यूपी बाल आयोग की दो सदस्य हटाई गईं, इस वजह से शासन ने लिया फैसला

Lucknow News: यूपी बाल आयोग की दो सदस्य हटाई गईं, इस वजह से शासन ने लिया फैसला

यूपी बाल आयोग की दो सदस्य हटाई गईं, इस वजह से शासन ने लिया फैसला

Google Image | आयोग के दो सदस्यों की छुट्टी

यूपी बाल आयोग की दो सदस्य हटाई गईं, इस वजह से शासन ने लिया फैसला  उत्तर प्रदेश शासन ने राज्य बाल आयोग से 2 सदस्यों को तत्काल प्रभाव से हटा दिया है। डॉ प्रीति वर्मा पांडेय और जया सिंह की सदस्य पद से छुट्टी कर दी गई है। दरअसल डॉ प्रीति वर्मा के पति आशीष पांडे इस वक्त जेल में है। वह उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के सोशल मीडिया सेल के हेड थे। सीएम आदित्यनाथ योगी के कथित टूल किट मामले में कानपुर पुलिस ने आशीष पांडेय व हिमांशु सैनी को लखनऊ से गिरफ्तार किया था। दोनों को जेल भेज दिया गया है। पुलिस का कहना है कि आरोपियों ने दूसरे की कंपनी को नीचा दिखाने के लिए साजिश रचकर ऑडियो वायरल किया था।
यह दोनों सीएम की सोशल मीडिया टीम का हिस्सा भी रह चुके हैं। उनकी पत्नी और बाल आयोग की सदस्य प्रीति वर्मा पांडेय ने विगत दिनों ही सोशल मीडिया के जरिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से मुलाकात कर अपनी बात रखने की मांग की थी। लेकिन विपक्षी दलों का दबाव झेल रही सरकार इस मौके पर कांग्रेस और समाजवादी पार्टी को बोलने का एक और मौका नहीं देना चाहती थी। बाल आयोग में इन दोनों सदस्यों की जगह पर जल्द ही नई सदस्यों का चयन किया जाएगा।

अन्य खबरे

Copyright © 2020 - 2021 Tricity. All Rights Reserved.