BIG NEWS: ग्रेटर नोएडा के इन 6 गैंगस्टर की आने वाली है शामत, यूपी सरकार ने जारी की लिस्ट

Updated Jul 04, 2020 23:50:56 IST | Mayank Tawer

गौतम बुद्ध नगर में सबसे पहला नाम सुंदर भाटी उर्फ़ नेताजी का है। सुंदर भाटी अभी हमीरपुर जिला जेल में बंद है। सुंदर भाटी के खिलाफ बड़ी संख्या में मुकदमे दर्ज हैं। हालांकि, कई मुकदमों

BIG NEWS: ग्रेटर नोएडा के इन 6 गैंगस्टर की आने वाली है शामत, यूपी सरकार ने जारी की लिस्ट
Photo Credit:  Tricity Today
ग्रेटर नोएडा के इन 6 गैंगस्टर की आने वाली है शामत
Key Highlights
यूपी एसटीएफ की तैयार की गई रिपोर्ट के आधार पर 33 माफियाओं की लिस्ट जारी
इनमें सबसे ज्यादा 6 कुख्यात अपराधी गौतम बुध नगर के निवासी हैं
सुंदर भाटी और अनिल दुजाना गैंग के तीन-तीन अपराधियों को लिस्ट में शामिल
सरकार ने कानपुर कांड के बाद माफियाओं पर लगाम लगाने का आदेश दिया है

कानपुर कांड के बाद उत्तर प्रदेश सरकार ने यूपी के टॉप मोस्ट माफिया और गैंगस्टर पर लगाम लगाने की योजना तैयार कर ली है। उत्तर प्रदेश पुलिस ने शनिवार को यूपी के 33 माफियाओं की सूची जारी की है। इनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। यह सूची यूपी एसटीएफ के इनपुट और रिपोर्ट के आधार पर डीजीपी कार्यालय से जारी की गई है। इनमें सबसे ज्यादा गौतम बुध नगर के 6 गैंगस्टर शामिल हैं। गौतम बुध नगर पुलिस कमिश्नरेट ने लखनऊ से आदेश मिलने के तुरंत बाद एक्शन शुरू कर दिया है। शनिवार को सुंदर भाटी की संपत्तियों को गिराया गया है। वहीं, उसके भतीजे अनिल भाटी पर ₹25000 का इनाम घोषित कर दिया गया है।

सुंदर भाटी

गौतम बुध नगर में सबसे पहला नाम सुंदर भाटी उर्फ़ नेताजी का है। सुंदर भाटी अभी हमीरपुर जिला जेल में बंद है। सुंदर भाटी के खिलाफ बड़ी संख्या में मुकदमे दर्ज हैं। हालांकि, कई मुकदमों में सुंदर भाटी को गवाह और सबूत नहीं मिलने के कारण बड़ी भी किया गया है, लेकिन गौतम बुध नगर में संगठित अपराध का जनक सुंदर भाटी को माना जाता है। शनिवार की शाम गौतम बुध नगर पुलिस ने सुंदर भाटी की अवैध संपत्तियों को गिराया है। फोर्स उसके गांव घंघौला जेसीबी मशीनें लेकर पहुंची और तोड़फोड़ की गई है। 

अनिल भाटी

दूसरा नाम सुंदर भाटी के भतीजे अनिल भाटी का है। अनिल भाटी पर शनिवार को गौतम बुध नगर के पुलिस कमिश्नर आलोक सिंह ने ₹25000 का इनाम घोषित किया है। एक ट्रांसपोर्टर से रंगदारी मांगने के मामले में वह फरार चल रहा है। करीब डेढ़ साल पहले अनिल भाटी ने भारतीय जनता पार्टी के नेता शिव कुमार की हत्या की थी। उसे हाई कोर्ट से जमानत नहीं मिली थी। लेकिन सुप्रीम कोर्ट से जमानत हासिल करके वह जेल से बाहर आ गया था। पुलिस का कहना है कि आजकल सुंदर भाटी के पूरे गैंग को अनिल भाटी ऑपरेट कर रहा है।

