इंकम टैक्स डिपार्टमेंट में बांटी जा रही थीं फर्जी नौकरियां, लखनऊ, नोएडा और बरेली के अफसर शामिल

Uttar Pradesh : इंकम टैक्स डिपार्टमेंट में बांटी जा रही थीं फर्जी नौकरियां, लखनऊ, नोएडा और बरेली के अफसर शामिल

इंकम टैक्स डिपार्टमेंट में बांटी जा रही थीं फर्जी नौकरियां, लखनऊ, नोएडा और बरेली के अफसर शामिल

Google Image | Income Tax Department

इंकम टैक्स डिपार्टमेंट में बांटी जा रही थीं फर्जी नौकरियां, लखनऊ, नोएडा और बरेली के अफसर शामिल Lucknow : इनकम टैक्स विभाग में फर्जी नौकरी स्कैम सामने आया है। बताया जा रहा है कि इस फर्जीवाड़े में लखनऊ, बरेली से लेकर नोएडा तक आयकर महकमे के अफसर शामिल हैं। दूसरी तरफ इनकम टैक्स विभाग स्कैम की जांच करने की बजाय लीपापोती में लगा हुआ है। विभाग ने लखनऊ पुलिस को एक शिकायत दी है। जिसमें अपने किसी अफसर या कर्मचारी का नाम नहीं दिया है। अब तक अपने किसी अफसर पर एक्शन नहीं लिया है। इनकम टैक्स डिपार्टमेंट की विजिलेंस ब्रांच भी चुप्पी साधकर बैठी है। कोई जांच शुरू नहीं की है। इससे विभाग के उच्चाधिकारियों पर सवाल खड़े हो रहे हैं।

ऊपर वाले अफसरों की भूमिका संदिग्ध
मिली जानकारी के मुताबिक लखनऊ पुलिस को दी गई तहरीर में मामले को घुमाया गया है। सिर्फ एक आरोपी प्रियंका मिश्रा के खिलाफ तहरीर दी गई है। शिकायत में इनकम टैक्स डिपार्टमेंट के किसी अफसर को आरोपी नहीं बनाया गया है। आपको बता दें कि लखनऊ में इनकम टैक्स के यूपी ईस्ट का मुख्यालय है। यहां बड़े-बड़े अफसरों की मौजूदगी में बड़ा स्कैम हो गया है लेकिन किसी भी बड़े अफसर की जवाबदेही तय नहीं की गई है। हेड क्वार्टर में घूस लेकर इनकम टैक्स ऑफिस में फर्जी नौकरी बांटी जा रही थीं। करीब महीने भर से यह स्कैम चल रहा था। सब खामोश थे। इनकम टैक्स के बड़े अफसरों की भूमिका संदेह के घेरे में है।

लखनऊ पुलिस को छानबीन में मिले सबूत
दूसरी ओर लखनऊ पुलिस की जांच में पर्याप्त सबूत मिले हैं। मिली जानकारी के मुताबिक इस घोटाले में लखनऊ, नोएडा और बरेली इनकम टैक्स के अफसर शामिल हैं। इनकम टैक्स डिपार्टमेंट केंद्र सरकार का दफ्तर है। इस मामले में सीबीआई जांच भी हो सकती है। बताया जा रहा है कि लखनऊ पुलिस पूरे मामले में बेहद संजीदगी के साथ जांच-पड़ताल कर रही है। जो सबूत अब तक सामने आए हैं, उनके बारे में केंद्रीय वित्त मंत्रालय और इनकम टैक्स डिपार्टमेंट के शीर्ष अफसरों को सूचनाएं भेजी जा रही हैं।

Copyright © 2021 - 2022 Tricity. All Rights Reserved.