BIG BREAKING: गाजियाबाद में छप रहे थे 100, 200 और 500 के नकली नोट, मेरठ पुलिस ने मारी रेड

Updated Jun 29, 2020 13:50:43 IST | Rakesh Tyagi

मेरठ पुलिस ने सूचना पर छापेमारी कर मौके से तीन आरोपियों को धर दबोचा। पुलिस ने इनके पास से दो लाख 62 हजार रुपए के नकली नोट बरामद किए हैं।

BIG BREAKING: गाजियाबाद में छप रहे थे 100, 200 और 500 के नकली नोट, मेरठ पुलिस ने मारी रेड
Photo Credit:  Google Images
Fake Currency
Key Highlights
गाजियाबाद में लेजर कलर प्रिंटर से छापी जा रहे थे नकली नोट
गाजियाबाद पुलिस को इस रैकेट की भनक तक नहीं लग पाई थी
मेरठ पुलिस ने छापा मारकर 3 लोगों को गिरफ्तार किया है
इन लोगों के कब्जे से पुलिस ने 2.62 लाख के नकली नोट पकड़े

गाजियाबाद में कलर प्रिंटर के जरिए नकली नोट छापने का गोरख धंधा चल रहा था। लेकिन गाजियाबाद पुलिस को इसकी भनक तक नहीं थी। मेरठ पुलिस ने सूचना पर छापेमारी करके मौके से तीन आरोपियों को धर दबोचा है। पुलिस ने इनके पास से 2.62 लाख रुपए के नकली नोट बरामद किए हैं। इन आरोपियों ने एक लाख से अधिक की रकम मार्केट में खफा दी है। 

दरअसल, मेरठ के खरखौदा थाने के इंस्पेक्टर मनीष बिष्ट की टीम ने हापुड़-बुलंदशहर हाईवे पर तीन आरोपियों को चेकिंग के दौरान गिरफ्तार किया था। पुलिस पूछताछ में पता चला कि आरोपी गाजियाबाद में नकली नोट छापने का धंधा चला रहे हैं। पकड़े गए आरोपियों की पहचान प्रशांत उर्फ विराट, अशोक उर्फ बिट्टू निवासी गंगा टावर कवि नगर गाजियाबाद और रियाज उर्फ राजू निवासी सुदामा पुरी विजय नगर गाजियाबाद के रूप में हुई। पुलिस ने इनकी निशानदेही पर गाजियाबाद में एक फोटोकॉपी की दुकान पर छापेमारी की। जहां कलर प्रिंटर के जरिए नकली नोट छापे जा रहे थे। पुलिस ने मौके से 2 लाख 62 हजार के नकली नोट बरामद किए हैं। पुलिस की जांच पड़ताल में पता चला कि यह आरोपी करीब एक लाख के नकली नोट बाजार में चला चुके हैं। 

कैसे बनाते थे नकली नोट

पुलिस ने बताया यह पहले स्कैनिंग मशीन से नोट स्कैन करते थे। कंप्यूटर में रेसिंग कार के लेजर प्रिंटर से उसकी कलर फोटो  कॉपी निकाल लेते थे। जिसके बाद डाई मशीन के जरिए चमकीले रंग की टेप को बारीक टुकड़ों में काटकर नोट पर चिपका देते थे। इन नक़ली नोटों को बाजार में चला कर छोटा-मोटा सामान खरीद लेते थे। जिससे कि वह आसानी से पकड़े न जा सकें। यह आरोपी 100, 200 और 500 रुपये के नकली नोट छाप रहे थे। 

दिल्ली एनसीआर में खपाए नकली नोट

पुलिस पूछताछ में एक आरोपी ने बताया कि उन्होंने नकली नोट दिल्ली-एनसीआर के विभिन्न जिलों में खपाए हैं। पुलिस ने एक आरोपी को नकली नोटों के साथ पकड़ा था, जो बाजार में खरीदारी करने आया था। 

लॉकडाउन में शुरू किया नकली नोटों का धंधा

पुलिस ने बताया कि पकड़े गए आरोपियों में एक आरोपी प्रशांत उर्फ विराट पूर्व में भी नकली करेंसी के मामले में जेल जा चुका है। गाजियाबाद में उसकी कलर प्रिंटर स्केनर की दुकान है। जेल से छूटने के बाद लॉकडाउन में मंदी के चलते उसने फिर से नकली नोट छापने का धंधा शुरू कर दिया।

गाजियाबाद पुलिस को छापे के बाद लगी भनक

इस पूरे गोरखधंधे के बारे में गाजियाबाद पुलिस को कोई जानकारी नहीं थी। मेरठ पुलिस ने पकड़े गए तीन लोगों से पूछताछ के बाद गाजियाबाद में उनके ठिकाने पर छापा मारा। इस दौरान मेरठ पुलिस ने ही गाजियाबाद पुलिस को जानकारी दी। इसके बाद गाजियाबाद पुलिस के अधिकारी भी आनन-फानन में मौके पर पहुंचे। मेरठ पुलिस गाजियाबाद से बरामद किया गया सामान लेकर मेरठ चली गई है।

Meerut Police, Ghaziabad, Fake Currency, Ghaziabad News, Meerut News, Delhi NCR, Ghaziabd News, SSP Meerut, SSP Ghaziabad, Uttar Pradesh Police, Meerut News, Uttar Pradesh, Uttar Pradesh News, counterfeit currency, counterfeit notes, counterfeit money, counterfeit currency in India, counterfeit notes in India