नोएडा में बैठकर मुम्बई के लड़के यूरोप-अमेरिका में लगा रहे थे चूना, खुद को बताते थे पुलिस और इंटेलिजेस के अफसर, गिरफ्तार

नोएडा में बैठकर मुम्बई के लड़के यूरोप-अमेरिका में लगा रहे थे चूना, खुद को बताते थे पुलिस और इंटेलिजेस के अफसर, गिरफ्तार

नोएडा में बैठकर मुम्बई के लड़के यूरोप-अमेरिका में लगा रहे थे चूना, खुद को बताते थे पुलिस और इंटेलिजेस के अफसर, गिरफ्तार

Tricity Today | नोएडा में बैठकर मुम्बई के लड़के यूरोप-अमेरिका में लगा रहे थे चूना, खुद को बताते थे पुलिस और इंटेलिजेस के अफसर, गिरफ्तार

नोएडा में बैठकर मुम्बई के लड़के यूरोप-अमेरिका में लगा रहे थे चूना, खुद को बताते थे पुलिस और इंटेलिजेस के अफसर, गिरफ्तार
लॉकडाउन में फर्जी कॉल सेंटर चलाकर ठगी कर रहा गैंग पकड़ा गया, विदेशियों को लगाया चूनाgangaनोएडा पुलिस ने 7 युवकों को गिरफ्तार किया, 5 फरार होने में कामयाब हो गएgangaसारे आरोपी मुम्बई और गुजरात के निवासी हैं, अभी नोएडा के सेक्टर-105 में रह रहे थे

नोएडा पुलिस ने युवकों का एक ऐसा गैंग पकड़ा है, जो लॉकडाउन के दौरान फर्जी कॉल सेंटर चला रहा था। मुंबई के रहने वाले युवक खुद को पुलिस और इंटेलिजेंस के अफसर बताकर लोगों को ब्लैकमेल कर रहे थे। अब तक सैकड़ों लोगों को लाखों रुपए का चूना लगा चुके हैं। पुलिस ने उनके पास से फर्जी आईडी पर हासिल किए गए मोबाइल फोन कनेक्शन, इंटरनेट कॉलिंग और कम्युनिकेशन सिस्टम बरामद किए हैं।

मीडिया सेल ने बताया कि नोएडा के थाना सेक्टर-39 नोएडा पुलिस ने 7 युवकों को गिरफ्तार किया है। युवक लॉकडाउन का उल्लंघन करके फर्जी कॉल सेन्टर चला रहे थे। लोगों के साथ धोखाधड़ी कर रहे थे। अवैध धन अर्जित करने वाला यह गिरोह गिरफ्तार कर लिया गया है। इनके कब्जे से फर्जी कॉल सेन्टर चलाने के लिए प्रयुक्त किए जा रहे उपकरण बरामद किए गए हैं।

थाना सेक्टर-39 पुलिस ने चैकिंग के दौरान सेक्टर-105 में मकान नम्बर सी-213 पर छापा मारा। पुलिस को यहां फर्जी काल सेन्टर चलाने की जानकारी दी गई थी। इस सूचना पर विश्वास करते हुए पुलिस ने दूरसंचार विभाग के सहायक निदेशक जियाउर रहमान को जानकारी दी। पुलिस उन्हें साथ लेकर साथ लेकर गुरुवार को बताए गए पते पर पहुंची। वहां से 7 शातिर युवकों के एक गिरोह को पकड़ा गया है। यह गिरोह फर्जी कॉल सेन्टर चलाकर लोगों के साथ धोखाधड़ी कर रहा था।