सिंह राज भाटी

तीसरा नाम सुंदर भाटी के भाई सिंह राज भाटी का है। वह अभी फैजाबाद जेल में बंद है। सिंह राज, सुंदर भाटी का रिश्ते में भाई लगता है। सिंह राज ग्रेटर नोएडा में दनकौर क्षेत्र के गांव रामपुर माजरा का निवासी है और वह भी सुंदर भाटी के लिए काम करता है। पुलिस ने करीब 2 साल पहले उसे गिरफ्तार करके जेल भेजा था। सिंह राज की गिरफ्तारी के वक्त उसके पास से बुलेट प्रूफ फॉर्च्यूनर कार और एके-47 बरामद की गई थी।

अंकित गुर्जर

लिस्ट में गौतम बुध नगर का चौथा गैंगस्टर अंकित गुर्जर है। अंकित गुर्जर जारचा कोतवाली क्षेत्र के रानोली लतीफपुर गांव का रहने वाला है। फिलहाल उसे महाराजगंज की जिला जेल में रखा गया है। अंकित गुर्जर के खिलाफ करीब 30 मुकदमे दर्ज हैं। उसे सुंदर भाटी गैंग का विरोधी माना जाता है। अंकित गुर्जर अब तक दो बार पुलिस की हिरासत से फरार भी हो चुका है। अंकित गुर्जर को अभी महाराजगंज जेल में रखा गया है।

अमित कसाना

गौतम बुध नगर से ताल्लुक रखने वाला पांचवा गैंगस्टर अमित कसाना है। हालांकि, अमित कसाना गाजियाबाद जिले में लोनी कोतवाली क्षेत्र के रिसतल गांव का रहने वाला है, लेकिन अमित कसाना फिलहाल गाजियाबाद की बजाय गौतम बुध नगर जिले में सक्रिय है। वह अंकित गुर्जर का रिश्तेदार है। इस तरह लिस्ट में सबसे ज्यादा छह गैंगस्टर गौतम बुध नगर से ताल्लुक रखते हैं। अमित कसाना के खिलाफ भी करीब एक दर्जन मुकदमे गाजियाबाद और गौतम बुध नगर के थानों में दर्ज हैं। उसकी हिस्ट्रीशीट दोनों जिलों में है।

अनिल दुजाना

सुंदर भाटी के विरोधी गैंग का लीडर अनिल दुजाना उर्फ़ अनिल नागर भी उत्तर प्रदेश पुलिस की हिट लिस्ट में शामिल है। अनिल दुजाना ग्रेटर नोएडा के बादलपुर थाना क्षेत्र में दुजाना गांव का रहने वाला है। अनिल दुजाना पर करीब 50 मुकदमे दर्ज हैं। जिनमें हत्या, हत्या का प्रयास, डकैती, लूट, बलवा, रंगदारी, अपहरण, गैंगस्टर एक्ट, गुंडा एक्ट और एनएसए जैसे मामले शामिल हैं। अनिल दुजाना को अभी महाराजगंज जिला कारागार में रखा गया है। अनिल दुजाना गौतम बुध नगर में जिला पंचायत का चुनाव लड़ चुका है। वह चुनाव जीत गया था। गौतम बुध नगर में बिल्डरों प्रॉपर्टी डीलर और उद्यमियों से रंगदारी वसूल करने के लिए अनिल दुजाना कुख्यात है।

UP Police, UP STF, DGP UP Police, Kanpur encounter, Greater Noida, Greater Noida News, UP Police, Sunder Bhati Gangster, Anil Dujana Gangster, Amit Kasana Gangster, Ankit Gurjar Gangster, Anil Bhati Gangster, Gautam Buddh Nagar Police, GB Nagar Police, Noida Police, Ghaziabad Police