।

पूरे पंडाल में बारिश का पानी भर गया, खड़ी रही भीड़
मिहिर भोज डिग्री कॉलेज के भीतर खाली पड़े मैदान में जनसभा के लिए वाटरप्रूफ पंडाल बनाया गया था। बारिश इतनी ज्यादा हो रही थी कि पूरे पंडाल में एक से डेढ़ फुट पानी भर गया। कुर्सियां पानी में डूब गईं। जनसभा में शामिल हुए लोग सहज भाव से बैठ नहीं पाए। मजबूर होकर अधिकांश लोग पूरे वक्त खड़े रहे। कुछ लोग कुर्सियों पर खड़े होकर नेताओं के भाषण सुनते रहे। मंच से बार-बार व्यवस्था बनाए रखने और कुर्सी पर बैठने का आग्रह किया गया, लेकिन बारिश ने पूरा खेल बिगाड़ दिया।

अन्य खबरे

Copyright © 2020 - 2021 Tricity. All Rights Reserved.