Ghaziabad: तस्कर को छोड़ने पर ट्रॉनिका सिटी एसएचओ लाइन हाजिर, वाहन चोर की मदद कर रहा सिपाही सस्पेंड

Ghaziabad: तस्कर को छोड़ने पर ट्रॉनिका सिटी एसएचओ लाइन हाजिर, वाहन चोर की मदद कर रहा सिपाही सस्पेंड

Google Image | Kalanidhi Naithani IPS

बिना कार्रवाई किए तस्कर को ट्रॉनिका सिटी थाने से छोड़ने पर गिरी गाजgangaवाहन चोर की मदद करने वाला कॉन्स्टेबल पहले लाइन हाजिर किया गया थाgangaएसएसपी ने कहा- भ्रष्ट, कामचोर और अपराधियों की मदद करने वाले पुलिसकर्मी नपेंगेgangaपिछले महीने एसएसपी ने 20 पुलिसकर्मियों को थानों से पुलिस लाइन भेजा था

गाजियाबाद में ट्रॉनिका सिटी थाना पुलिस ने नशीले पदार्थों की तस्करी करने वाले को गिरफ्तार किया और फिर बिना कार्रवाई किए उसे छोड़ दिया गया। इस मामले को गाजियाबाद के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक कलानिधि नैथानी ने गम्भीरता से लिया और ट्रॉनिका सिटी थाना प्रभारी रमेश चंद्र राणा को लाइन हाजिर कर दिया है। वहीं, एसएसपी ने वाहन चोर की मदद करने वाले लाइन हाजिर चल रहे सिपाही सतबीर सिंह को निलंबित कर दिया है। लाइन हाजिर किए गए थाना प्रभारी रमेश चंद्र राणा के खिलाफ जांच एसपी ग्रामीण नीरज कुमार जादौन को सौंपी गई है। 

एसएसपी ने बताया कि उन्हें गुप्त सूचना मिली थी कि ट्रॉनिका सिटी पुलिस ने नशीले पदार्थ की तस्करी करने वाले को रंगे हाथ पकड़ा था, लेकिन बिना कार्रवाई के ही उसे छोड़ दिया है। अब मुरादनगर के थाना प्रभारी ओम प्रकाश सिंह को ट्रॉनिका सिटी थाना प्रभारी बनाया गया है। जबकि, कविनगर थाने में अतिरिक्त इंस्पेक्टर अमित कुमार को मुरादनगर थाना प्रभारी बनाया गया है। एसएसपी कलानिधि नैथानी ने बताया कि वाहन चोर की मदद करने के आरोप में सिपाही सतबीर सिंह को निलंबित किया गया है। जांच में पुष्टि होने के बाद यह कार्रवाई की गई है। आरोपित सिपाही को पूर्व में लाइन हाजिर किया गया था। 

एसएसपी कलानिधि नैथानी ने बताया कि सिपाही सतबीर सिंह इंदिरापुरम थाने में तैनात था। उन्हें शिकायत मिली कि सिपाही अलीगढ़ जनपद के टप्पल क्षेत्र के गांव बुड़ाका निवासी वाहन चोर सुशील की मदद करता है। चोरी के बाद वह उसे बचा लेता था। पुलिस की कार्रवाई करने की उसे सूचना देता था। शिकायत के अधार पर जिले के 20 अन्य पुलिसकर्मियों के साथ सिपाही सतबीर को भी लाइन हाजिर किया गया था। सिपाही के खिलाफ जांच कराई गई। जांच रिपोर्ट में पुष्टि होने पर सिपाही सतबीर सिंह को निलंबित किया गया है। एसएसपी ने कहा कि भ्रष्टाचार, कामकाज में लापरवाही और अपराधियों की मदद करने वाले पुलिसकर्मियों को बख्शा नहीं जाएगा। ऐसे पुलिस कर्मियों के खिलाफ कठोर कार्रवाई की जाएगी।

अन्य खबरे

Copyright © 2019-2020 Tricity. All Rights Reserved.