प्रदूषण की रोकथाम के लिए गाजियाबाद जिलाधिकारी ने उठाए बड़े कदम

Updated Feb 12, 2020 12:22:59 IST | TriCity Today Correspondent

गाजियाबाद जिलाधिकारी अजय शंकर पांडेय ने अधिकारियों को स्पष्ट निर्देश दिए कि जिले में प्रदूषण की रोकथाम के लिए ठोस कदम उठाएं...

Photo Credit:  Tricity Today
गाजियाबाद जिलाधिकारी अजय शंकर पांडेय

गाजियाबाद जिलाधिकारी अजय शंकर पांडेय ने अधिकारियों को स्पष्ट निर्देश दिए कि जिले में प्रदूषण की रोकथाम के लिए ठोस कदम उठाएं। 

मंगलवार को कलेक्ट्रेट सभागार में जिलाधिकारी अजय शंकर पांडेय ने प्रदूषण रोकथाम को लेकर समीक्षा बैठक की। जिलाधिकारी ने निर्देश दिए कि प्रदूषण की दृष्टि से संवेदनशील माह का इंतजार किए बिना इस दिशा में पूरे साल अलर्ट होकर कार्रवाई करने की योजना बनाई जाए। 

जिलाधिकारी अजय शंकर पांडेय ने निर्देश दिए कि खेती अपशिष्ट का जलाने से रोकने को उसी स्थल पर एकत्र कर अलग ले जाकर प्रबंधन की कार्रवाई सुनिश्चित कराएं। जिले में निमार्णाधीन योजनाएं और पर्यावरण स्वीकृति वाली परियोजनाओं में बिल्ट अप एरिया 20 हजार वर्गमीटर से अधिक हैं। उनमें सड़क निर्माण, माईनिंग,पार्किंग स्थल,अतिक्रमण गतिविधि,डस्ट प्रोन ट्रैफिक को अनिवार्य रूप से एंटी स्मॉग गन की व्यवस्था सुनिश्चित की जाए। प्राइवेट एजेंसी के खिलाफ नगर निगम,जीडीए और आवास एवं विकास परिषद आदि विभागों को करानी होगी। 

सीएंडडीएस वेस्ट कूड़े में मिलाने से रोकने के  लिए नगर पालिका परिषद और नगर पंचायत को सीएंडडी वेस्ट के अस्थाई एकत्र के लिए अलग से स्थल चिन्हित करने के निर्देश दिए। सड़कों के निर्माण स्थल पर पानी का छिड़काव कराने के निर्देश दिए। जिलाधिकारी ने ट्रैफिक जाम की समस्या के निस्तारण के लिए कार्ययोजना तैयार करने के निर्देश दिए। सड़कों को गड्ढ़ा मुक्त करने की कार्रवाई 3 सफ्ताह में सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिए कि संबंधित विभाग अपने-अपने क्षेत्र में डस्ट प्रोन एरिया की इंवेंट्री करते हुए एंटी स्मॉग गन की व्यवस्था सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। बाजार में एंटी स्मॉग गन की कीमत करीब 5 लाख से 15 लाख रुपए तक है। 

जिलाधिकारी ने कहा कि अगले माह में जिले को प्रदूषण मुक्त बनाने के लिए संबंधित विभागों को उक्त कार्रवाई पूरी कराने के निर्देश दिए गए है। ताकि जिले में बढ़ते प्रदूषण को नियंत्रित किया जा सकें। इस मौके पर क्षेत्रीय प्रदूषण नियंत्रण अधिकारी उत्सव शर्मा,जीडीए ओएसडी संजय कुमार, अधिशासी अभियंता अरविंद कुमार,टाउन प्लानर केके गौतम आदि अधिकारी उपस्थित रहे।