दर्शकों के लिए खुला चिड़ियाघर, मगर प्रशासन की बड़ी लापरवाही सामने आई

Lucknow Zoo News: दर्शकों के लिए खुला चिड़ियाघर, मगर प्रशासन की बड़ी लापरवाही सामने आई

दर्शकों के लिए खुला चिड़ियाघर, मगर प्रशासन की बड़ी लापरवाही सामने आई

Tricity Today | दर्शकों के लिए खुला लखनऊ चिड़ियाघर

दर्शकों के लिए खुला चिड़ियाघर, मगर प्रशासन की बड़ी लापरवाही सामने आई उत्तर प्रदेश के समस्त जनपदों में कोरोना के 600 से कम सक्रिय मामलों के चलते सरकार ने सभी जिलों से आंशिक कर्फ्यू हटा दिया है। ऐसे में लखनऊ के प्रसिद्ध पर्यटन स्थल चिड़ियाघर को शानिवार और रविवार को छोड़कर सप्ताह में 5 दिन खोलने का निर्णय लिया है। लेकिन पर्यटकों के अंदर कोरोना का खौफ इस तरह बना हुआ है कि वह अभी भीड़भाड़ वाली जगहों पर जाना पसंद नहीं कर रहे हैं। यही कारण है कि जहां सैकड़ों की संख्या में लोग घूमने के लिए जाते थे, वहां सिर्फ दो-चार ही पहुंच रहें हैं।

करीब 40 दिन बाद लखनऊ का चिड़ियाघर लोगों के लिए खोल दिया गया है। बावजूद इसके अभी यहां सन्नाटा पसरा हुआ है। लोगों का यह भी कहना है कि जिस तरह से पूर्व में यहां पर भीड़भाड़ व मनोरंजन होता था, वैसा कुछ भी इन दिनों देखने को नही मिल रहा है। हालांकि इतने दिनों बाद घर से निकलने पर लोगो मे खुशी का माहौल है। उनका कहना है कि सरकार ने कोरोना कर्फ्यू भले ही हटा दिया हो, लेकिन संक्रमण से बचने के लिए अपनी सुरक्षा हेतु मास्क और सामाजिक दूरी का पालन जरूरी है।

चिड़ियाघर घूमने आए लोगों का कहना है कि चिड़ियाघर घर के गेट पर सेनीटाइजर की व्यवस्था नहीं है। ना तो अन्दर आने वाले लोगों की स्क्रीनिंग की जा रही है। जबकि कोरोना गाइडलाइन में यह साफ निर्देश दिए गए हैं कि किसी भी सरकारी व गैर सरकारी पर्यटन स्थल हो या दफ्तर, सभी के प्रवेश द्वार पर सैनिटाइजर और स्क्रीनिंग की व्यवस्था रखी जाए। अगर ऐसा नहीं होता है तो यह कोविड गाइडलाइन का उल्लघंन होगा और उस पर कार्रवाई की जाएगी। ऐसे में सवाल यह है कि लखनऊ के चिड़ियाघर में इस तरह से लापरवाही क्यों?

अन्य खबरे

Copyright © 2020 - 2021 Tricity. All Rights Reserved.