यमुना प्राधिकरण के सीईओ डॉ अरुणवीर सिंह की एक साल के लिए फिर नियुक्ति

यमुना प्राधिकरण के सीईओ डॉ अरुणवीर सिंह की एक साल के लिए फिर नियुक्ति

Google Image | Dr Arunvir Singh IAS

यमुना एक्सप्रेस वे औद्योगिक विकास प्राधिकरण के मुख्य कार्यपालक अधिकारी डॉ अरुणवीर सिंह को उत्तर प्रदेश सरकार ने एक वर्ष के लिए फिर नियुक्ति कर दी है। डॉक्टर अरुण वीर सिंह पिछले साल 30 जून को सेवानिवृत्त हो गए थे। जेवर एयरपोर्ट की स्थापना से जुड़े कामकाज को पूरा करवाने के लिए उनके कामकाज को अपरिहार्य मानते हुए उत्तर प्रदेश सरकार ने उन्हें पुनः एक वर्ष के लिए नियुक्ति दी थी। अब एक बार फिर उत्तर प्रदेश सरकार ने 31 जुलाई 2021 तक के लिए डॉ अरुण वीर सिंह को दूसरी बार नियुक्ति दी है।

डॉक्टर अरुण वीर सिंह यमुना एक्सप्रेस वे औद्योगिक विकास प्राधिकरण के मुख्य कार्यपालक अधिकारी हैं और नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट अथॉरिटी लिमिटेड के भी सीईओ हैं। पिछले साल 30 जून 2019 को वह सेवानिवृत्त हो गए थे, लेकिन उत्तर प्रदेश सरकार ने उनके उत्कृष्ट कार्य और ईमानदारी से प्रभावित होकर एक वर्ष के लिए पुणे सेवा नियुक्त किया था। उनका यह कार्य काल 15 जुलाई को समाप्त होने वाला है। उससे पहले ही उत्तर प्रदेश सरकार ने उन्हें अगले एक वर्ष के लिए दूसरी बार नियुक्ति दे दी है।

उत्तर प्रदेश सरकार के  एक सीनियर अफसर ने कहा, जेवर अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे के लिए भूमि अधिग्रहण का काम पूरा हो चुका है। अगले 1 से 2 महीने में शिलान्यास करवा लिया जाएगा। केंद्र सरकार और राज्य सरकार से जुड़ी लगभग सभी अनापत्तियां नायल और ज्यूरिख इंटरनेशनल एयरपोर्ट को मिल चुकी हैं। जेवर एयरपोर्ट को बनाने की जिम्मेदारी ज्यूरिख इंटरनेशनल एयरपोर्ट को दी गई है। कोविड-19 के कारण विश्वव्यापी महामारी के चलते पिछले 3 महीनों से यह काम रुका हुआ है। अब उत्तर प्रदेश सरकार ने अरुण वीर सिंह को एक और वर्ष के लिए यमुना एक्सप्रेस वे औद्योगिक विकास प्राधिकरण और जेवर इंटरनेशनल एयरपोर्ट अथॉरिटी लिमिटेड का सीईओ नियुक्त कर दिया है। उन्हें इस परियोजना का शुरुआत से पूरा अनुभव है।

अन्य खबरे

Copyright © 2019-2020 Tricity. All Rights Reserved.