सोमवार की सुबह ग्रेटर नोएडा में रही सबसे प्रदूषित हवा

Updated Dec 29, 2019 04:41:02 IST | Tricity Today Reporter

ग्रेटर नोएडा हरा-भरा और खुला शहर है। लेकिन, दीवाली के बाद ग्रेटर नोएडा में सोमवार की सुबह पूरे दिल्ली एनसीआर में सबसे प्रदूषित थी। दिनभर से पूरे शहर के ऊपर धुंए की चादर छाई हुई है। सुबह 11:30 बजे ग्रेटर नोएडा में एयर क्वालिटी इंडेक्स 364 था। जो नोएडा और दिल्ली के मुकाबले ज्यादा खराब था। इन हालात के कारण लोगों को आंखों में जलन महसूस हो रही है। सांस लेने में तकलीफ है।

Photo Credit: 
प्रतीकात्मक फोटो

GREATER NOIDA: ग्रेटर नोएडा हरा-भरा और खुला शहर है। लेकिन, दीवाली के बाद ग्रेटर नोएडा में सोमवार की सुबह पूरे दिल्ली एनसीआर में सबसे प्रदूषित थी। दिनभर से पूरे शहर के ऊपर धुंए की चादर छाई हुई है। सुबह 11:30 बजे ग्रेटर नोएडा में एयर क्वालिटी इंडेक्स 364 था। जो नोएडा और दिल्ली के मुकाबले ज्यादा खराब था। इन हालात के कारण लोगों को आंखों में जलन महसूस हो रही है। सांस लेने में तकलीफ है।

एनसीआर के बाकी शहरों की तरह ग्रेटर नोएडा में भी हवा का स्तर जहरीला बना हुआ है। सिस्टम ऑफ एयर क्वालिटी एंड वेदर फोरकास्टिंग एंड रिसर्च के अनुसार सोमवार की सुबह ग्रेटर नोएडा में एक्यूआई 364 आंका गया। वहीं, दिल्ली में यह सूचकांक 306 और नोएडा में 356 था। गुरुग्राम में 279 रहा। कुल मिलाकर दिल्ली, नोएडा और गुरुग्राम से ज्यादा बुरा हाल ग्रेटर नोएडा की हवा का है।

ग्रेटर नोएडा में पेड़ों की संख्या और हरियाली नोएडा, दिल्ली, गुरुग्राम से ज्यादा है। फिर भी यहां प्रदूषण ज्यादा क्यों है। विशेषज्ञों का कहना है कि ग्रेटर नोएडा दिल्ली, नोएडा और गुरुग्राम के बाहरी छोर पर है। वहां का प्रदूषण ग्रेटर नोएडा की ओर से प्रवाह करता है। इस पर रसायन विज्ञान का सांद्रता का नियम लागू होता है। धुंआ अधिक सांद्रता से कम सांद्रता की ओर से गमन करता है। यही वजह है कि ग्रेटर नोएडा, फरीदाबाद, सोनीपत, बागपत, मेरठ, अलवर दीवाली के बाद नोएडा, दिल्ली और ग्रुरुग्राम से ज्यादा प्रदूषित हो जाते हैं। दरअसल, दिल्ली का धुंआ इन शहरों की ओर गमन करने लगता है।

 

Pollution in Noida, Pollution in Greater Noida, Pollution in Delhi, AQI of Noida, AQI of Delhi, AQI of Gurugram