भाजपा की राष्ट्रीय कार्यकारिणी में उत्तर प्रदेश का वर्चस्व, 12 लोगों को मिली जिम्मेदारियां

Updated Sep 26, 2020 17:06:45 IST | Rakesh Tyagi

भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा ने शनिवार को दोपहर बाद अपनी राष्ट्रीय कार्यकारिणी की घोषणा की है। जिसमें उत्तर प्रदेश के लोगों को लगभग...

भाजपा की राष्ट्रीय कार्यकारिणी में उत्तर प्रदेश का वर्चस्व, 12 लोगों को मिली जिम्मेदारियां
Photo Credit:  Tricity Today
भाजपा की राष्ट्रीय कार्यकारिणी में उत्तर प्रदेश का वर्चस्व

भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा ने शनिवार को दोपहर बाद अपनी राष्ट्रीय कार्यकारिणी की घोषणा की है। जिसमें उत्तर प्रदेश के लोगों को लगभग हर पद पर जिम्मेदारी सौंपी गई है। यूपी के कई सांसदों, संगठन में रह चुके पदाधिकारी और संघ से जुड़े लोगों को महत्वपूर्ण स्थान मिले हैं। राष्ट्रीय उपाध्यक्ष महामंत्री, संगठन मंत्री, मंत्री और प्रवक्ता समेत मोर्चा में उत्तर प्रदेश के पदाधिकारियों को तरजीह दी गई है।

धौरहरा की सांसद रेखा वर्मा को राष्ट्रीय उपाध्यक्ष बनाया

जगत प्रकाश नड्डा ने अपनी टीम में देश भर से 12 लोगों को राष्ट्रीय उपाध्यक्ष मनोनीत किया है। इनमें छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री डॉ.रमन सिंह, राजस्थान की पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे सिंधिया, बिहार से सांसद और पूर्व केंद्रीय कृषि मंत्री राधामोहन सिंह, उड़ीसा से पूर्व सांसद और मंत्री बैजयंत जय पांडा, झारखंड के पूर्व मुख्यमंत्री रघुवर दास, पश्चिम बंगाल में तृणमूल कांग्रेस छोड़कर भारतीय जनता पार्टी में आए मुकुल रॉय, झारखंड से सांसद अन्नपूर्णा देवी, गुजरात से सांसद डॉ.भारती बेन बिशाल, तेलंगाना से डीके अरूणा, नागालैंड से एम चौबा एओ और केरल से अब्दुल्ला कुट्टी को शामिल किया गया है। इनके साथ उत्तर प्रदेश से भारतीय जनता पार्टी की सांसद रेखा वर्मा को उपाध्यक्ष बनाया गया है। रेखा वर्मा अभी धौरहरा लोकसभा सीट से भारतीय जनता पार्टी की सांसद है।

अरुण सिंह एक बार फिर राष्ट्रीय महामंत्री बनाए गए

जगत प्रकाश नड्डा की नई टीम में 8 राष्ट्रीय महामंत्री हैं। इनमें राजस्थान से सांसद भूपेंद्र यादव, मध्य प्रदेश से कैलाश विजयवर्गीय, दिल्ली से सांसद दुष्यंत कुमार गौतम, आंध्र प्रदेश से डी पुरंदेश्वरी हैं। पुरंदेश्वरी पिछले लोकसभा चुनाव के दौरान कांग्रेसी छोड़कर भारतीय जनता पार्टी में शामिल हुई थीं। वह मनमोहन सिंह सरकार में केंद्रीय मंत्री भी थीं। कर्नाटक से विधायक सीटी रवि को महामंत्री बनाया गया है। पंजाब से यह जिम्मेदारी तरुण चुग को दी गई है। आसाम से सांसद दिलीप सैकिया भी महामंत्री बनाए गए हैं। इनके साथ उत्तर प्रदेश से राज्यसभा के सांसद अरुण सिंह को एक बार फिर महामंत्री जैसी बड़ी जिम्मेदारी दी गई है। आपको बता दें कि नई कार्यकारिणी की घोषणा भी अरुण सिंह नहीं की है। अरुण सिंह पिछली कार्यकारिणी में बेहद कद्दावर महामंत्री थे। उनका दबदबा बरकरार रखा गया है।

लखनऊ से शिव प्रकाश को सह संगठन महामंत्री नियुक्त किया गया

भारतीय जनता पार्टी के संगठन और राजनीति पर पकड़ रखने वाले लोग जानते हैं कि पार्टी में संगठन महामंत्री और सह संगठन महामंत्री बड़े ही महत्वपूर्ण पद माने जाते हैं। इस बार जगत प्रकाश नड्डा ने बीएल संतोष को राष्ट्रीय संगठन महामंत्री नियुक्त किया है। बीए संतोष दिल्ली से ताल्लुक रखते हैं। इनके साथ वी सतीश, सौदान सिंह और शिव प्रकाश को सह संगठन महामंत्री नियुक्त किया है। वी सतीश मुंबई, सौदान सिंह रायपुर और शिव प्रकाश लखनऊ से हैं। लिहाजा, इस महत्वपूर्ण जिम्मेदारी में भी उत्तर प्रदेश का ध्यान रखा गया है।

