स्मार्ट पुलिसिंग से विश्वास पैदा होता और विश्वास निवेश को बढ़ावा देता है : योगी आदित्यनाथ

Updated Feb 09, 2020 18:38:34 IST | Tricity Today Correspondent

हमारी दक्ष और स्मार्ट पुलिसिंग लोगों के मन में एक विश्वास पैदा करती है और यह विश्वास निवेश को प्रोत्साहित करता है। इसी उत्तर प्रदेश से पहले निवेशक...

Photo Credit:  TriCity Today
Yogi Adityanath

हमारी दक्ष और स्मार्ट पुलिसिंग लोगों के मन में एक विश्वास पैदा करती है और यह विश्वास निवेश को प्रोत्साहित करता है। इसी उत्तर प्रदेश से पहले निवेशक भागते थे और आज इसी प्रदेश में ढाई लाख करोड़ का निवेश कराने में हम सक्षम हुए हैं। रविवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गोरखपुर में आयोजित कार्यक्रम में यह बात कही। मुख्यमंत्री ने इस मौके पर पुलिस सुदृढ़ीकरण से जुड़ी योजनाओं का शिलान्यास भी किया।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा, 2021 में हम गोरखपुर फर्टिलाइजर कारखाने में उत्पादन कार्य प्रारंभ करवाएंगे। तब तक यहां पर फर्टिलाइजर की टाउनशिप तो होगी ही, SSB, UP पुलिस का ट्रेनिंग सेंटर और PAC महिला वाहिनी का भी गठन हो चुका होगा। इस बात पर ध्यान दिया गया है कि आधी आबादी को भी नेतृत्व मिले और इसलिए यह प्रयास किया जा रहा है कि सभी पुलिस भर्तियों में 20% महिलाएं अवश्य हों। इसी योजना को प्रोत्साहन देने हेतु हमने PAC की तीन अतिरिक्त महिला वाहिनियों का गठन किया है।

सीएम ने कहा, हमारी दक्ष और स्मार्ट पुलिसिंग लोगों के मन में एक विश्वास पैदा करती है और यह विश्वास निवेश को प्रोत्साहित करता है। इसी उत्तर प्रदेश से पहले निवेशक भागते थे और आज इसी प्रदेश में ढाई लाख करोड़ का निवेश कराने में हम सक्षम हुए हैं। जब यह सारे कार्य रेंज स्तर पर होते हुए दिखाई देंगे तो साइबर क्राइम नहीं होने और फॉरेंसिक रिपोर्ट की उपलब्धता से अपराधियों को सजा भी समयबद्ध ढंग से मिलेगी। यह नई दिशा में किया गया प्रयास है।

योगी आदित्यनाथ बोले, हमारे युवा आज के हिसाब से प्रशिक्षित हो सकें, वे अपने जीवन को संवारने की दिशा में और अपनी रुचि के अनुसार इस क्षेत्र में कार्य कर सकें, इसके लिए हम लोगों ने उत्तर प्रदेश में पुलिस एंड फॉरेंसिक यूनिवर्सिटी बनाने का निर्णय लिया है। मैंने सभी विश्वविद्यालयों से कहा है कि इस विषय के कुछ अंशों को अपने पाठ्यक्रमों में स्वीकार करें। विद्यार्थियों को हम स्कूल से ही इस विषय के बारे में कराएंगे तो उनकी रुचि बढ़ेगी। फॉरेंसिक यूनिवर्सिटी उनके मार्गदर्शन के लिए सदैव तैयार रहेगी।