Greater Noida: सेनेटाइजर की कालाबाजारी और स्टाक करने पर चार कम्पनियों के खिलाफ एफआईआर

Updated Mar 29, 2020 21:22:20 IST | Rakesh Tyagi

ग्रेटर नोएडा में सैनिटाइजर की कालाबाजारी करने पर एक मेडिकल स्टोर संचालक, डिस्ट्रीब्यूटर और निर्माण कंपनी समेत चार कम्पनियों के खिलाफ औषद्यि निरीक्षक ने केस दर्ज कराया है। आरोप है कि संचालक सैनिटाइजर का स्टॉक एकत्रित कर निर्धारित कीमत से अधिक मूल्य पर बिक्री कर रहे थे। सरकार ने दौ सौ मिलीलीटर...

Photo Credit:  Tricity Today
FIR against four companies for black marketing and stocking of sanitizer in Greater Noida

ग्रेटर नोएडा में सैनिटाइजर की कालाबाजारी करने पर एक मेडिकल स्टोर संचालक, डिस्ट्रीब्यूटर और निर्माण कंपनी समेत चार कम्पनियों के खिलाफ औषद्यि निरीक्षक ने केस दर्ज कराया है। आरोप है कि संचालक सैनिटाइजर का स्टॉक एकत्रित कर निर्धारित कीमत से अधिक मूल्य पर बिक्री कर रहे थे। सरकार ने दौ सौ मिलीलीटर सैनिटाइजर की कीमत 100 रुपये निर्धारित की है। इसके बावजूद आरोपी 500 एमएल सैनिटाइजर छह सौ रुपये में बेच रहे थे।
 
गौतमबुद्ध नगर के औषधि निरीक्षक अखिलेश कुमार जैन ने बताया कि पूर्ति निरीक्षक धर्मेंद्र वर्मा के साथ उनकी टीम ने शनिवार की शाम ग्रेटर नोएडा की ऐच्छर मार्केट के मेडिकल स्टोर पर छापेमारी की थी। यहां से 30 बोतल 500 एमएल सेनेटाइजर मिला। जिन पर 600 रुपये मूल्य अंकित था।

इसके अलावा 100 एमएल की 40 शीशी की बरामद की गईं। बिल की एक छाया प्रति उपलब्ध कराई गई, उस पर मैसर्स मोरपंख ए वेंचर ऑफ धींगरा डिस्ट्रीब्यूटर्स का नाम लिखा था। सरकार ने 13 मार्च को दो सौ एमएल सैनिटाइजर की कीमत सौ रुपये निर्धारित कर दी थी। इसके चलते सभी पर आवश्यक वस्तु अधिनियम के अंतर्गत कार्रवाई की गई है।

इस मामले में सैनिटाइजर की कालाबाजारी पर मेडिकल स्टोर संचालक, डिस्ट्रीब्यूटर, निर्माण कंपनी समेत चार आरोपियों के खिलाफ औषद्यि निरीक्षक ने केस दर्ज कराया है।

Black Marketing, Sanitizer, Greater Noida, Noida, DM Noida, DM GB Nagar