गाजियाबाद में दूध को लेकर मारामारी, दुकानों पर भीड़, डीएम ने की यह अपील

Updated Mar 21, 2020 20:34:12 IST | Tricity Reporter

रविवार को जनता कर्फ्यू से ठीक पहले गाजियाबाद में दूध और राशन की दुकानों पर अफरा-तफरी का माहौल देखने को मिला...

Photo Credit:  Tricity Today
गाजियाबाद में दूध को लेकर मारामारी

रविवार को जनता कर्फ्यू से ठीक पहले गाजियाबाद में दूध और राशन की दुकानों पर अफरा-तफरी का माहौल देखने को मिला। गाजियाबाद में शनिवार की शाम दूध की दुकानों के बाहर लंबी लाइनें लग गईं। लोग सामान्य से ज्यादा दूध लेने के चक्कर में भीड़ लगाकर खड़े रहे। दुकानदारों ने बताया कि सामान्य दिनों में जो व्यक्ति 2 लीटर दूध लेकर जाता था, वह चार-पांच लीटर दूध की मांग कर रहा है।

इंदिरापुरम में दूध सप्लायर अरविंद चौहान ने बताया, शनिवार की शाम जैसे ही दुकानों पर दूध की सप्लाई पहुंची, घंटा भर में सारा दूध खत्म हो गया। इसके बावजूद भी जब लोग लगातार आते रहे तो मदर डेयरी, अमूल और दूसरे दूध सप्लायर को फोन करके दूध मंगवाया गया। लेकिन हालात ऐसे बन गए कि जितना दूध आ रहा था, चंद मिनटों में खत्म हो जा रहा था। रात 8 बजे तक राजनगर, वैशाली, वसुंधरा, अशोक नगर, विजय नगर, लोहिया नगर, राज नगर एक्सटेंशन, गोविंदपुरम, इंदिरापुरम, वसुंधरा और साहिबाबाद के विभिन्न इलाकों में दूध को लेकर लोगों में मारामारी का माहौल रहा।

इस बीच गाजियाबाद के जिलाधिकारी डॉ अजय शंकर पांडे ने लोगों से अपील की है कि बिना वजह किसी भी चीज की स्टॉकिंग ना करें। जनता कर्फ्यू के दौरान आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति बहाल रहेगी। आवश्यक वस्तुओं से जुड़ी दुकान बंद नहीं की जाएंगी। सोमवार से भी बाजार में जरूरी सेवाएं और वस्तुएं सामान्य रूप से उपलब्ध रहेंगे। जिलाधिकारी ने लोगों से अपील की कि राशन, दूध, फल, सब्जी, दवाओं और डीजल फ्यूल कि कहीं कोई कमी नहीं है। लिहाजा लोगों को परेशान होकर लाइन लगाने और परेशान होने की कोई आवश्यकता नहीं है।