निर्वाचन आयोग ने तेजस्वी यादव को दिया बड़ा झटका, जदयू के पक्ष में दिया जवाब, पूरी जानकारी

निर्वाचन आयोग ने तेजस्वी यादव को दिया बड़ा झटका, जदयू के पक्ष में दिया जवाब, पूरी जानकारी

Google Image | तेजस्वी यादव

बिहार विधानसभा चुनाव 2020 के परिणाम आने के बाद तेजस्वी यादव ने बड़ा सवाल खडा किया है। तेजस्वी यादव का कहना है कि मतगणना में गड़बड़ हुई है। यह कहते हुए तेजस्वी यादव ने दुबारा चुनाव करने की बात कही है। इस पर बिहार के मुख्य निर्वाचन अधिकारी एचआर श्रीनिवास ने कहा है कि विधानसभा क्षेत्र का चुनाव परिणाम निर्वाचन आयोग द्वारा उल्लेखित प्रक्रिया के अनुसार घोषित किया गया है। चुनाव आयोग ने तेजस्वी के धांधली वाले दावे को खारिज करते हुए जदयू की जीत को क्लीन चिट दे दी है।

श्रीनिवास ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि बिहार विधानसभा की कुल 243 सीटों में से 11 विधानसभा क्षेत्र ऐसे है। जहां जीत का अंतर 1 हजार मतों से कम था। 11 विधानसभा क्षेत्रों में से जदयू ने 04, राजद ने 03, भाजपा, लोजपा, भाकपा और निर्दलीय ने एक-एक सीट जीती है। इन 11 विधानसभा सीटों में से उम्मीदवारों या चुनाव एजेंटों ने छह निर्वाचन क्षेत्रों में वोटों की श्फिर से गिनतीश् कराने की मांग की थी।

उन्होंने कहा कि रिटर्निंग अधिकारियों ने तर्कपूर्ण आदेश पारित किया है। पांच सीटों पर जीत के लिए पुनरीक्षण याचिका को खारिज कर दिया है। नालंदा जिले के हिलसा निर्वाचन क्षेत्र में जीत का अंतर (12 मत) अस्वीकृत डाक मतपत्रों (182) की तुलना में कम होने के कारण फिर से गिनती की याचिका स्वीकार कर ली गई। हिलसा में जदयू के उम्मीदवार को महज 12 वोटों से जीत मिली, जबकि श्अस्वीकार किए गए पोस्टल बैलेटश् की संख्या 182 थी, जबकि पांच निर्वाचन क्षेत्रों- रामगढ़, मटिहानी, भोरे, डेहरी और परबत्ता में जीत का अंतर अस्वीकृत पोस्टल मतपत्र से अधिक था। 

श्रीनिवास ने कहा कि 18 मई, 2019 को ईसीआई द्वारा जारी किए गए नवीनतम निर्देशों के अनुसार, हिलसा के मामले में ऐसा किया गया। उन्होंने कहा कि रिटर्निंग ऑफिसर ने हिलसा में पूरे डाक मतपत्रों की फिर से गिनती की और इस संबंध में एक तर्कपूर्ण आदेश पारित किया गया। एक प्रश्न के उत्तर में, सीईओ ने कहा कि उनका कार्यालय संबंधित दस्तावेज और वीडियोग्राफी की प्रति संबंधित पार्टी पार्टियों को उपलब्ध कराएगा।

अन्य खबरे

Copyright © 2020 - 2021 Tricity. All Rights Reserved.