ऐसे लगाते थे लोगों को चूना

युवकों से पूछताछ की गयी तो बताया कि इन लोगों का एक गिरोह है। जिसका सरगना धवल उर्फ देवेन्द्र है। यहां पर एक फर्जी काॅल सेन्टर चलाकर लोगों के साथ धोखाधड़ी करते हैं। अवैध धन अर्जित करते हैं। यह लोग शाफ्ट डायलर साफ्टवेयर के माध्यम से विदेशों मे वीओआईपी कॉल करते थे। यूरोप और अमेरिका के लोगों को डराते थे कि आपके सोशल सिक्योरिटी नम्बर से कोई अपराध किया गया है। आप ड्रग्स ट्रैफिकिंग, मनी लॉन्ड्रिंग और वाहन अपराध में आरोपी हैं। युवक अपने आपको विभिन्न पुलिस और इंटेलीजेन्स एजेन्सियों से बताते थे। लोगों से जुर्माने के रूप मे धनराशि वसूल करते थे। इसी बहाने उनके बैंक एकाउन्ट और क्रेडिट कार्ड की डिटेल हासिल कर लेते थे। उससे पैसा निकाल लेते थे।

नोएडा पुलिस ने इन लोगों के खिलाफ मुकदमा अपराध संख्या 283/20 धारा 420, 120बी, 188 आईपीसी, धारा 66-डी आईटी एक्ट और धारा 4, 20, 21 भारतीय तार अधिनियम के तहत पंजीकृत किया गया। 
 
गिरफ्तार किए गए युवक

  1. जुगल सेठी पुत्र गोपाल सेठी, पालीपाटा चाल बैन्ड्रा वेस्ट, थाना खार, जिला अन्धेरी वेस्ट, मुम्बई हाल पता सी-213 सेक्टर-105 नोएडा
  2. निखिल सेठी पुत्र गोला सेठी, पालीपाटा चाल बैन्ड्रा वेस्ट, थाना खार, जिला अन्धेरी वेस्ट
  3. तौफीक कजानी पुत्र इकबाल कजानी, फ्लैट नम्बर 204 कंचनजंघा सोसाइटी, कस्टम रोड, चालावापी, थाना वापी, जिला वलसाड़, गुजरात
  4. हिमेश बान्देकर पुत्र चन्द्राकांत बांदेकर, माथुरू पिनू छाया पाटिल पाडा, खार दाण्डा, थाना खार, जिला अन्धेरी वेस्ट, मुम्बई
  5. एडवर्ड गोम्स पुत्र मोरिलो गोम्स, मकान नम्बर 1, तोमेस हाउस, यशवन्त नगर, थाना बकोला, जिला अन्धेरी, शान्ताक्रूज, मुम्बई
  6. सैफ सैय्यद पुत्र इरफान सैय्यद, 78-ए रूम नम्बर 3, गोविन्द आश्रय बिल्डिग, खार दाण्डा, थाना खार, जिला अन्धेरी, मुम्बई
  7. गणेश ओम प्रकाश शर्मा पुत्र ओम प्रकाश शर्मा, खार दाण्डा, बीपा गली, जिला अन्धेरी, मुम्बई

फरार अभियुक्तों का विवरण

  1. धवल उर्फ देवेन्द्र 
  2. राकेश उर्फ गूरूदेव केसरी, बिहार
  3. गवीन एन्थोनी पुत्र एन्थोनी मिरान्डा, सैंट एन्थोनी, शांताक्रूज, ईस्ट मुम्बई
  4. प्रवीन
  5. अभिनाम     

बरामद सामान

  • 25 डेस्कटॉप
  • 23 सीपीयू
  • 23  की-बोर्ड
  • 23  माउस
  • 25 हैड फोन
  • 11 स्विच
  • 2 ब्राडबैन्ड
  • 2 वाई-फाई राउटर
  • 75 छोटी बड़ी केबल
  • एक आधार कार्ड
  • एक पासपोर्ट
  • 2 बैंक पासबुक
  • एक आईकार्ड स्टेट बैंक ऑफ कुवैत
  • एक मोटर साईकिल पल्सर न0 डीएल 10एसए 6658 

अन्य खबरे

Copyright © 2020 - 2021 Tricity. All Rights Reserved.