विनोद सोनकर और हरीश द्विवेदी राष्ट्रीय मंत्री बने हैं

भारतीय जनता पार्टी की नई राष्ट्रीय कार्यकारिणी में 13 लोगों को राष्ट्रीय मंत्री जैसा जिम्मेदार पद सौंपा गया है। इनमें महाराष्ट्र से विनोद तावड़े, उड़ीसा से विश्वेश्वर टूडू, आंध्र प्रदेश से सत्या कुमार, महाराष्ट्र से सुनील देवधर, दिल्ली से अरविंद मेनन, महाराष्ट्र से पंकजा मुंडे को राष्ट्रीय मंत्री नियुक्त किया गया है। आपको बता दें कि विश्वेश्वर टूडू सांसद हैं। पंकजा मुंडे अभी भारतीय जनता पार्टी के युवा मोर्चा की राष्ट्रीय अध्यक्ष थीं। मध्य प्रदेश से ओम प्रकाश धुर्वे, पश्चिम बंगाल से अनुपम हाजरा, जम्मू कश्मीर से डॉक्टर नरेंद्र सिंह, महाराष्ट्र से विजया रहाटकर और राजस्थान से डॉ.अलका गुर्जर को राष्ट्रीय मंत्री नियुक्त किया गया है। इन 11 लोगों के साथ उत्तर प्रदेश से सांसद विनोद सोनकर और सांसद हरीश द्विवेदी को राष्ट्रीय मंत्री बनाया गया है। आपको बता दें कि हरीश द्विवेदी दो बार से लगातार बस्ती से सांसद हैं। वे उत्तर प्रदेश में भारतीय जनता पार्टी युवा मोर्चा के अध्यक्ष भी रह चुके हैं। इस श्रेणी के पदाधिकारियों में उत्तर प्रदेश के मुकाबले केवल महाराष्ट्र आगे है। महाराष्ट्र से 3 लोगों को राष्ट्रीय मंत्री बनाया गया है।

कोषाध्यक्ष, आईटी सेल और किसान मोर्चा यूपी के खाते में आए

जगत प्रकाश नड्डा ने राष्ट्रीय कोषाध्यक्ष की जिम्मेदारी राजेश अग्रवाल को दी है। राजेश अग्रवाल उत्तर प्रदेश में एक जाने-माने कारोबारी हैं और लंबे अरसे से पार्टी में विभिन्न पदों पर काम कर रहे हैं। नेशनल आईटी सेल और सोशल मीडिया का प्रभारी एक बार फिर अमित मालवीय को बनाया गया है। अमित मालवीय भी उत्तर प्रदेश से हैं। किसान मोर्चा का राष्ट्रीय अध्यक्ष फतेहपुर से सांसद राजकुमार चाहर को नियुक्त किया गया है। इस तरह यह तीनों महत्वपूर्ण जिम्मेदारियां भी उत्तर प्रदेश के नेताओं को सौंपी गई हैं। इस वक्त पूरे देश भर में किसान आंदोलनरत हैं। नरेंद्र मोदी सरकार की ओर से संसद में लाए गए विधेयकों की खिलाफत की जा रही है। लिहाजा, राजकुमार चाहर को दी गई जिम्मेदारी अपने आप में महत्वपूर्ण हो जाती है।

चार राष्ट्रीय प्रवक्ता उत्तर प्रदेश से नियुक्त किए गए

राष्ट्रीय अध्यक्ष ने 23 नेताओं को मुख्य प्रवक्ता और राष्ट्रीय प्रवक्ता की जिम्मेदारी सौंपी है। इनमें चार लोग उत्तर प्रदेश से हैं। राज्यसभा के सांसद डॉ.सुधांशु त्रिवेदी को राष्ट्रीय प्रवक्ता नियुक्त किया गया है। समाजवादी पार्टी छोड़कर भारतीय जनता पार्टी में शामिल हुए गौरव भाटिया को एक बार फिर राष्ट्रीय प्रवक्ता की जिम्मेदारी सौंपी गई है। हाल ही में उत्तर प्रदेश से राज्यसभा पहुंचे सैयद जफर इस्लाम भी राष्ट्रीय प्रवक्ता की जिम्मेदारी संभालेंगे। जाने-माने चार्टर्ड अकाउंटेंट गोपाल कृष्ण अग्रवाल को भी राष्ट्रीय प्रवक्ता नियुक्त किया गया है। गोपाल कृष्ण अग्रवाल नोएडा में रहते हैं। हालांकि, उन्हें दिल्ली के कोटे में दर्शाया गया है। इसके अलावा अनिल बलूनी को मुख्य प्रवक्ता और मीडिया प्रभारी नियुक्त किया गया है। एमएलसी संजय मयूख सह मीडिया प्रभारी बनाए गए हैं। संबित पात्रा, शाहनवाज हुसैन, राजीव प्रताप रूडी, नलिन कोहली, राजीव चंद्रशेखर, टॉम वडक्कन, संजू वर्मा, इकबाल सिंह लालपुरा, सरदार आरपी सिंह, पूर्व केंद्रीय मंत्री राज्यवर्धन सिंह राठौर, सांसद अपराजिता सारंगी, सांसद हिना गावित, गुरु प्रकाश, ममहोन लूमो किकोन, नूपुर शर्मा, राजू बिष्ट और केके शर्मा को प्रवक्ता नियुक्त किया गया है।

JP Nadda, National BJP, Rekha Verma, Arun Singh, Vinod Sonkar, Harish Dwivedi